ताज़ा खबर
 

कोरोना: 7 दिन में मर गए 500 लोग, 50 से 100 पहुंची रोज की संख्या, PIB नहीं दे रहा मौतों का आंकड़ा

26 अप्रैल को कुल नए संक्रमितों की संख्या 1607 थी जो बढ़कर 30 अप्रैल को 1801 और 2 मई को 2442 थी। यानी दिन-ब दिन कोरोना का संकट बढ़ता ही जा रहा है। मरीजों की संख्या और मृतकों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है।

Author नई दिल्ली | Updated: May 3, 2020 11:40 PM
कोरोना वायरस की जांच कराता एक युवक। (फोटोः पीटीआई)

वैश्विक महामारी COVID-19 या Coronavirus के कारण देश में हफ्ते भर के भीतर 500 जानें चली गईं। कोरोना संक्रमण से रोज मरने वालों की जो संख्या 50 पर थी, वह इस दौरान दोगुनी होकर सीधे 100 पर आ गई। ऊपर से प्रेस इन्फॉर्मेशन ब्यूरो यानी कि PIB इन मौतों का एकीकृत डेटा भी नहीं दे रहा है। रविवार (03 मई) को सरकारी आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटों में 87 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 2644 नए लोग संक्रमितों की लिस्ट में शामिल हो गए हैं। देश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 40,000 के करीब पहुंच चुका है। सरकारी आंकड़ों पर गौर करें तो पिछले सात दिनों में मौत का आंकड़ा करीब दोगुना हो गया है।

पिछले रविवार यानी 26 अप्रैल को देशभर में एक दिन में कुल 56 मौतें हुई थीं, जो 30 अप्रैल तक बढ़कर 75 हो गईं। दो मई को एक दिन में मौत का आंकड़ा 100 तक पहुंच गया। रोजाना मौत के बढ़ते आंकड़े को गौर से देखें तो इन सात दिनों में कुल 498 लोगों की मौत हुई है जो रविवार तक के कुल मौत के आंकड़ों (1301) का एक तिहाई है। यानी आज तक कोरोना से देशभर में जितनी मौतें हुईं, उनमें एक तिहाई मौत सिर्फ पिछले एक सप्ताह में हुई है।

Coronavirus in India LIVE Updates

कोरोना के कुल नए मामलों के आंकड़ों पर गौर करें तो पिछले सात दिनों में कुल 13 हजार 416 लोग संक्रमण का शिकार हुए हैं। यह आंकड़ा भी कुल संक्रमितों का करीब एक तिहाई है। 26 अप्रैल को कुल नए संक्रमितों की संख्या 1607 थी जो बढ़कर 30 अप्रैल को 1801 और 2 मई को 2442 थी। यानी दिन-ब दिन कोरोना का संकट बढ़ता ही जा रहा है। मरीजों की संख्या और मृतकों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है।

वैसे तो केंद्र सरकार रोजाना कोरोना संकट पर प्रेस कॉन्फ्रेन्स कर डेटा पेश करती है लेकिन सरकारी साइट पीआईबी पर स्वास्थ्य विभाग द्वारा कोरोना से निपटने के लिए जो विज्ञप्ति जारी की गई है, उसमें सारी बातें हैं, मसलन दिशा-निर्देश, सरकार द्वारा उठाए गए कदम, सुधार की दर और कितने लोग उपचार के बाद ठीक हो गए उनके आंकड़े लेकिन न तो रोजाना और न ही एकीकृत रूप से मौत के आंकड़ों की जिक्र किया गया है।

COVID-19 in Bihar LIVE Updates

सरकार की ओर से विज्ञप्ति में लिखा गया है, “भारत सरकार राज्यों/ संघ शासित क्षेत्रों के साथ मिलकर, एक क्रमिक, पूर्व-निर्धारित और सक्रिय दृष्टिकोण को अपनाते हुएकोविड-19 की रोकथाम, नियंत्रण और प्रबंधन की दिशा में कई प्रकार के कदम उठा रही है। इनकी उच्चतम स्तर पर नियमित रूप से समीक्षा और निगरानी की जा रही है। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण के औचित्यपूर्ण उपयोग पर कल ही अतिरिक्त दिशानिर्देश जारी किए गए थे।

ये दिशानिर्देश ‘व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण के औचित्यपूर्ण उपयोग’ पर पूर्व में जारी दिशानिर्दशों के अनुरूप हैं। अभी तक कुल 9,950 लोगों का उपचार किया जा चुका है। पिछले 24 घंटे में 1,061 लोगों का उपचार किया गया था। इससे हमारी कुल सुधार की दर 26.65 प्रतिशत तक पहुंच गई है। अब कुल पुष्ट मामलों की संख्या 37,336 तक पहुंच गई है। कल से भारत में कोविड-19 के पुष्ट मामलों की संख्या में 2,293 की वृद्धि दर्ज की गई है।”

उधर, अब विपक्ष सरकार पर कोरोना से मौत के आंकड़ों को छुपाने का आरोप लगाने लगा है। पिछले दिनों कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने केंद्र सरकार पर तो सीधा हमला नहीं बोला लेकिन यूपी की बीजेपी सरकार पर कोरोना जांच की संख्या और मरीजों की संख्या न बताने का आरोप लगाया था। गांधी ने ये भी कहा था कि यूपी में पूल टेस्टिंग के नाम से कई दर्जन लोगों के स्वाब इकट्ठे एक ही किट द्वारा टेस्ट किए जा रहे हैं। उधर पश्चिम बंगाल में भी बीजेपी और टीएमसी के बीच कोरोना से मौत के आंकड़ों पर सियासी लड़ाई जारी है।

Rajasthan Coronavirus LIVE Updates

इस बीच, तमाम विरोधी दलों के नेताओं ने अब श्रमिक एक्सप्रेस से गांवों को लौट रहे प्रवासियों से ट्रेन किराया वसूले जाने पर आपत्ति जताई है। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आरोप लगाया है कि अगर प्रवासी मजदूरों से ही किराया वसूलने थे तो फिर पीएम मोदी ने लोगों के खरबों रुपये पीएम केयर फंड में क्यों मंगवाए हैं? उमर अब्दुल्ला ने भी आरोप लगाया है कि अमीरों को मुफ्त में विमान से विदेशों से लाया गया जबकि गरीबों से पैसे वसूले जा रहे हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 कोरोना काल में ‘गुम’ हो गए बाकी बड़े संकट? पूर्व FM बोले- कभी न पता लगेगा कि कितने भूख से मरे, क्योंकि सरकारें कभी स्वीकारेंगी नहीं
2 6 साल में Bank of Baroda का NPA छह गुणा से अधिक तो Indian Bank के में चार गुना का इजाफा- RTI में खुलासा
3 MHA की गाइडलाइंस को अंगूठा दिखा सीएम के चाचा सपरिवार पहुंचे तिरूपति, लॉकडाउन में बालाजी का दर्शन करने पर छिड़ा विवाद