ताज़ा खबर
 

Corona Virus की शंका में अस्पताल भेजी गई युवती बोली- मुझे कुछ नहीं हुआ, जबर्दस्ती पकड़ लाए, 3 दिन पहले ही लौटी है चीन से

देश में कोरोना वायरस का प्रकोप बढ़ता जा रहा है, यह वायरस बिहार की रहने वाले युवती भी इस वायरस के चपेट में आ गई है। वहीं दूसरी तरफ सरकार ने इसे देखते हुए दिल्ली के एम्स (AIIMS) अस्पताल में आईसोलेटेड वार्ड का निर्माण किया है, जहां संदिग्ध पाए जाने पर उसे वहां भर्ती कर उपचार किया जाएगा।

Sars Virus, Sars Virus in China, Sars Virus Patients all over the world, Sars Virus Precautions, Sars Virus Precautions in India, Sars Virus Precautions for Diabetic Patients, Sars Virus Symptoms, Sars Virus Symptoms in Hindi, Sars Virus Precautiuons in Hindi, Experts' Views on Sars Virus, Reason behind Sars Virus, Dangerous Sars Virus प्रतीकात्मक तस्वीर, फोटो सोर्स – इंडियन एक्सप्रेस

बिहार के छपरा जिले की रहने वाली एक युवती में कोरोना वायरस के लक्षण पाए गए है। बताया जा रहा है कि युवती कुछ दिनों पहले ही चीन से वापस लौटी है। बता दें कि युवती की तबीयत खराब होने के बाद छपरा जिला अस्पताल के आईसीयू में भर्ती कराया गया था। लेकिन जब कोरोना वायरस से मिलते- जुलते लक्षण दिखाई दिए तो युवती को तुरंत ही पटना के पीएमसीएच मेंडिकल कॉलेज में रेफर कर दिया गया है। युवती का पीएमसीएच में इलाज चल रहा है।

चीन से लौटा युवक कोराना वायरस के चपेट में: पटना मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल (PMCH) के सुपरिटेंडेंट ने कहा कि छपरा की एक लड़की जो हाल ही में चीन से लौटी है उसके अंदर कोरोना वायरस के लक्षण देखे गए हैं। उसका इलाज चल रहा है। वहीं इससे पहले राजस्थान के जयपुर में भी कोराना वायरस के मामला सामने आया था। उसे सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जयपुर में भर्ती युवक भी चीन  में पढ़ाई कर रहा था।

Hindi News Live Hindi Samachar 27 January 2020: देश-दुनिया की तमाम बड़ी खबरे पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

युवती ने किया इनकार: चीन से लौटीं एकता कुमारी में कोरोना वायरस के लक्षण दिखने पर छपरा के एक अस्पताल के ICU में भर्ती करवाया गया था। एकता ने कहा कि ‘मुझे कुछ नहीं हुआ है, न कोई कफ है न कोई खांसी है मुझे कलकत्ता एरपोर्ट से रिलीज कर दिया गया था, तीन दिन से घर पर हूं। 98 बुखार आने पर जबरदस्ती अस्पताल में पकड़ कर ले आए हैं।’

गोवा ने विशेष कार्यबल का गठन किया: बता दें कि कोराना वायरस के प्रकोप को देखते हुए गोवा सरकार ने कोरोना वायरस के संभावित मामलों पर नजर रखने के लिए एक विशेष कार्यबल का गठन करने का फैसला किया है। स्वास्थ्य मंत्री विश्वजीत राणे ने रविवार (26 जनवरी) को कहा कि भारत के बाहर के विषाणु से प्रभावित क्षेत्रों से यहां आने वाले लोगों पर नजर रखी जाएगी।

एम्स में बनाए गए है आईसोलेटेड वार्ड: वहीं दूसरी तरफ देश के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल और शोध संस्थान एम्स (AIIMS) में कोरोना वायरस के जोखिम को देखते हुए इससे निपटने के लिए एक अलग (आईसोलेटेड) वार्ड का निर्माण किया है, जहां संदिग्ध पाए जाने पर उसे वहां भर्ती कर उपचार किया जाएगा।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 अपने क्षेत्र में मुसलमानों को मिलने वाले फायदे रोक दूंगा, कर्नाटक के भाजपा विधायक ने दिया बयान
2 एयर इंडिया को बेचने के खिलाफ भाजपा सांसद, कहा- यह सौदा राष्ट्र विरोधी, सरकार के इस कदम के खिलाफ कोर्ट जाऊंगा
3 शोएब जामई ने केवल 65 फीसदी भारतीयों को दी गणतंत्र दिवस की बधाई, कहा- 35% ने बीजेपी को दिया है वोट
IPL 2020 LIVE
X