ताज़ा खबर
 

Corona Virus: लॉकडाउन में सीएम ममता बनर्जी ने खुद संभाला मोर्चा, सोशल डिस्टेंसिंग के लिए सड़क पर बनाए गोले, देखें Video

Corona Virus: वीडियो में नजर आ रहा है कि वह ईंट से सड़क पर गोला बना रही हैं और लोगों को दूरी पर खड़े रहने के निर्देश दे रही हैं। वह लोगों से दुकान के सामने दूर-दूर खड़ा होने के लिए कह रही हैं। ममता बनर्जी कहती हैं कि ऐसे दूर-दूर खड़े रहने से दिक्कत नहीं होगी।

Author Edited By Naveen Rai Updated: March 26, 2020 7:59 PM
सीएम ममता बनर्जी बाजार में पहुंचकर अधिकारियों को सोशल डिस्टेंसिंग पर जरूरी निर्देश देती नजर आईं।(फोटो-ANI)

कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने को लिए गुरुवार को  पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी  कोलकाता के एक बाजार में पहुंचीं और सोशल डिस्टेंसिंग को लेकर अधिकारियों को निर्देश देती नजर आईं। न्यूज एजेंसी एएनआई ने ट्विटर पर एक वीडियो शेयर किया है जिसमें वह  बाजार में लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग का मैसेज दे रही हैं और सड़क पर खुद गोला बना रही हैं।

वीडियो में नजर आ रहा है कि वह ईंट से सड़क पर गोला बना रही हैं और लोगों को दूरी पर खड़े रहने के निर्देश दे रही हैं। वह लोगों से दुकान के सामने दूर-दूर खड़ा होने के लिए कह रही हैं। ममता बनर्जी कहती हैं कि ऐसे दूर-दूर खड़े रहने से दिक्कत नहीं होगी। लोगो लाइन में आएंगे और सभी को मास्क पहनना है और दूर-दूर रहना है।


वहीं, इससे पहले पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने देश के 18 राज्यों के मुख्यमंत्रियों को पत्र लिखकर राज्य के उन श्रमिकों को सहायता पहुंचाने का आग्रह किया है जो कोरोना वायरस महामारी के कारण लॉकडाउन के बाद जगह-जगह फंस गए हैं। बनर्जी ने पत्र में लिखा, ‘‘बंगाल के कई कामगार देश के विभिन्न हिस्सों में काम कर रहे हैं जिनमें अर्द्ध कुशल और अकुशल दोनों श्रेणी के हैं। देश में कोविड-19 महामारी की वजह से पूरी तरह बंद के कारण पश्चिम बंगाल के कई कामगार वापस नहीं आ सके और विभिन्न जगहों पर फंस गये हैं।’’ममता बनर्जी का यह पत्र महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, केरल, दिल्ली, ओडिशा, कर्नाटक और पंजाब के मुख्यमंत्रियों को मिला है।

Coronavirus in India Latest LIVE Updates

इसमें बनर्जी ने कहा, ‘‘हमें सूचना मिली है कि बंगाल के मूल निवासी ऐसे कई श्रमिक आपके राज्य में भी फंसे हुए हैं। हमें उनके लिए आपात स्थिति में फोन आ रहे हैं।’’
मुख्यमंत्री ने कहा कि सामान्य तौर पर वे 50-100 के समूह में हैं और स्थानीय प्रशासन आसानी से उन्हें पहचान सकता है। उन्होंने कहा, ‘‘हम उन्हें कोई मदद नहीं पहुंचा सकते, इसलिए मैं आपसे अनुरोध करती हूं कि कृपया अपने प्रशासन को उन्हें संकट के इस समय में बुनियादी आसरा, भोजन और चिकित्सा सहायता मुहैया कराने को कहें।’’ बनर्जी ने यह भी लिखा, ‘‘हम बंगाल में में फंस गये ऐसे लोगों की देखभाल कर रहे हैं।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। जनसत्‍ता टेलीग्राम पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।

Next Stories
1 Corona Virus: चंडीगढ़ के VIPs लॉकडाउन में कुत्ते घुमाने और इवनिंग वॉक के लिए मांग रहे कर्फ्यू पास
2 BJP विधायक ने कहा- जो लॉकडाउन तोड़कर बाहर निकलें उनके पैर में गोली मार दो, दूसरे नेता बिना कोरोना जांच रिपोर्ट देखे ही भीड़ में मास्क बांटने पहुंचे
3 रात में की पत्नी से Covid-19 पर बात, कोरोना वायरस के नहीं थे लक्षण फिर भी लगा ली फांसी
ये पढ़ा क्या?
X