ताज़ा खबर
 

कैसा होगा लॉकडाउन का चौथा चरण, क्या मिल सकती हैं छूट?

सोमवार से लॉकडाउन 4.0 लागू होने वाला है। किस राज्य उमें क्या रियायतें मिल सकती हैं, आइए जानते हैं।

Author नई दिल्ली | Updated: May 17, 2020 9:45:41 am
Coronavirus Lockdown 5.0 in India: 1 जून से शुरू होगा अनलॉक-1 (indian express file)

कोरोना वायरस के खतरे को काबू करने के लिए देश में चौथे चरण का लॉकडाउन 17 मई के बाद से लगना है। चौथे चरण का लॉकडाउन या Lockdown 4.0 दो हफ्तों का हो सकता है। यानी अगर ऐसा हुआ, तो देश में लॉकडाउन 31 मई तक रहेगा। हालांकि, इस दौरान रियायतें और राहत भी दी जाएंगी।

माना जा रहा है कि पब्लिक ट्रांस्पोर्ट, रेस्त्रां और शॉपिंग मॉल्स को भी खोलने की अनुमति दी जा सकती है, पर कड़ी शर्तों के साथ। ऑटो रिक्शा, कैब एग्रीगेटर्स को दो यात्रियों को ले जाने की शर्त के साथ गतिविधियां जारी रखने की मंजूरी दी जा सकती है।

Coronavirus Live update: यहां पढ़ें कोरोना वायरस से जुड़ी सभी लाइव अपडेट….

हालांकि, रेड/कंटेनमेंट जोन्स में मेट्रो सेवाएं नहीं मिलेंगी। फ्लाइट्स भी चलाई जा सकती हैं, पर ये चीज राज्य सरकारों पर भी निर्भर करेगी। उड़ान जहां से शुरू होगी और जहां तक होगी, उन दोनों ही राज्यों को इसके लिए राजी होना होगा, तभी यह संभव होगा।

बता दें कोरोना का प्रकोप थमने का नाम नहीं ले रहा है और बहुत तेजी से फैल रहा है। भारत में कोरोनावायरस के मामले शनिवार तक 85 हजार का आंकड़ा पार कर चुके हैं। देश में अब 52 हजार से भी ज्यादा एक्टिव केस हैं, जबकि 2753 लोगों की मौत हुई है। एक अच्छी खबर यह है कि अब तक कुल मरीजों में से 30 फीसदी से ज्यादा यानी करीब 30 हजार लोग ठीक हो कर घर लौट चुके हैं। पिछले 24 घंटे में ही 2277 मरीज डिस्चार्ज किए गए हैं, जो कि अब तक का रिकॉर्ड है।

Live Blog

Highlights

    22:06 (IST)16 May 2020
    लॉकडाउन के दौरान सड़क दुर्घटनाओं में अब तक 368 लोगों की हो चुकी मौत

    राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन लागू होने के बाद से घर लौटने वाले प्रवासी मजदूरों का सड़कों पर हुजूम उमड़ पड़ा। लेकिन घर पहुंचने से पहले बीच रास्ते में ही उनमें से कई को कभी वाहनों ने रौंद दिया, कभी उनके वाहन पलट गये या दो गाड़ियों के बीच टक्कर में उनकी मौत हो गई, या कभी पटरियों पर रेलगाड़ी से कट कर मौत हो गई। प्रवासी मजदूरों की असामयिक मौत होने का यह सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। देश में सड़क हादसों में कमी लाने पर काम कर रहे गैर-लाभकारी संगठन सेव लाइफ फाउंडेशन के अनुसार 25 मार्च को लॉकडाउन शुरू होने के बाद से 16 मई सुबह 11 बजे तक लगभग 2,000 सड़क दुर्घटनाएं हुई हैं, जिनमें 368 लोगों की मौत हुई है। इनमें अपने घरों को लौट रहे 139 प्रवासी, आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति करने वाले 27 लोग और 202 अन्य लोग शामिल हैं।

    21:31 (IST)16 May 2020
    कौन-कौन 'जल्दी' चालू करना चाहता है शहर?

    कोरोना के तेजी बढ़ते संक्रमण के मद्देनजर देश में लॉकडाउन लागू किया गया है। इसके दो चरण बीत चुके हैं और तीसरा जारी है। सोमवार से लॉकडाउन 4.0 लागू होने वाला है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसी सप्ताह के शुरू में राज्यों से कहा था कि वे लॉकडाउन 4.0 के लिए अपनी रणनीतियों पर सुझाव भेजें। उन्होंने कहा था कि नए नियम पहले से साझा किए जाएंगे, इस चरण में लोगों को और अधिक रियायतें मिलेंगी। हालांकि, इसमें भी स्कूल, कॉलेज, मॉल और सिनेमाघर खोलने की इजाजत नहीं होगी। साथ ही गैर-जरूरी सामानों की डिलीवरी भी शुरू हो सकती है।

    आंध्र प्रदेश, केरल, कर्नाटक, गुजरात, पंजाब और दिल्ली आर्थिक गतिविधियों के अधिकांश भाग को फिर से खोलना चाहते हैं। वहीं प्रवासियों की वापसी और कोविद -19 के तेजी से फैलते प्रसार को देखते हुए बिहार, झारखंड और ओडिशा सख्त लॉकडाउन जारी रखना चाहते हैं।

    20:45 (IST)16 May 2020
    लॉकडाउन: रेलवे ने 1,074 श्रमिक ट्रेन चलाईं, 14 लाख प्रवासियों को मंजिल तक पहुंचाया

    भारतीय रेलवे ने एक मई से अब तक 1,074 श्रमिक विशेष ट्रेनों का परिचालन किया। इनसे लॉकडाउन के कारण देश के विभिन्न हिस्सों में फंसे 14 लाख से अधिक प्रवासी श्रमिकों को उनके गृह राज्य पहुंचाया गया है। रेलवे ने शनिवार को यह जानकारी दी। शुक्रवार को, रेलवे ने कहा कि प्रवासियों के परिवहन के लिए उसे पिछले 15 दिनों में राज्यों से 1,000 से अधिक मंजूरियां मिली हैं। इन ट्रनों से सबसे अधिक श्रमिक उत्तर प्रदेश पहुंचे। इसके बाद बिहार का स्थान रहा। रेल मंत्री पीयूष गोयल ने प्रवासियों के परिवहन के लिए ट्रेनों के संचालन में उत्तर प्रदेश और बिहार की सक्रिय भागीदारी की सराहना करते हुए कहा कि 80 प्रतिशत श्रमिक ट्रेनें इन्हीं दोनों राज्यों में गई हैं।

    20:31 (IST)16 May 2020
    लॉकडाउन ने गरीबों को और बनाया गरीब, पर बदला लोगों का...

    कोरोना संकट के मद्देनजर किए गए लॉकडाउन ने दिल्ली में गरीबों को और गरीब बनाया है, पर इसके साथ ही लोगों के व्यवहार में भी परिवर्तन हुआ है। यह बात हाल ही में एक अध्य्यन में सामने आई है। लोगों ने इसी के साथ मास्क का इस्तेमाल तेजी से किया है। वे घरों में रहने के दौरान भी कुछ-कुछ देर के अंतराल पर हाथ धोने लगे हैं। और, ये चीज धीमे-धीमे आदत की शक्ल ले रही है।

    एनर्जी पॉलिसी इंस्टीट्यूट ऑफ द यूनिवर्सिटी ऑफ शिकागो और यूनिवर्सिटी ऑफ ब्रिटिश कोलंबिया के अध्य्यनों के अनुसार, 10 में से नौ सर्वे में हिस्सा लेने वालों ने बताया कि उन्होंने कोरोना काल और लॉकडाउन के दौरान सिगरेट का सेवन नहीं किया। हालांकि, इसमें यह पता नहीं किया गया कि इन लोगों में से कितने सिगरेट नहीं पीते हैं और कितने कोरोना संकट की वजह से सिगरेट छोड़ चुके थे।

    19:34 (IST)16 May 2020
    पैकेज की चौथी किस्त में कोयला, रक्षा उत्पादन, विमानन में संरचनात्मक सुधारों पर जोर: सीतारमण

    वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शनिवार को कहा कि आर्थिक प्रोत्साहन पैकेज की चौथी किस्त ढांचागत सुधार को बढ़ावा देने और रोजगार सृजित करने के उद्देश्य पर केंद्रित होगी। सीतारमण ने यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा कि पैकेज की चौथी किस्त कोयला, खनिज, रक्षा उत्पादन, नागरिक उड्डयन क्षेत्र, केंद्र शासित प्रदेशों में बिजली वितरण कंपनियों, अंतरिक्ष क्षेत्र और परमाणु ऊर्जा क्षेत्र के संरचनात्मक सुधारों पर केंद्रित है।

    सीतारमण का चार दिन में यह यह चौथा संवाददाता सम्मेलन था जिसमें उन्होंने प्रधानमंत्री द्वारा अर्थव्यवस्था को गति देने और आत्मनिर्भर बनाने के लिए घोषित 20 लाख करोड़ रुपये के पैकेज का ब्योरा दे रही थीं। उन्होंने कहा कि हाल के दिनों में उठाये गये कदमों में सचिवों के सशक्त समूह के माध्यम से निवेशके प्रस्तवों की शीघ्रता से जूरी की व्यवस्था भी शामिल है।

    19:31 (IST)16 May 2020
    गुजरात में एक सप्ताह में 700 ‘सुपरस्प्रेडर’ कोरोना संक्रमित पाए गए

    अहमदाबाद में सात मई से 14 मई के बीच सब्जी विक्रेताओं और दुकानदारों की जांच किए जाने पर कम से कम 700 ‘सुपरस्प्रेडर’ कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं। इसके पहले अधिकारियों ने दूध और दवा की दुकानों के अलावा सभी दुकानें बंद करने का आदेश दिया था। एक वरिष्ठ नौकरशाह ने शनिवार को यह जानकारी दी। बड़ी संख्या में लोगों के संपर्क में आने वालों जैसे सब्जी विक्रेताओं को “सुपरस्प्रेडर” नाम दिया गया है क्योंकि वे कई लोगों को संक्रमित करने की क्षमता रखते हैं।

    19:31 (IST)16 May 2020
    लॉकडाउन: 40 दिन पैदल चलने के बाद महिला को पुलिस ने परिवार से मिलवाया

    पारिवारिक झगड़े और गलत ट्रेन पर चढ़ने के कारण 35 वर्षीय एक महिला को जीटी रोड पर 40 दिन तक चलने पर मजबूर होना पड़ा जिसके बाद पुलिस ने उसे बिहार में उसके पति से मिलवाया। एक अधिकारी ने शनिवार को यह जानकारी दी। हजारीबाग की समाज कल्याण अधिकारी शिप्रा सिन्हा ने बताया कि भागलपुर में साबो (नाम परिवर्तित) की ससुराल है जहां से वह 22 मार्च को एक मामूली पारिवारिक झगड़े के बाद घर छोड़ कर निकल गई। घर से निकलने के बाद साबो अपनी रिश्तेदार के यहां जाने के वास्ते बांका की ट्रेन पकड़ने के लिए रेलवे स्टेशन गई। लेकिन साबो गलत ट्रेन में चढ़ गई और बांका की बजाय उत्तर प्रदेश के कानपुर पहुंच गई।

    19:01 (IST)16 May 2020
    लोहरदगा में जुमे की नमाज अदा करने वाले 17 लोगों पर प्राथमिकी

    लोहरदगा जिले के सेन्हा में बड़ी मस्जिद में जुमे की नमाज अदा करने वाले 17 लोगों के खिलाफ नामजद एवं 12 अज्ञात लोगों के विरुद्ध प्रखंड पशुपालन पदाधिकारी ने सेन्हा थाने में प्राथमिकी दर्ज करायी है। पुलिस सूत्रों ने बताया कि इन सभी पर आपदा प्रबंधन अधिनियम की विभिन्न धाराओं एवं भारतीय दंड संहिता की धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है। दर्ज प्राथमिकी में कहा गया है कि इन लोगों ने लॉकडाउन का उल्लंघन करते हुए रोक के बावजूद भीड़ जमा करके नमाज अदा की। इसमें कहा गया है कि इन लोगों ने न तो मास्क का प्रयोग किया और न ही एकदूसरे से दूरी बनाये रखने के नियम का पालन किया।

    19:01 (IST)16 May 2020
    बई उच्च न्यायालय ने माथेरान में वाहनों से आवश्यक सामग्री पहुंचाने की अनुमति दी

    बंबई उच्च न्यायालय ने शनिवार को केंद्रीय पर्यावरण और वन मंत्रालय द्वारा गठित समिति के फैसले को स्वीकार कर लिया जिसमें टेम्पो के जरिये माथेरान पर्वतीय स्थल तक खाने-पीने के सामान और अन्य खाद्य सामग्री पहुंचाने की अनुमति दी गई थी। माथेरान मुंबई से करीब 80 किलोमीटर दूर है। उल्लेखनीय है कि केंद्रीय पर्यावरण एवं वन मंत्रालय ने वर्ष 2003 में माथेरानवा को पर्यावरण रूप से संवेदनशील क्षेत्र घोषित किया था। एंबुलेंस, अग्निशमन वाहन और कूड़ा उठाने के वाहन के अलावा दासतुरी प्वाइंट से आगे किसी अन्य वाहन को जाने की अनुमति नहीं है।

    17:48 (IST)16 May 2020
    उद्योगों को खोलने की इजाजत दी है

    कोरोना से सबसे बुरी तरह से महाराष्ट्र ही प्रभावित हुआ है, जहां 30 हजार के करीब मामले सामने आ चुके हैं और 1000 से भी अधिक लोग मारे जा चुके हैं। यहां सरकार ने कुछ नियम शर्तों के साथ उद्योगों को खोलने की इजाजत दी है। हालांकि, हालात बुरे होने की वजह से कुछ खास छूट नहीं मिल पाएगी।

    16:46 (IST)16 May 2020
    पूरी तरह से बंद रहेगा झारखंड

    लॉकडाउन 4.0 के लिए बिहार, झारखंड, ओडिशा का अलग ही प्लान है। यहां की सरकारें चाहती हैं कि सब कुछ पूरी तरह से बंद रहे, कोई रियायत ना दी जाए। इन राज्यों में कोरोना वायरस के मामले तेजी से बढ़ते जा रहे हैं। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने तो घोषणा भी कर दी है कि वहां 31 मई तक लॉकडाउन जारी रहेगा। हालांकि, जिलों के पास अधिकार होगा कि वह कुछ रियायतें दे सकें।

    16:00 (IST)16 May 2020
    गुजरात सरकार चाहती है सारी इकनॉमिक एक्टिविटी शुरू हों

    लॉकडाउन 4.0 में गुजरात सरकार चाहती है कि वहां के सभी अरबन सेंटर्स में सारी इकनॉमिक एक्टिविटी शुरू हों। हालांकि, अहमदाबाद, सूरत और वडोदरा जैसे शहरों में बहुत सारे कोरोना मामले सामने आए हैं। सिर्फ अहदाबाद में ही गुजरात के 70 फीसदी मामले हैं।

    15:29 (IST)16 May 2020
    पंजाब सरकारने ये सुझाव दिये

    पंजाब सरकार का कहना है कि रेड जोन और कंटेनमेंट जोन के बाहर काम शुरू होना चाहिए। राज्य सरकार तय करेगी कि किस इलाके को रेड जोन बनाना है किसे ग्रीन और किसे ऑरेंज। इसके अलावा सरकार का कहना है कि निर्माण और उद्योग जल्द से जल्द खोले जाये।

    15:01 (IST)16 May 2020
    तमिलनाडु में अब छह दिन खुलेंगे ऑफिस

    तमिलनाडु ने 18 मई से छह-दिवसीय कार्य सप्ताह की घोषणा की है और अपने सभी कार्यालयों में कामकाजी ताकत अगले सोमवार से 33 प्रतिशत से बढ़ाकर 50 प्रतिशत कर दी है। राज्य ने कहा है कि कंटेनमेंट जोन में भी इकनॉमिक एक्टिविटी फिर से शुरू होनी चाहिए। हालांकि, राज्य में पिछले दिनों में कोरोना वायरस के मामले काफी तेजी से बढ़े हैं। एक सब्जी मार्केट से ही करीब 2600 मामले सामने आए हैं। राज्य में सोमवार से काफी बड़ी रियायतें दिए जाने की घोषणा की जा चुकी है। साथ ही वर्किंग आवर बढ़ाने और फैक्ट्रियां खोले जाने की रियायत भी सोमवार से मिलेगी।

    14:40 (IST)16 May 2020
    मेट्रो सेवाएं, लोकल ट्रेनें, घरेलू उड़ानें, रेस्टोरेंट्स और होटल खुलने चाहिए

    केरल चाहता है कि लॉकडाउन 4.0 में मेट्रो सेवाएं, लोकल ट्रेनें, घरेलू उड़ानें, रेस्टोरेंट्स और होटल खुलने चाहिए। केरल में ही कोरोना वायरस का पहला मामला सामने आया था और राज्य ने कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में बेहद अहम भूमिका निभाई है।

    14:23 (IST)16 May 2020
    अंतर-राज्य परिवहनों पर प्रतिबंध लगना चाहिए

    छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि होटलों को खोलने की अनुमति दी जानी चाहिए, लेकिन शादियों, स्पा पर प्रतिबंध लगाया जाना चाहिए। छत्तीसगढ़ के अलावा अन्य राज्यों का भी कहना था कि केंद्र के दिशा-निर्देशों के साथ ज़ोन को क्लासिफाइ करने की शक्ति राज्य सरकारों के पास होनी चाहिए। इसके अलावा राज्यों का कहना था कि केवल फंसे हुए प्रवासियों को राज्य में आने की अनुमति होनी चाहिए अंतर-राज्य परिवहनों पर प्रतिबंध लगना चाहिए।

    14:03 (IST)16 May 2020
    छत्तीसगढ़ ने ट्रेन सेवाओं का विरोध किया

    कांग्रेस शासित राजस्थान, छत्तीसगढ़ और पंजाब ने सुझाव दिया है कि सभी आवश्यक और गैर-आवश्यक आर्थिक गतिविधियों को रेड जोन में भी शुरू किया जाना चाहिए। छत्तीसगढ़ ने श्रामिक स्पेशल के अलावा अन्य ट्रेन सेवाओं को फिर से शुरू करने का विरोध किया है।

    13:04 (IST)16 May 2020
    नॉन-कंटेनमेंट जोन में सभी इकनॉमिक और पब्लिक एक्टिविटी शुरू करने का प्रस्ताव

    आंध्र प्रदेश की तरफ से केंद्र को नॉन-कंटेनमेंट जोन में सभी इकनॉमिक और पब्लिक एक्टिविटी शुरू करने का प्रस्ताव भेजा गया है। बता दें कि यहां अब तक 2100 से भी अधिक कोरोना वायरस के मामले सामने आ चुके हैं और करीब 11,500 लोग क्वारंटीन में हैं।

    12:43 (IST)16 May 2020
    असम ने की लॉकडाउन बढ़ाने की सिफारिश, गोवा चाहता है मडगाँव स्टेशन पर रोक लगे

    भाजपा शासित असम ने केंद्र से लॉकडाउन बढ़ाने की सिफारिश की है। जबकि भाजपा शासित गोवा ने रेलवे को मडगाँव स्टेशन पर विशेष ट्रेनों के ठहराव को रद्द करने का सुझाव दिया है। गोवा एक महीन तक कोरोना मुक्त राज्य था लेकिन हालही में यहां नए मामले सामने आए हैं। गोवा के सीएम प्रमोद सावंत ने कहा, "मडगांव में उतरने के लिए 720 लोगों ने ट्रेन में का टिकट बुक किया है। लेकिन इन में से शायद ही कोई गोवा का निवासी है।

    12:13 (IST)16 May 2020
    ग्रीन और ऑरेंज जोन में आर्थिक गतिविधियां शुरू करना चाहती है महाराष्ट्र सरकार

    महाराष्ट्र सरकार चाहती है कि लॉकडाउन को 31 मई तक बढ़ाया जाए, लेकिन आर्थिक गतिविधियों को ग्रीन और ऑरेंज जोन में खोल दिया जाये। इसे लेकर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने वरिष्ठ मंत्रियों और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रमुख शरद पवार के साथ बैठक की है।

    11:58 (IST)16 May 2020
    बिहार चाहता है शख्त लॉकडाउन, केरल और कर्नाटक खोलना चाहते हैं रेस्टोरेंट्स और होटल

    बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने कहा है कि राज्य में लॉकडाउन 31 मई तक बढ़ाई जाएगी। केरल चाहता है कि मेट्रो सेवाएं, लोकल ट्रेन, घरेलू उड़ानें, रेस्टोरेंट्स और होटल फिर से खुलें। वहीं कर्नाटक भी रेस्टोरेंट्स होटल और व्यायामशाला फिर से खोलना चाहता है।

    11:34 (IST)16 May 2020
    मेट्रो शुरू करना चाहती है केजरीवाल सरकार

    दिल्ली सरकार आर्थिक गतिविधियों के अधिकांश भाग को फिर से खोलना चाहती है। दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने कहा कि राज्य मेट्रो सेवाओं को फिर से शुरू करना चाहता है, लेकिन यह निर्णय केंद्र को करना होगा।

    Next Stories
    1 Coronavirus in India HIGHLIGHTS: औरेया हादसे में मृत मजदूरों-घायलों को PM रिलीफ फंड से मुआवजा, रेलवे ने भी दी प्रवासियों को बड़ी राहत!
    2 Corona Crisis: सड़कों पर दर्द झेल रहे मजदूरों पर बीजेपी सांसद की अ‍म‍ित शाह को च‍िट्ठी- ये हमारे ही लोग हैं
    3 ब‍िहार से पत्‍नी का फोन- नहीं रहा बच्‍चा, द‍िल्‍ली से पैदल निकला पिता, पुल‍िस ने रोक लिया, सड़क पर रोते गुजारे तीन दिन