ताज़ा खबर
 

कोरोनाः PM मोदी को लेकर बोले यशवंत सिन्हा- 56 इंची छाती बेनकाब, तो रवीश कुमार ने कहा- इस देश में किसी की जान की कीमत नहीं

रवीश कुमार ने कहा है कि राज्य सभा में स्वास्थ्य मंत्री अश्विनी चौबे ने एक लिखित जवाब दिया है जिसमें बताया है कि दूसरे देशों में कोरोना का चेन तोड़ने के लिए टीका बाहर भेजा गया है ताकि वहाँ के लोग जब भारत आएँ तो यहाँ संक्रमण न फैले।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (एक्सप्रेस आर्काइव फोटो)

देश में कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्र सरकार पर हमले भी तेज होते जा रहे हैं। देश के पूर्व वित्त मंत्री और टीएमसी नेता यशवंत सिन्हा ने कहा है कि प्रधानमंत्री बेनकाब हो गए हैं। वहीं पत्रकार रवीश कुमार ने कहा है कि अब इस देश में किसी के भी जान की कीमत नहीं रह गयी है।

अटल बिहारी वाजपेयी के सरकार में केंद्रीय मंत्री रहे यशवंत सिन्हा ने एक बार फिर से नरेंद्र मोदी पर हमला बोला है। उन्होंने एनडीटीवी पर एक लेख में लिखा है कि अब जबकि वैक्सीन अभियान ध्वस्त हो गया है, और भारत में लोग निर्यात की आलोचना कर रहे हैं, सरकार और भाजपा के प्रवक्ता यह दावा कर रहे हैं कि निर्यात का बड़ा हिस्सा लाइसेंसिंग समझौतों के तहत किया गया था। उन्होंने लिखा कि ये भाजपा रणनीति रही है जीत का श्रेय वो लेते हैं लेकिन हार के समय में पीछे हट जाते हैं। प्रधानमंत्री जिस 56 इंच की बात करते थे वो बेनकाब हो गया है।

इधर पत्रकार रवीश कुमार ने भी केंद्र सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने कहा है कि इस देश में किसी की जान की कीमत नहीं है। रवीश कुमार ने कहा कि राज्य सभा में स्वास्थ्य मंत्री अश्विनी चौबे ने एक लिखित जवाब दिया है जिसमें बताया है कि दूसरे देशों में कोरोना का चेन तोड़ने के लिए टीका बाहर भेजा गया है ताकि वहाँ के लोग जब भारत आएँ तो यहाँ संक्रमण न फैले।

मतलब एक करोड़ टीका लेकर मोदी सरकार दूसरे देशों में कोरोना चेन तोड़ने की फ़िक्र कर रही थी। हंसी आ रही है। वैसे भी जब पोल खुली है तो सरकार इस बात को प्रमुखता से कहने लगी है कि सारा टीका निर्यात नहीं था।

बताते चलें कि देश में हर दिन कोरोना से हजारों लोगों की मौत हो रही है। हालांकि पिछले कुछ दिनों में संक्रमितों के आंकड़ों में गिरावट देखने को मिल रही है। कई दिनों बाद रविवार को 3 लाख से कुछ कम केस देश में सामने आए थे।

Next Stories
1 प्रशांत किशोर जब बता दिए गए थे फ्रॉड, तब खूब अखरी थी यह बात; आंखें खोलने वाली घटना का जिक्र कर बोले थे- गाली भी बहुत पड़ती है…
2 बंगालः ममता के TMC नेताओं पर CBI सख्त; पर BJP में जा चुके शुभेंदु और मुकुल पर बरत रही नरमी?
3 व्हाट्सएप की नई प्राइवेसी पॉलिसी भारतीय आइटी कानून का उल्लंघन, उच्च न्यायालय में केंद्र की दलील
ये पढ़ा क्या?
X