ताज़ा खबर
 

Corona virus: चेन्नई से बंगाल लौटे दिहाड़ी मजदूर, क्वेरेंटाइन के लिए अलग कमरा नहीं, पेड़ों पर रहने को मजबूर

Corona Virus: ताजा मामला पश्चिम बंगाल के पुरूलिया के बलरामपुर इलाके का है। जहां चेन्नई से पश्चिम बंगाल अपने गांव पहुंचे दिहाड़ी मजदूरों को क्वेरेंटाइन में रहने के लिए घरों में अलग कमरा नहीं है ऐसे में वह पेड़ों पर मचान बनाकर रहने को मजबूर हैं।

ये तस्वीर पश्चिम बंगाल के पुरूलिया के बलरामपुर इलाकाे की है।(फोटो-ANI)

कोरोना वायरस के चलते देशभर में आम जन जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। लोग घरों से बाहर नहीं निकलने को मजबूर हैं। वहीं कई राज्यों में दिहाड़ी मजदूर घर पहुंचने के लिए पैदल ही निकल पड़े हैं। इस विकट परिस्थिति में जो लोग अन्य राज्यों से अपने घर पहुंच गए हैं, उन्हें भी कई मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। ताजा मामला पश्चिम बंगाल के पुरूलिया के बलरामपुर इलाके का है। यहां चेन्नई से पश्चिम बंगाल स्थित अपने गांव पहुंचे दिहाड़ी मजदूरों के घरों में क्वेरेंटाइन में रहने के लिए अलग कमरा नहीं है। ऐसे में वे पेड़ों पर मचान बनाकर रहने के लिए मजबूर हैं। न्यूज एजेंसी एएनआई ने ट्विटर पर तस्वीर साझा की है, जिसमें कई लोग पेड़ों पर रहते हुए दिख रहे हैं।

वैसे, पुरुलिया के इस गांव में पेड़ों में बनाए गए इस तरह के मचान सामान्य दिनों में हाथियों पर नजर रखने के काम आते हैं, लेकिन संकट के इस दौर में ये मचान ग्रामीणों के क्वेरेंटाइन के काम आ रहे हैं। यहां पहुंचे दिहाड़ी मजदूर एक या दो कमरे के घर में रहते हैं। ऐसे में वे अपने घर में क्वेरेंटाइन में नहीं रह सकते हैं, इसलिए उन्हें पेड़ों के मचान में रहना पड़ रहा है। इसके अलावा यहां आईसोलेशन सेंटर भी नहीं है।

इस वजह से भी इस तरह क्वेरेंटाइन करना इन लोगों की मजबूरी है। बता दें कि पीएम नरेंद्र मोदी के लॉकडाउन की घोषणा के बाद से देशभर के गरीब और दिहाड़ी मजदूर अपने-अपने घरों की ओर पैदल ही भूखे-प्यासे रुख कर रहे हैं। इनके इस तरह से जाने से गांवों में भी कोरोना वायरस पहुंचने की आशंका बनी हुई है।

Corona Virus in India Live Updates

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। जनसत्‍ता टेलीग्राम पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।

Next Stories
1 Coronavirus के खिलाफ जंग में अब आगे आया Indian Railways, कोच को बना दिया आइसोलेशन वॉर्ड; देखें
2 ‘शहर नहीं छोड़ेंगे तो खाएंगे क्या? 200 रुपये ही बचे हैं’, बीवी-बच्चों संग पैदल ही चंडीगढ़ से एमपी के लिए निकल पड़े लोग
3 Corona Virus: केंद्रीय मंत्री ने फोटो शेयर कर पूछा- मैं तो देख रहा हूं, क्या आप देख रहे रामायण? लोगों का फूट पड़ा गुस्सा