ताज़ा खबर
 

भारत में नहीं है कम्युनिटी ट्रांसमिशन, कोरोना संक्रमण को लेकर ICMR, स्वास्थ्य मंत्रालय के सबसे बड़े सर्वे में हुआ खुलासा

उन्होंने बताया कि कोरोना संक्रमण को लेकर देश के 83 जिलों में यह सर्वे किया गया। सर्वे के मुताबिक संक्रमण को रोकने के लिए लॉकडाउन समेत अन्य कदम सफल रहे। लॉकडाउन की वजह से संक्रमण कम हुआ। 24 हजार लोगों को शामिल किया गया।

Corona Virus, ICMR, Health MinistryICMR महानिदेशक, बलराम भार्गव। (फोटो-ANI)

कोरोना वायरस महामारी के बीच एक बड़ा खुलासा हुआ है। ICMR, स्वास्थ्य मंत्रालय के सर्वे में यह सामने आई है कि भारत में फिलहाल कम्युनिटी ट्रांसमिशन नहीं है। ICMR महानिदेशक, बलराम भार्गव ने कहा कि भारत उन देशों में है जिनमें प्रति लाख जनसंख्या पर पॉजिटिव मामलों की संख्या दुनिया में सबसे कम है। इसके साथ-साथ प्रति लाख जनसंख्या पर वायरस से मरने वालों की संख्या भी भारत में दूसरे देशों की तुलना में काफी कम है। भारत बहुत बड़ा देश है और बिमारी का प्रसार बहुत कम है। निश्चित रूप से भारत कम्युनिटी ट्रांसमिशन की स्थिति में नहीं है।

उन्होंने बताया कि कोरोना संक्रमण को लेकर देश के 83 जिलों में यह सर्वे किया गया। सर्वे के मुताबिक संक्रमण को रोकने के लिए लॉकडाउन समेत अन्य कदम सफल रहे। लॉकडाउन की वजह से संक्रमण कम हुआ।  24 हजार लोगों को शामिल किया गया। जिलों से सैंपल और सूचनाए एकत्रित किया गया। कोरोना वायरस संक्रमण को लेकर यह दुनिया का सबसे बड़ा सर्वे है। यह सर्वे हमारे देश की रणनीति को मजबूत करती है। इन जिलों के सर्वे में शामिल 0.73 फीसदी लोगों में कोरोना संक्रमण फैला है। यह परिणाम 30 अप्रैल तक की स्थिति को दर्शाता है। यह सर्वे मई के तीसरे सप्ताह में किया गया।

सीरो-सर्वेक्षण के अनुसार, आबादी के बड़े हिस्से को अब भी कोविड-19 संक्रमण का खतरा है। आईसीएमआर का कहना है कि सीरो-सर्वेक्षण दर्शाता है कि कोरोना वायरस को नियंत्रित करने में लॉकडाउन और संक्रमण को काबू करने के लिए उठाए गए कदम सफल रहे। जिन 83 जिलों में सीरो-सर्वेक्षण किया गया, उनकी 0.73 प्रतिशत आबादी के कोरोना वायरस के पहले संपर्क में आने के सबूत हैं।

गौरतलब है कि पिछले 24 घंटे में देश में कोरोना के रिकॉर्ड 9986 मामले आए और अब तक सबसे ज्यादा 357 जानें गईं। इसी के साथ अब भारत में संक्रमितों की संख्या 2 लाख 86 हजार 579 तक पहुंच गई। साथ ही कोरोना से मरने वालों की संख्या अब 8102 हो गई है। राजधानी दिल्ली में भी कोरोना मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ी है। यहां अब तक 32 हजार केस आ चुके हैं। जुलाई के अंत तक राज्य में 5.5 लाख केस का अनुमान है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 एजीआर बकाया मामले में केंद्र पर बिफरा सुप्रीम कोर्ट, कहा- हमारे फैसले की हुई गलत व्याख्या, हलफनामा दाखिल कर कारण बताएं
2 SC जज लिखवा रहे थे फैसला, तभी रोने लगा बच्चा, झल्लाकर बोले- बंद कीजिए माइक
3 ‘1990 में जब जल रहा था कश्मीर, पंडितों पर हो रहे थे जुल्म; केंद्र की सरकार को समर्थन दे रही थी बीजेपी, कांग्रेस नेता के ट्वीट पर आ रहे मजेदार कमेंट्स