कोरोनाः बोले योगी- विकसित देशों के मुकाबले यूपी में बेहतर हुआ काम, लोग करने लगे ट्रोल

@SanjayWarade10 बोले कि यह भी फेंकने में उस्ताद हो गए हैं। नरेंद्र मोदी के लिए गंभीर खतरा हैं।

Corona, UP, Yogi Adityanath
सीएम योगी के ताजा दावा पर टि्वटर यूजर्स ने कोरोना की दूसरी लहर के दौरान गंगा में बहती लाशें के मुद्दे को लेकर उन पर कटाक्ष किया और तंज कसे। (फाइल फोटोः रॉयटर्स/एक्सप्रेस आर्काइव)

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दावा किया है वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के प्रबंधन के मामले में सूबे में विकसित देशों के मुकाबले बेहतर काम हुआ।

उन्होंने रविवार (25 जुलाई, 2021) को प्रदेश के सिद्धार्थनगर में मेडिकल कॉलेज के निरीक्षण से जुड़े कार्यक्रम के दौरान पत्रकारों से कहा, “लगभग एक हजार बेड वाले अस्पताल के साथ अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस एम्स का लोकार्पण प्रधानमंत्री के कर कमलों से हम लोगों ने प्रस्तावित किया है। यूपी के हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर में बीते सात साल में भारत सरकार के सहयोग से जो काम हुआ है और जो तेजी आई है…यह अनुभव हमें पहले चरण में…इंसेफेलाइटिस, जिससे सिद्धार्थ नगर जनपद सर्वाधिक प्रभावित जनपदों में से एक था…न्यूनतम स्तर पर उसे लाने में हमें सफलता मिली। कोरोना प्रबंधन भी आपके सामने है। मीडिया से आप लोग जुड़े हैं, खबरों को देखते होंगे। कोरोना का कहर अमेरिका और इंडोनेशिया में है। जनता त्रस्त और सरकार परेशान है। लेकिन यूपी में कोरोना का बेहतरीन प्रबंधन और संक्रमण रोकथाम के लिए किस प्रकार की प्रभावी कार्रवाई की गई…ये आप सब के सामने है। बस्ती जनपद, जहां एक भी कोरोना केस नहीं है। सिद्धार्थनगर में तो मुश्किल से एक्टिव केस 10 बचे हैं।”

योगी ने आगे जोड़ा, “चीजें दिखाती हैं कि हमारी कार्रवाई बेहतर दिशा में आगे बढ़ रही है। यह हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर बेहतर स्वास्थ्य सुविधा के साथ स्वास्थ्य जागरूकता के भी महत्वपूर्ण केंद्र हैं। यहां पर पूरी तैयारियां चल रही हैं।”

हालांकि, सीएम के इस दावे (यूपी में विकसित देशों के मुकाबले बेहतर काम हुआ) पर टि्वटर यूजर्स ने उन्हें ट्रोल किया। @zindagijhandbaa ने लखनऊ में श्मशान के बाहर खड़ी की गई टिन की दीवार के फोटो और खबरों से जुड़े स्क्रीनशॉट शेयर करते हुए लिखा, “यकीनन हेल्थ इन्फ़्रास्ट्रक्चर में इतना सुधार हुआ है कि उसकी वजह से हुई मौतों को छुपाने के लिए महराज जी दीवारें बना रहे थे…।”

@Deshbha76234049 ने कहा, “बाबा जी के हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर के आगे अमेरिका फेल। नाइजीरियन सीएम का बड़ा बयान। बाबाजी को बदनाम करने लोग खुद गंगा मे लाशें बनकर तैर रहे। नहीं हुई प्रदेश मे कोरोना से एक भी मौत। नाइजीरिया मे ख़ुशी की लहर।” @maniesh0481 ने कहा कि लोगों को जो चीज बताई जा रही है, जमीनी तस्वीर उससे काफी अलग लगती है।

@ColFool_ ने तंज कसा और कहा, “विकसित देशों से इनका मतलब घाना, सूडान और नाइजीरिया से है।” @AyaanAn34088551 बोले कि गंगा में सबने लाशें देखी हैं कि कितना सुधार हुआ है। दिक्कत लोगों के साथ है कि आंख बंदकर के वोट जो करते आए हैं।

@arvindbank ने कटाक्ष किया, “गंगा में बहती लाशें (कोरोना काल के दौरान) विकसित देश के हर नागरिक ने देखीं और भारत के विकसित होने का डंका पूरे विश्व में बजा।” @imanvaransari ने लिखा, “अपने मुंह मियां मिट्ठू, काम वो होता है, जब जनता तारीफ करे।” @SanjayWarade10 बोले कि यह भी फेंकने में उस्ताद हो गए हैं। नरेंद्र मोदी के लिए गंभीर खतरा हैं।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट