ताज़ा खबर
 

COVID-19 Vaccine पर कंपनियों ने NEG को दी ब्रीफिंग, जानें 170 टीमें किस रफ्तार से ढूंढ रही हैं टीका

उधर, अमेरिकी हेल्थ सर्विसेज के निदेशक एंथनी फोसी ने कहा है कि अगर 70-75 फीसदी ने कोविड 19 का टीका नहीं लिया तो हर्ड इम्यूनिटी नहीं बन पाएगी और इससे टीकाकरण का पूरा अभियान ही फेल होने का डर है।

coronavirus, coronavirus vaccine, coronavirus vaccine update, covid-19 vaccine, covid-19 vaccine, coronavirus update, covid 19 vaccine update today, covid 19 vaccine today update, coronavirus vaccine update india, coronavirus vaccine update india news, coronavirus vaccine update india today, sinovac covid 19 vaccine, moderna coronavirus vaccine update, moderna covid 19 vaccine updateबायोलॉजिकल ई लिमिटेड ने कोरोनोवायरस के टीके के विकास के लिए दो समझौते किए हैं। (file)

भारत में पांच शीर्ष वैक्सीन निर्माताओं ने सोमवार को वैक्सीन एडमिनिस्ट्रेशन पर राष्ट्रीय विशेषज्ञों के समूह (National Expert Group) को ब्रीफिंग दी। बताया कि भारत में इस दौरान वैक्सीन पर क्या काम चल रहा है। मौजूदा समय में देश में कोरोना वैक्सीन के तीन कैंडिडेट्स हैं, जिनमें Bharat Biotech की Covaxin और Zydus Cadilla की ZyCoVD दो ऐसी वैक्सीनें हैं, जो देश में ही बन रही हैं।

वहीं, Serum Institute of India ने ब्रिटिश स्वीडिश कंपनी AstraZeneca के साथ University of Oxford की वैक्सीन के निर्माण को लेकर साझेदारी की है। इन तीन कंपनियों के अलावा Biological E और Gennova Biopharmaceuticals के प्रतिनिधियों ने भी मीटिंग के दौरान प्रेजेंटेशन दी। पैनल ने इस बात पर भी चर्चा की कि अगर कैंडिंडेट्स की वैक्सीन सुरक्षित और प्रभावी पाई जाती हैं, तब क्या उन्हें दवा का उत्पादन बढ़ाने के लिए क्या सरकार की मदद की जरूरत पड़ेगी या नहीं?

बता दें कि दुनिया भर में इस वक्त 170 से अधिक रिसर्चर्स की टीमें कोरोना की सुरक्षित और प्रभावी वैक्सीन खोजने में जुटी हैं। इनमें से 138 प्री-क्लीनिकल स्टेज में हैं। यानी इनका इंसानों पर ट्रायल नहीं हुआ है। फेज-1 में 25 वैक्सीनें हैं, जिनका छोटे स्तर पर सेफ्टी ट्रायल हो चुका है। वहीं, फेज-2 में 15 वैंक्सीन हैं, जिनका विस्तारित सेफ्टी ट्रायल चल रहा है। फेज-3 की बात करें, तो इसमें सात टीके हैं, जबकि एक भी वैक्सीन ऐसी नहीं है, जिसे मंजूरी मिली हो।

वैसे, आमतौर पर किसी भी वैक्सीन को बनाने में 12 से 18 महीने का वक्त लगता है, जिसमें उसकी टेस्टिंग और प्रोडक्शन का काम शामिल रहता है। कोरोना वैक्सीन के भविष्य में होने वाले NHS ट्रायल के लिए एक लाख से अधिक लोगों ने साइन अप किया है। हालांकि, रिसर्चर्स का कहना है कि इससे अधिक वॉलंटियर्स की जरूरत पड़ेगी। वे चाहते हैं कि अधिक से अधिक लोग इसके लिए खुद को एनरोल कराएं, ताकि सुरक्षित और प्रभावित वैक्सीन की दिशा में काम तेजी से बढ़ सके।

Live Blog

Highlights

    22:54 (IST)17 Aug 2020
    70-75 फीसदी ने कोविड 19 का टीका नहीं लिया तो हर्ड इम्यूनिटी नहीं बन पाएगीः फोसी

    इससे पहले, अमेरिकी हेल्थ सर्विसेज के निदेशक एंथनी फोसी ने कहा है कि अगर 70-75 फीसदी ने कोविड 19 का टीका नहीं लिया तो हर्ड इम्यूनिटी नहीं बन पाएगी और इससे टीकाकरण का पूरा अभियान ही फेल होने का डर है। हैंबर्ग यूनिवर्सिटी ने भी अध्ययन कर यही बात कही है। विशेषज्ञों के अनुसार, कोरोना से ज्यादा प्रभावित देशों में तो यह बेहद जरुरी है कि 75 फीसदी आबादी को टीका लगे।

    22:53 (IST)17 Aug 2020
    वैक्सीन से भी डर रही दुनिया!

    कोरोना वायरस की लोगों में ऐसी दहशत है कि वे शुरुआती दौर में इसकी वैक्सीन से भी डर रहे हैं। दरअसल सर्वे में खुलासा हुआ है कि लोग अभी कोरोना वैक्सीन को लेकर पूरी तरह निश्चिंत नहीं हैं और इसका टीका लगवाने से भी इंकार कर रहे हैं। जॉन हॉपकिंस, हार्वर्ड, सीएनएन आदि कई सर्वे में पता चला है कि लोगों को लगता है कि वैक्सीन जल्दबाजी में तैयार की गई है, इसलिए इसे शुरुआती दौर में लगवाने से सेहत को खतरा हो सकता है। सर्वे के दौरान करीब 50 फीसदी लोग इस टीके को लगवाने के पक्ष में नहीं हैं।

    22:53 (IST)17 Aug 2020
    'कोविड-19 के रूसी टीके के सुरक्षित होने, उसकी कारगरता मुख्य चिंता'

    नोबेल पुरस्कार से सम्मानित आस्ट्रेलिया के रोग प्रतिरक्षा वैज्ञानिक पीटर चार्ल्स डोहर्टी ने भी कोविड-19 के रूसी टीके का आपात स्थिति में उपयोग शुरू किये जाने पर वैज्ञानिक समुदाय के संशय से सहमति जताई है। उन्होंने कहा कि ‘‘बड़ी चिंता’’ यह है कि यदि इस टीके के सुरक्षित होने को लेकर संदेह सच साबित होता है, तो फिर अन्य टीकों की विश्वसनीयता पर भी इसका असर देखने को मिल सकता है।

    डोहर्टी ने मेलबर्न से एक ई-मेल साक्षात्कार में कहा, ‘‘मुख्य चिंता यह है कि यदि सुरक्षा का कोई बड़ा मुद्दा उभरता है...तो मेरा दावा है कि बड़ी चिंता यह होगी कि यह अलग प्रक्रिया के तहत विकसित किये जा रहे अन्य टीकों के लिये टीकाकरण को कहीं अधिक खारिज कर सकता है।’’

    20:59 (IST)17 Aug 2020
    ब्रिटेन ने भारतीयों, अन्य अल्पसंख्यकों से कोविड-19 के टीका परीक्षणों में शामिल होने की अपील की

    ब्रिटेन की सरकार ने भारतीय मूल के लोगों सहित अन्य पृष्ठभूमि वाले अल्पसंख्यक समुदायों से और अधिक लोगों को कोविड-19 के संभावित टीके के चल रहे क्लीनिकल परीक्षणों में शामिल होने की अपील की है। इसके लिये विभिन्न समुदायों से संपर्क साधने के उपायों में गुजराती, पंजाबी, बांग्ला और उर्दू में प्रसारित लक्षित भर्ती कार्यक्रम भी शामिल हैं। समूचे ब्रिटेन में एक लाख से अधिक लोगों ने टीके के परीक्षणों में स्वयंसेवी के तौर पर हिस्सा लिया है। कोरोना वायरस के खिलाफ एक कारगर और सुरक्षित टीके की खोज में तेजी लाने की कोशिशों के तहत ऐसा किया गया है। हालांकि, इसमें आबादी के कुछ खास तबकों की भागीदारी कम रही है, जिसके चलते कहीं अधिक जातीय अल्पसंख्यकों, 65 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों और अग्रिम मोर्चे पर तैनात स्वास्थ्य एवं सामाजिक देखभाल कार्यकर्ताओं से राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा (एनएचएस) कोविड-19 टीका अनुसंधान पंजीकरण में शामिल होने की अपील की गई है, ताकि यह सुनश्चित हो सके कि संभावित टीका हर किसी पर असरदार हो।

    20:38 (IST)17 Aug 2020
    धारावी में कोविड-19 के चार नए मामले, संक्रमितों की संख्या 2,672 हुई: बीएमसी

    मुंबई की झुग्गी बस्ती धारावी में सोमवार को कोविड-19 के सिर्फ चार नए मामले सामने आए, जिससे इस इलाके में संक्रमितों की कुल संख्या 2,672 हो गई। बृहन्मुंबई महानगर पालिका (बीएमसी) के एक अधिकारी ने बताया कि 2,672 मामलों में, 2,333 मरीज पहले ही ठीक हो चुके हैं और उन्हें अस्पतालों से छुट्टी मिल चुकी है। उन्होंने बताया कि झुग्गी बस्ती में अब केवल 80 रोगी उपचाराधीन हैं। बीएमसी के अनुसार, जी-उत्तर वार्ड में कुल 6,921 कोविड-19 मामले हैं, जिनमें धारावी, दादर और माहिम इलाके आते हैं। इन में धारावी में 2,672 मामले हैं, जबकि दादर में 2,237 मामले और माहिम में 2,012 मामले हैं। बीएमसी के अधिकारी ने बताया कि दादर में 465, जबकि माहिम में 256 मरीज उपचाराधीन हैं।

    19:47 (IST)17 Aug 2020
    कोविड-19 के प्रसार को रोकने के लिए कठोर कदम उठाने से पीछे नहीं हटेंगे: अमरिंदर

    कोविड-19 संक्रमण और मौत के बढ़ते मामले बीच, पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने सोमवार को कहा कि वह वायरस के प्रसार को रोकने के लिए कठोर कदम उठाने के लिए अनिच्छुक नहीं है। हालांकि सिंह ने एक बार फिर से लॉकडाउल लगाने की संभावना से इंकार नहीं किया, खासकर उन इलाकों में जहां मामले काफी बढ़ रहे हैं। उन्होंने स्पष्ट किया कि आर्थिक गतिविधियों को नुकसान नहीं होने दिया जाएगा। मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में हुई राज्य मंत्रिमंडल की आनलाइन बैठक में राज्य में महामारी की स्थिति की समीक्षा की गयी। मुख्यमंत्री ने विशेषज्ञ स्वास्थ्य सलाहकार समिति के अध्यक्ष के के तलवार के एक सुझाव के जवाब में कहा, अगर जरूरत पड़ी तो राज्य सरकार कोरोना वायरस का मुकाबला करने के लिए कड़े कदम उठाने पर विचार करेगी।

    19:08 (IST)17 Aug 2020
    कोरोना वायरस और अपराध रोकने में अक्षम योगी सरकार का मूकदर्शक बने रहना खतरनाक : अखिलेश

    समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव ने सोमवार को कहा कि कोरोना वायरस और अपराध दोनों को ही रोकने में अक्षम उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार का दिन प्रतिदिन गम्भीर होती जा रही घटनाओं पर मूकदर्शक बने रहना खतरनाक है। यादव ने यहां एक बयान में कहा कि उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस और कानून व्यवस्था के संकट से लोग बुरी तरह पीड़ित और आतंकित हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार कोरोना और अपराध दोनों को ही रोकने में अक्षम है और सरकार को यह सच स्वीकार कर लेना चाहिए।

    18:24 (IST)17 Aug 2020
    कोरोना वायरस से संक्रमित तृणमूल कांग्रेस विधायक समरेश दास की मृत्यु

    तृणमूल कांग्रेस विधायक समरेश दास की सोमवार को यहां एक अस्पताल में मृत्यु हो गई। कुछ दिन पहले ही उनके कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई थी। वह 76 साल के थे। पार्टी सूत्रों ने बताया कि पूर्वी मिदनापुर जिले की एगरा विधानसभा सीट से तीन बार विधायक निर्वाचित हुए दास को कुछ दिन पहले कोरोना वायरस संक्रमण और हृदय तथा गुर्दे संबंधी दिक्कतों के चलते वहां एक अस्पताल में भर्ती किया गया था। उन्होंने बताया कि उनकी हालत बिगड़ने पर उन्हें कोलकाता के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया। पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने बताया कि उनकी आज सुबह मृत्यु हो गई।

    18:04 (IST)17 Aug 2020
    सुशांत सिंह कोरोना वायरस से संक्रमित होने वाले ओडिशा के पहले मंत्री

    ओडिशा के ग्रामीण विकास और श्रम मंत्री सुशांत सिंह ने सोमवार को कहा कि उनकी कोरोना वायरस जांच रिपोर्ट में संक्रमित होने की बात सामने आई है। भाटली विधानसभा क्षेत्र से विधायक सिंह कोविड-19 से पीड़ित ओडिशा के पहले मंत्री हैं। मंत्री ने ट्वीट किया, “मैं कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया हूं और मेरी हालत स्थिर है। हाल में मेरे संपर्क में आए लोगों से अनुरोध है कि वे अपनी जांच करा लें और पृथक-वास में रहें।” बालासोर जिले में स्वतंत्रता दिवस समारोह में सिंह मुख्य अतिथि थे। इससे पहले राज्य के पांच विधायक भी कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जा चुके हैं। इनमें रंजन पटनायक, श्रीकांत साहू, सुधांशु शेखर, सुकांत कुमार नायक और प्रशांत बेहेरा शामिल हैं।

    17:20 (IST)17 Aug 2020
    चौहान पंचतत्व में विलीन, राजकीय सम्मान के साथ किया गया अंतिम संस्कार

    उत्तर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री एवं पूर्व क्रिकेटर चेतन चौहान का हापुड़ जिले के ब्रजघाट पर सोमवार को पूरे राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। अमरोहा से दो बार सांसद रहे और उत्तर प्रदेश सरकार के योगी मंत्रिमंडल में कैबिनेट मंत्री चौहान का कोविड-19 संबंधित दिक्कतों और किडनी के काम करना बंद करने के कारण रविवार को गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में निधन हो गया था। चौहान के पार्थिव शरीर को सोमवार की दोपहर अमरोहा से ब्रजघाट लाया गया जहां पुलिस प्रशासन के अधिकारियों ,जिलाधिकारी अदिति सिंह ,एसपी संजीव सुमन और भाजपा विधायकों एवं नेताओं ने उन्हें श्रद्धांजलि दी। इसके बाद उन्हें सलामी दी गई। चौहान के कोरोना वायरस से संक्रमित होने के कारण प्रशासन ने सावधानी बरतते हुए तय मापदंडों के तहत अंतिम संस्कार कराया। कैबिनेट मंत्री के शव को उनके पुत्र विनायक चौहान ने मुखाग्नि दी। इस दौरान योगी सरकार का कोई भी मंत्री उपस्थित नहीं था।

    16:42 (IST)17 Aug 2020
    अर्जुन राम मेघवाल अस्पताल से डिस्चार्ज

    केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल आज AIIMS से डिस्चार्ज कर दिए गए। यह जानकारी सोमवार को AIIMS दिल्ली अथॉरिटी ने दी। वह 8 अगस्त को #COVID19 पॉजिटिव पाए गए थे।

    16:11 (IST)17 Aug 2020
    गायक एस पी बालासुब्रह्मण्यम के स्वास्थ्य में सुधार: द्रमुक प्रमुख स्टालिन और अभिनेता रजनीकांत

    द्रमुक प्रमुख एम के स्टालिन और अभिनेता रजनीकांत ने प्रसिद्ध पार्श्व गायक एस पी बालासुब्रह्मण्यम के प्रशंसकों को अच्छी खबर सुनाते हुए कहा कि गायक के स्वास्थ्य में सुधार हो रहा है। द्रमुक नेता ने कहा कि गायक के स्वास्थ्य में सुधार हो रहा है। वहीं अभिनेता ने कहा कि वह कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में नाजुक हालत से बाहर निकल आए हैं। स्टालिन ने एक फेसबुक पोस्ट में कहा, ‘‘ पद्युम नीला (गाने वाला चांद) एस पी बालासुब्रह्मण्यम के स्वास्थ्य में सुधार की जानकारी मिलने से उन्हें बेहद आनंद हुआ है।’’ द्रमुक प्रमुख ने कहा कि वह ऐसे गायक हैं जिन्होंने दिल छू लेने वाली अपनी आवाज से लोगों की चिंताओं से मुक्त किया है। स्टालिन ने कहा, ‘‘ उन्हें स्वस्थ होना चाहिए और गीतों की अपनी यात्रा जारी रखनी चाहिए।’’ तमिल सुपरस्टार रजनीकांत ने अपने ट्विटर अकाउंट पर एक वीडियो पोस्ट करते हुए कहा, ‘‘जल्दी ठीक हो जाओ बालू सर।’’

    15:14 (IST)17 Aug 2020
    कोरोना से दुनियाभर में 7.70 लाख लोगों की जान गई

    अमेरिका की जॉन हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के अनुसार, कोरोना माहमारी से दुनियाभर में मरने वालों का कुल आंकड़ा 7.70 लाख के पार चला गया है। वहीं 2.13 करोड़ लोग इस माहमारी की चपेट में आ चुके हैं। अकेले अमेरिका में कोरोना से 1,69 हजार मरीजों की मौत हो चुकी है। 

    13:58 (IST)17 Aug 2020
    भारत पाकिस्तान समेत दक्षिण एशियाई देशों में वैक्सीन को लेकर भरोसा बढ़ा

    दुनिया के कई देशों में जहां कोरोना वैक्सीन को लेकर चिंताएं उभर रही हैं। वहीं दक्षिण एशियाई देशों जैसे भारत, पाकिस्तान आदि में कोरोना वैक्सीन को लेकर भरोसा बढ़ा है। वेलकम ग्लोबल मॉनिटर के एक सर्वे में यह खुलासा हुआ है। दक्षिण एशियाई देशों के 95 फीसदी लोग टीके को सुरक्षित मानते हैं।

    13:34 (IST)17 Aug 2020
    पुडुचेरी में कोरोना के 304 नए मामले मिले

    पुडुचेरी में कोरोना के 304 नए मामले मिले हैं, साथ ही 4 मरीजों की मौत हो गई है। राज्य में अब कोरोना मरीजों की कुल संख्या बढ़कर 8029 हो गई है। इनमें से 4627 रिकवर हो चुके हैं। वहीं 3288 एक्टिव केस हैं। पुडुचेरी में कोरोना से अभी तक 114 लोगों की मौत हुई है।

    13:05 (IST)17 Aug 2020
    वैक्सीन का विरोध भी बढ़ रहा

    अमेरिका, यूरोप ही नहीं रूस में भी टीका विरोध समूह मजबूत हो रहे हैं। कई धार्मिक और राजनीतिक समूह भी इसका विरोध कर रहे हैं। एक सर्वे के मुताबिक न्यूयॉर्क के 42 फीसदी और दक्षिण अफ्रीका के 48 फीसदी लोग टीके के समर्थन में नहीं हैं। 

    12:43 (IST)17 Aug 2020
    सर्वे में शामिल 50 फीसदी लोग शुरुआत में नहीं लेना चाहते वैक्सीन

    कोरोना वैक्सीन को लेकर हुए सर्वे में शामिल करीब 50 फीसदी लोग वैक्सीन को शुरुआत में नहीं लेना चाहते। कुछ प्रतिभागी ने कहा कि वह पहले कुछ माह तक इंतजार कर वैक्सीन के मानव शरीर पर असर देखेंगे, उसके बाद कोई फैसला करेंगे। 

    12:04 (IST)17 Aug 2020
    ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका और मोडेर्ना से वैक्सीन खरीद सकती है सरकार

    कोरोना वैक्सीन दुनियाभर में कई कंपनियों द्वारा विकसित की जा रही हैं, जो कि अभी ट्रायल के विभिन्न चरणों में है। अब खबर आयी है कि भारत सरकार ब्रिटेन की ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका और अमेरिका की मोडेर्ना-NIAID फार्मा कंपनियों के साथ वैक्सीन खरीद सकती है। इसके लिए आज एक प्रतिनिधिमंडल कंपनियों के प्रमुखों के साथ अहम बैठक करेगा। इसके अलावा भारत सरकार हैदराबाद स्थित भारत बायोटेक और अहमदाबाद स्थित जाइडस कैडिला कंपनी द्वारा विकसित की जा रही है वैक्सीन पर भी करीब से नजर बनाए हुए है। अधिकारियों के अनुसार, भारत अभी रूस द्वारा बनायी गई वैक्सीन के ट्रायल डाटा का इंतजार कर रहा है। इनके अलावा जर्मनी और इजरायल द्वारा बनायी जा रही वैक्सीन पर भी नजर है।

    11:27 (IST)17 Aug 2020
    पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की हालत अभी भी गंभीर

    नई दिल्ली स्थित आर्मी अस्पताल में पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी का इलाज चल रहा है। अस्पताल प्रशासन का कहना है कि पूर्व राष्ट्रपति की हालत अभी भी गंभीर बनी हुई है। उनके क्लीनिकल पैरामीटर स्थिर हैं लेकिन अभी भी उन्हें वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखा गया है। डॉक्टरों की टीम उनकी हालत पर करीब से नजर रखे हुए है।

    11:05 (IST)17 Aug 2020
    कोरोना से टीएमसी विधायक समरेश दास का निधन

    कोरोना के चलते टीएमसी के विधायक समरेश दास का निधन हो गया है। समरेश दास एगरा से विधायक थे और बीते दिनों कोरोना से संक्रमित पाए गए थे।

    10:20 (IST)17 Aug 2020
    रूस के बाद चीन की कोरोना वैक्सीन को मिला पेटेंट

    रूस के कोरोना वायरस के वैक्सीन बना लेने के दावे के बाद चीन की पहली कोविड-19 वैक्सीन Ad5-nCoV को पेटेंट मिल गया है। इस वैक्‍सीन को सेना और CanSino Biologics ने मिलकर बनाया है। इस पेटेंट के लिए 18 मार्च को अनुरोध किया गया था और 11 अगस्‍त को इसकी मंजूरी दे दी गई।  चीन के विशेषज्ञों का कहना है कि इस साल के अंत तक इस वैक्सीन को लॉन्च किया जा सकता है।

    10:19 (IST)17 Aug 2020
    देश में कोरोना के मामले बढ़कर 26 लाख के पार पहुंचे

    देश में कोरोना का संक्रमण लगातार बढ़ रहा है। बीते 24 घंटे में कोरोना के 59982 नए मामले सामने आए हैं। वहीं 941 मरीजों की मौत हो गई है। इसके साथ ही देश में अब कोरोना मरीजों की कुल संख्या बढ़कर 26,47,664 हो गई है। इनमें से 6,76,900 एक्टिव केस हैं और 19,19,843 मरीज ठीक हो चुके हैं। देश में अब तक कुल 50,921 लोगों की मौत कोरोना से हुई है।

    09:24 (IST)17 Aug 2020
    छत्तीसगढ़ में कोरोना के 576 नए मामले मिले

    छत्तीसगढ़ में कोरोना के 576 नए मामले मिले हैं। इसके साथ ही राज्य में कोरोना मरीजों की कुल संख्या बढ़कर 15,621 हो गई है। इनमें से 5244 एक्टिव केस और 10,235 मरीज डिस्चार्ज हो चुके हैं। राज्य में अब तक कोरोना से 142 मरीजों की मौत हो चुकी है।

    08:56 (IST)17 Aug 2020
    देश में अब तक कुल 3 करोड़ से ज्यादा जांच

    देश में रविवार यानि कि 16 अगस्त तक कुल 3,00,41,400 कोरोना सैंपल की जांच हो चुकी हैं। वहीं अकेले रविवार के दिन देशभर में कुल 7,31,697 सैंपल की जांच हुई है। आईसीएमआर ने यह आंकड़े दिए हैं।

    08:37 (IST)17 Aug 2020
    दिग्गज अभिनेता दिलीप कुमार के छोटे भाई कोरोना पॉजिटिव, लीलावती अस्पताल में भर्ती

    दिग्गज अभिनेता दिलीप कुमार के छोटे भाई अहसान और असलम खान कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। फिलहाल दोनों को लीलावती अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

    07:35 (IST)17 Aug 2020
    दुनियाभर में 170 वैक्सीन पर चल रहा रिसर्च, 7 वैक्सीन ट्रायल के तीसरे चरण में

    दुनियाभर में कोरोना की करीब 170 वैक्सीन का विभिन्न चरणों का ट्रायल चल रहा है। एक रिपोर्ट के मुताबिक दुनिया में करीब 139 वैक्सीन प्री क्लीनिकल ट्रायल चरण में हैं। वहीं 25 वैक्सीन ट्रायल के पहले चरण में हैं। 17 वैक्सीन ट्रायल के दूसरे चरण में हैं। 7 वैक्सीन ट्रायल के तीसरे चरण में हैं। बता दें कि तीसरा चरण पूरा होते ही वैक्सीन को सिर्फ अप्रूवल की दरकार होती है और उसके बाद वैक्सीन का प्रोडक्शन शुरू हो जाएगा।

    07:34 (IST)17 Aug 2020
    कोरोना वैक्सीन को लेकर जल्दबाजी खतरनाक हो सकती है

    कोरोना वैक्सीन को लेकर रूस की तरफ से जल्दबाजी की जा रही है। यही वजह है कि इस वैक्सीन की सेफ्टी और इसके मानव शरीर पर पड़ने वाले प्रभावों को लेकर चिंता उभरी हुई है। अब अमेरिका स्थित वैक्सीन एजुकेशन सेंटर के निदेशक और फिलाडेल्फिया में इंफेक्शियस डिजीज स्पेशलिस्ट के तौर पर चिल्ड्रेन हॉस्पिटल में काम करने वाले पॉल ऑफिट का कहना है कि इससे अन्य देशों पर दबाव बढ़ सकता है और वह जल्दबाजी में गलती कर सकते हैं, जिसका लोगों को खामियाजा भुगतना पड़ता है।

    06:22 (IST)17 Aug 2020
    कोरोना टीके के मामले में रूस से सीखें आत्मनिर्भरता: संजय राउत

    शिवसेना नेता संजय राउत ने रविवार को कहा कि रूस ने कोरोना का पहला टीका तैयार करके यह दिखा दिया कि वह आत्मनिर्भर है। राउत ने शिवसेना के मुखपत्र ‘सामना’ में अपने साप्ताहिक कॉलम ‘रोकटोक’ में लिखा कि भारत में आत्मनिर्भरता की केवल बात होती है। रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने मंगलवार को घोषणा की थी कि उनके देश ने कोरोना का पहला टीका तैयार कर लिया है। उन्होंने साथ ही यह भी कहा कि उनकी एक बेटी को यह टीका लगाया भी जा चुका है।

    05:06 (IST)17 Aug 2020
    स्वदेशी टीके ‘कोवैक्स’ के पहले चरण का परीक्षण अभी तक सफल

    कोरोना पर काबू पाने के लिए विकसित किए जा रहे स्वदेशी टीके ‘कोवैक्स’ के पहले चरण का परीक्षण अभी तक सफल रहा है। इसका परीक्षण कर रहे डॉक्टरों का कहना है कि अभी तक इसके स्वयंसेवकों को कोई दिक्कत नहीं हुई है। इसके नतीजों की रपट आइसीएमआर को सौंप दी गई है।

    04:17 (IST)17 Aug 2020
    सबसे पहले कोविड वारियर्स को डोज मिलेगी

    केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य राज्‍य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे का कहना है कि अगर भारतीय वैज्ञानिक टीका बनाने में कामयाब होते हैं तो कोविड-19 वॉरियर्स को सबसे पहले टीका लगेगा। उन्‍होंने कहा, 'हमारे वैज्ञानिक इस पर बहुत मेहनत कर रहे हैं। कोविड-19 के खिलाफ तीन वैक्‍सीन टेस्टिंग के अलग-अलग स्‍टेज में हैं। और अगर हम वैक्‍सीन बनाने में सफल होते हैं तो हमारे कोविड वॉरियर्स को सबसे पहले डोज मिलेगी।'

    03:24 (IST)17 Aug 2020
    वैक्सीन का तेजी से एप्रुवल देने से मास्को की प्रतिष्ठा दांव पर

    रूस के कोविड-19 वैक्‍सीन का पहला बैच तैयार कर एप्रुवल दे देने पर कई वैज्ञानिकों ने चिंता जताई है। उनका कहना है कि तेजी से अप्रूवल देकर मॉस्‍को ने अपनी प्रतिष्‍ठा दांव पर लगा दी है। यह प्रॉडक्‍शन में जाने वाली दुनिया की पहली वैक्‍सीन है और रूस ने उसे इस महीने के आखिर तक उपलब्‍ध कराने की बात कही है।

    02:12 (IST)17 Aug 2020
    भारत में भी रूसी टीके के उत्पादन पर जोर

    कोरोना वायरस की वैक्‍सीन के लिए रूस ने भारत के वैक्‍सीन निर्माताओं की क्षमता की सराहना की है। रूस चाहता है कि उसके कोरोना टीके का भारत में भी उत्‍पादन हो। इसको लेकर रूसी डायरेक्‍टर इनवेस्‍टमेंट फंड के सीईओ किरिल दिमेत्रीव ने कहा है कि इस बारे में बातचीत चल रही है।

    01:03 (IST)17 Aug 2020
    चीन की पहली कोरोना वायरस वैक्‍सीन को मिला पेटेंट

    चीनी के सरकारी समाचार पत्र ग्‍लोबल टाइम्‍स ने जानकारी दी है कि चीन की पहली कोरोना वायरस वैक्‍सीन Ad5-nCoV को पेटेंट मिल गया है। इसको सेना की मेजर जनरल चेन वेई और CanSino Biologics Inc कंपनी के सहयोग से बनाया गया है। 

    00:12 (IST)17 Aug 2020
    लैटिन अमेरिकी देशों के लिए 2021 में 40 करोड़ टीकों का निर्माण किया जाएगा

    ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के साथ काम कर रही कंपनी एस्ट्रा जेनेका के मुताबिक 2021 के शुरुआती महीनों में ही वैक्सीन का उत्पादन कार्य शुरू हो जाएगा। लैटिन अमेरिकी देशों के लिए 2021 में 40 करोड़ टीकों का निर्माण किया जाएगा। मैक्सिको और अर्जेंटीना में पूरे लैटिन अमेरिका के लिए वैक्सीन का उत्पादन होगा।

    22:38 (IST)16 Aug 2020
    केरल में कोविड-19 के 1,500 से अधिक नये मामले; मुख्यमंत्री व सात मंत्रियों की जांच रिपोर्ट निगेटिव

    केरल में लगातार चौथे दिन रविवार को कोविड-19 के 1,500 से अधिक नये मामले सामने आए, जिससे राज्य में संक्रमण के मामले 44,415 तक पहुंच गए। इस बीच मुख्यमंत्री पिनराई विजयन और उनके मंत्रिमंडल के सात सहयोगियों के साथ शीर्ष अधिकारियों की जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है, जिनमें से कई ने दूसरी बार जांच कराई है। स्वास्थ्य विभाग की एक विज्ञप्ति में स्वास्थ्य मंत्री के के शैलजा ने बताया कि संक्रमित पाये गये 1,530 लोगों में से 53 स्वास्थ्य कर्मचारी हैं। इनमें से 1,351 लोग संक्रमितों के संपर्क में आये थे। कोविड-19 से 10 और मरीजों की मौत से राज्य में मृतकों की कुल संख्या 156 तक पहुंच गई।

    22:17 (IST)16 Aug 2020
    रूस ने कोविड-19 टीके के जरिये आत्मनिर्भरता दिखायी: राउत

    शिवसेना नेता संजय राउत ने रविवार को कहा कि रूस ने कोविड-19 का पहला टीका तैयार करके यह दिखा दिया कि वह आत्मनिर्भर है। राउत ने शिवसेना के मुखपत्र ‘सामना’ में अपने साप्ताहिक कॉलम ‘रोकटोक’ में लिखा कि भारत में आत्मनिर्भरता की केवल बात होती है। रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने मंगलवार को घोषणा की थी कि उनके देश ने कोविड-19 का पहला टीका तैयार कर लिया है। उन्होंने साथ ही यह भी कहा कि उनकी एक बेटी को यह टीका लगाया भी जा चुका है। हालांकि रूस के कोविड-19 टीके को लेकर अंतरराष्ट्रीय विशेषज्ञों में काफी संदेह है। उनका कहना है कि यह टीका मानव परीक्षण की कड़ी प्रक्रिया से नहीं गुजरा है। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा है कि रूसी टीका उन नौ टीकों में शामिल नहीं है जिन्हें वह मानता है कि वे परीक्षण के अग्रिम चरणों में हैं।

    22:16 (IST)16 Aug 2020
    12 से 18 माह में बन सकती है कोरोना वैक्सीन

    वैज्ञानिकों को उम्मीद है कि 12 से 18 माह में कोरोना वैक्सीन विकसित हो सकती है। बता दें कि वैक्सीन बनाने की सबसे पहली प्रक्रिया प्री क्लीनिकल स्टेज है, जिसमें वैक्सीन की टेस्टिंग का काम होता है और वैक्सीन जानवरों पर प्रयोग की जाती है। इसके बाद क्लीनिकल ट्रायल का पहला चरण शुरू होता है, जिसमें वैक्सीन इंसानों के एक छोटे ग्रुप पर टेस्ट की जाती है।

    ट्रायल के दूसरे चरण में वैक्सीन सैंकड़ों लोगों के ग्रुप को दी जाती हैं और फिर उन पर वैक्सीन के प्रभाव और इम्यूनिटी पर पड़ने वाले असर का अध्ययन किया जाता है। वैक्सीन के तीसरे चरण में हजारों लोगों को वैक्सीन की डोज दी जाती है और उसके असर की स्टडी की जाती है।

    22:13 (IST)16 Aug 2020
    नगालैंड में कोविड-19 के 54 नए मामले, 101 लोग ठीक हो गए

    नगालैंड में रविवार को कोविड-19 के जितने मामले आए, उससे ज्यादा लोग संक्रमण से ठीक हो गए। अधिकारियों ने बताया कि रविवार को संक्रमण के 54 मामले आए और कुल 101 लोग ठीक हो गए । राज्य में एक दिन पहले 18 मामले आए थे और 123 लोग ठीक हो गए थे । स्वास्थ्य मंत्री एस पांगयू फोम ने दिन में ट्वीट किया कि कोहिमा जिले में 26 मामले आए । इसके बाद दीमापुर में 21 और जुन्हेबोटो में सात मामले आए । राज्य में वर्तमान में संक्रमण के 1958 मामले हैं जबकि 1422 लोग ठीक हो चुके हैं और आठ मरीजों की मौत हुई है । संक्रमण के सबसे ज्यादा 1168 मामले दीमापुर में हैं ।

    22:12 (IST)16 Aug 2020
    बंगाल में बुजुर्ग कोविड-19 मरीज ने आत्महत्या की

    श्चिम बंगाल के उत्तर 24 परगना जिले के बारासात शहर में रविवार को 82 वर्षीय एक कोविड-19 मरीज को अपने घर की छत से लटका पाया गया। पुलिस ने बताया कि यह घटना बारासात थाना क्षेत्र के नबापल्ली में हुई। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि मृतक को कोविड-19 से पीड़ित पाया गया था। उन्होंने कहा कि उन्हें संदेह है कि शायद इसी वजह से उन्होंने आत्महत्या की होगी। उन्होंने बताया कि मामले की जांच चल रही है।

    22:12 (IST)16 Aug 2020
    गुजरात में 1120 नये मामले, कुल संक्रमित हुए 78,783

    गुजरात में कोविड-19 के 1120 नये मामले सामने आए हैं, जिससे कुल संक्रमित लोगों की संख्या 78,783 हो गई है। राज्य के स्वास्थ्य विभाग की ओर से बताया गया कि संक्रमण से रविवार को राज्य में 20 और लोगों की मौत हो गई, जिससे मृतकों की संख्या 2787 हो गई है। इन 20 में से चार लोगों की मौत अहमदाबाद में हुई है। विभाग ने कहा कि राज्य भर में आज कुल 959 रोगियों को छुट्टी दी गई, जिससे अभी तक बीमारी से ठीक हो चुके लोगों की संख्या 61,496 हो गई है।

    21:02 (IST)16 Aug 2020
    170 वैक्सीन का विभिन्न चरणों का ट्रायल

    दुनियाभर में कोरोना की करीब 170 वैक्सीन का विभिन्न चरणों का ट्रायल चल रहा है। एक रिपोर्ट के मुताबिक दुनिया में करीब 139 वैक्सीन प्री क्लीनिकल ट्रायल चरण में हैं। वहीं 25 वैक्सीन ट्रायल के पहले चरण में हैं। 17 वैक्सीन ट्रायल के दूसरे चरण में हैं। 7 वैक्सीन ट्रायल के तीसरे चरण में हैं।

    17:00 (IST)16 Aug 2020
    Sinopharm की कोरोना वैक्सीन ने ट्रायल में पैदा कीं ऐंटीबॉडी

    चीन के नैशनल फार्मासूटिकल ग्रुप (Sinopharm)  ने जो वैक्सीन तैयार की है उसका प्रयोग काफी असरदार साबित हुआ है। इसके इस्तेमाल से इम्यून रिस्पॉन्स में ऐंटीबॉडी पैदा हुईं और यह सुरक्षित भी रही है।

    15:42 (IST)16 Aug 2020
    एक लाख से ज्यादा कोरोना केस वाला आठवां राज्य बना बिहार

    बिहार में कोरोना के मामले एक लाख के पार चले गए हैं। इसके साथ ही बिहार देश का आठवां राज्य बन गया है, जहां कोरोना मरीजों की संख्या एक लाख है। बिहार के अलावा महाराष्ट्र, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल इस फेहरिस्त में शामिल हैं।

    15:39 (IST)16 Aug 2020
    दिल्ली में कोरोना से होने वाली मौतों की संख्या में आयी गिरावट

    दिल्ली में जब कोरोना संक्रमण बेकाबू होता दिखाई दे रहा था तो राजधानी में हर दिन 75-80 मरीजों की मौत हो रही थी लेकिन अब जब हालात नियंत्रण में हैं तो मौतों के आंकड़े में भी भारी गिरावट आयी है। बता दें कि अब दिल्ली में रोजोना 10-15 मरीजों की मौत हो रही है।

    14:27 (IST)16 Aug 2020
    वैक्सीन की सफलता की कोई गारंटी नहीं

    दुनियाभर में कोरोना की वैक्सीन विकसित की जा रही है, जो अभी ट्रायल के विभिन्न चरणों से गुजर रही हैं। वहीं कुछ वैक्सीन अभी प्री-क्लीनिकल स्टेज में हैं। दरअसल वैक्सीन की ट्रायल में सफलता की कोई गारंटी नहीं होती है। फार्मा इंडस्ट्री में ट्रायल और वैक्सीन के बाजार पहुंचने में बड़ा अंतर है। यूएस की फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन के आंकड़ों के मुताबिक मानव शरीर पर ट्रायल हो चुकी 10 दवाईयों में से 9 दवाईयां बाजार में नहीं आ पाती। दरअसल दवाईयों और वैक्सीन को लेकर बड़े ही सघन स्तर पर जांच की जाती है, यही वजह है कि इसमें थोड़ी सी भी कमी सारी कोशिश बेकार कर सकती है।

    13:10 (IST)16 Aug 2020
    पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की हालत में सुधार, अभी भी वेंटिलेटर पर

    पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की हालत पहले के मुकाबले स्थिर है। दरअसल प्रणब मुखर्जी के बेटे अभिजीत मुखर्जी ने ट्वीट कर यह जानाकरी दी है। अभिजीत मुखर्जी ने लिखा कि कल मैं अपने पिता से अस्पताल में मिला था। भगवान की कृपा से और आपकी दुआओं से वह पहले से काफी बेहतर हैं और पहले के मुकाबले उनकी हालत स्थिर है। उनका शरीर इलाज पर प्रतिक्रिया दे रहा है। हमें पूरा यकीन है कि वह जल्द ही हमारे पास वापस लौट आएंगे।

    12:10 (IST)16 Aug 2020
    कोरोना वैक्सीन को लेकर जल्दबाजी के दुष्परिणाम हो सकते हैं- एम्स निदेशक

    दिल्ली स्थित एम्स के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया ने कहा है कि कोरोना वैक्सीन को लेकर जल्दबाजी के दुष्परिणाम हो सकते हैं। इसे लेकर सभी प्रोटोकॉल को मानना होगा। एम्स निदेशक ने चेताते हुए कहा कि कई बार टीकों के कारण भी संक्रमण हो जाता है। डॉ. गुलेरिया ने कहा कि यदि वैक्सीन से इम्यूनिटी नहीं बढ़ती है तो इससे गंभीर संक्रमण हो सकता है। ऐसे में हमें वैक्सीन को आम लोगों तक पहुंचाने से पहले यह सुनिश्चित करना होगा कि इस वैक्सीन के दुष्प्रभाव नहीं होंगे। उन्होंने कहा कि टीके के प्रभाव और सुरक्षा पर ध्यान देना होगा।

    12:07 (IST)16 Aug 2020
    'कोरोना वैक्सीन को लेकर रूस की जल्दबाजी घातक साबित हो सकती है'

    कोरोना वैक्सीन को लेकर रूस की तरफ से जल्दबाजी की जा रही है। यही वजह है कि इस वैक्सीन की सेफ्टी और इसके मानव शरीर पर पड़ने वाले प्रभावों को लेकर चिंता उभरी हुई है। अब अमेरिका स्थित वैक्सीन एजुकेशन सेंटर के निदेशक और फिलाडेल्फिया में इंफेक्शियस डिजीज स्पेशलिस्ट के तौर पर चिल्ड्रेन हॉस्पिटल में काम करने वाले पॉल ऑफिट का कहना है कि इससे अन्य देशों पर दबाव बढ़ सकता है और वह जल्दबाजी में गलती कर सकते हैं, जिसका लोगों को खामियाजा भुगतना पड़ता है।

    11:18 (IST)16 Aug 2020
    एंथनी फोसी बोले- 50 फीसदी कारगर वैक्सीन से भी कोरोना कंट्रोल हो जाएगा

    ऐसे कयास भी लगाए जा रहे हैं कि विकसित की जा रही कोरोना वैक्सीन माहमारी के खिलाफ 100 प्रतिशत कारगर नहीं होगी। इस पर अमेरिका के टॉप एक्सपर्ट एंथनी फोसी का कहना है कि यदि वैक्सीन आधी यानि कि 50 फीसदी भी प्रभावी होती है तो भी इससे इस वैश्विक माहमारी को नियंत्रण करने में मदद मिलेगी। फोसी के अनुसार, 50 फीसदी प्रभावी वैक्सीन से भी एक साल के अंदर हालात सामान्य हो सकते हैं। बता दें कि एंथनी फोसी इंफेक्शियस डिजीज के टॉप एक्सपर्ट माने जाते हैं।

    11:02 (IST)16 Aug 2020
    देश में बीते 24 घंटे के दौरान कोरोना संक्रमण से 944 की मौत

    देश में बीते 24 घंटे के दौरान कोरोना के कुल 63,489 नए मामले सामने आए हैं। वहीं इस दौरान 944 लोगों की मौत हो गई है। इसके साथ ही देश में कोरोना मरीजों की कुल संख्या बढ़कर 25,89,682 हो गई है। इनमें से 6,77,444 एक्टिव केस हैं और 18,62,258 मरीज डिस्चार्ज हो चुके हैं। देश में अब तक कोरोना से कुल 49,980 मरीजों की मौत हुई है।

    Next Stories
    1 India Independence Day 2020 HIGHLIGHTS: कोरोना महामारी के चलते देश में सादगी से मना स्वतंत्रता दिवस समारोह
    2 जेल में ‘बड़े बाबू’ कहे जाते थे वीडी सावरकर, पर झेलनी पड़ती थीं ‘नर्क यातनाएं’, 6 बार अंग्रेजों को लिखा था माफीनामा
    3 शंख बजाएं, इम्युनिटी बढ़ाएं, कोरोना दूर-दूर तक नहीं फटकेगा- BJP सांसद का दावा
    ये पढ़ा क्या?
    X