ताज़ा खबर
 

COVID-19 से विश्व में 10 लाख से अधिक की मौत, भारत में रोज जा रहीं 1000 जान! पर 83.01% है रिकवरी रेट

सिरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया ने Gavi, Vaccine Alliance and Bill & Melinda Gates Foundation के साथ वैक्सीन के करार को लेकर एलान किया है कि 2021 में 100 मिलियन कोरोना वैक्सीन अतिरिक्त बनाई जाएंगी जिससे की भारत के गरीब और मिडिल क्लास लोगों को यह वैक्सीन मुहैया कराई जा सके।

Edited By आकाश तिवारी नई दिल्ली | Updated: September 29, 2020 2:44 PM
कोरोना वायरस से मरने वालों लोगों में सबसे ज्यादा अमेरिकी लोग हैं।

कोरोना के वायरस महामरी  के चलते दुनियाभर में स्थिति भयावह बनी हुई है। दुनिया के अन्य देशो के साथ-साथ भारत में भी कोरोना के मामले थमते नजर नहीं आ रहे हैं। रोज़ाना करीब 1 लाख संक्रमितों के साथ भारत जल्द ही विश्व में सर्वाधिक कोरोना मामलों वाला देश बन जाएगा। हालांकि भारत में संक्रमण को हराने वालों का आंकड़ा भी दूसरे देशों के मुताबिक अच्छा है और मृत्यु दर भी दूसरे देशों के मुताबिक कम है।

अगर कोरोना मामलों की बात वैश्विक स्तर पर की जाए तो मृतकों की संख्या 10 लाख तक पहुंच गई है और रोज़ाना औसतन 5000 लोगों की संक्रमण के चलते मौत हो रही है। यह आंकड़ें जॉन्स हॉपकिन्स विश्वविद्यालय ने जारी किए है। वहीं, कोरोना वायरस से मरने वालों लोगों में सबसे ज्यादा अमेरिकी लोग हैं। यहां कोरोना महामारी के चलते अबतक 2,05,000 लोगों की मौत हो चुकी है। मौत के आंकड़ों की सूची में दूसरे नंबर पर ब्राजील है जहां करीब 1,42,000 लोगों को कोरोना मौत की नींद सुला चुका है। 95 हजार मौतों के साथ भारत तीसरे नंबर है, वहीं इसके बाद मैक्सिको का नंबर है जहां कोरोना के चलते 76 हजार से अधिक लोग अपनी जान इस संक्रमण के चलते गंवा चुके हैं।

कोरोना से ही रही मौत के आंकड़ें के विश्व के सभी पुराने रिकॉर्ड तोड़ दिए है क्योंकि अगर हम हर वर्ष भयानक बिमारी एड्स से मरने वालों की बात करें तो करीब 6,90,000 लोगों की जान हर वर्ष एड्स से जाती है लेकिन बीते 10 महीनों में ही कोरोना से करीब 10 लाख लोगों की मौत हो चुकी है। चूंकि कोरोना वायरस का पहला मामला चीन के वुहान शहर में 2019 के अंत में सामने आया था, जहां इससे पहली मौत जनवरी में हुई थी।

कोरोना से हो रही मौत और बढ़ते मामलों के संबंध में मिशिगन विश्वविद्यालय के प्रोफेसर डॉ. होवार्ड मर्केल ने कहा, ‘‘ यह सिर्फ एक संख्या नहीं है, यह लोग हैं। यह वे लोग हैं, जिन्हें हम प्यार करते थे। यह हमारे भाई, हमारी बहनें हैं। ये वे लोग हैं, जिन्हें हम जानते थे। अगर आप मानवीय पहलू का सामना नहीं करते तो आपके लिए अमूर्त बनना बहुत आसान है।’’

इसी बीच राहत की खबर यह है कि कि सिरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया ने Gavi, Vaccine Alliance and Bill & Melinda Gates Foundation के साथ वैक्सीन के करार को लेकर एलान किया है कि 2021 में 100 मिलियन कोरोना वैक्सीन अतिरिक्त बनाई जाएंगी जिससे की भारत के गरीब और मिडिल क्लास लोगों को यह वैक्सीन मुहैया कराई जा सके। कोरोना वैक्सीन बनाने के विस्तार का एलान अगस्त में की  गई घोषणा के बाद का है। सिरम इंस्टीट्यूट का कहना है कि कुल 200 मिलियन वैक्सीन भारत में दी जाएगी।

कोरोना के बढ़ते मामलें भारत में चिंताजनक तो बने ही हुए है लेकिन विश्व में सर्वाधिक रिकवरी रेट और सबसे कम मृत्यु दर के चलते लोग थोड़ी राहत की सांस ले रहे है। भारत में कोरोना संक्रमण से ठीक होने की दर 83.01 फीसदी है वहीं रोज़ाना 75 हज़ार के करीब मामलों में रोज़ 1 हज़ार के करीब लोगों की मौत हो रही है। 60 लाख से ज़्यादा मामलों के साथ करीब 51 लाख लोग कोरोना संक्रमण से मुक्त हो चुके है।

बीते 24 घंटे में भारत में कोरोना संक्रमण के 70,589 नए मामले सामने आए है और कुल मामले 61,45,291 हो गए है। वहीं बीते 24 घंटे में 776 और लोगों की मौत हई है जिसके बाद कुल मृतकों की संख्या 96,318 हो गई है।

60 लाख से ज़्यादा कुल मामले में 51 लाख लोग संक्रमण मुक्त हो चुके है और देश में अभी 9,47,576 मरीजों का कोरोना वायरस का इलाज जारी है, जो कुल मामलों का 15.42 प्रतिशत है।वहीं भारत में कोरोना संक्रमण से मरने वालों की मृत्यु 1.57 प्रतिशत है।

भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद के अनुसार देश में 28 सितम्बर तक कुल 7,31,10,041 लोगों की सैंपलिंग जांच की गई है और बीते दिन 11,42,811 लोगों की सैंपलिंग जांच की गई है।

Next Stories
1 अगर वायरस नहीं लेता है जान, तो जलवायु परिवर्तन हमें मार डालेगा- UN नेताओं ने चेताया
2 आर्मेनिया और अजरबैजान में भड़की जंग, 16 सैनिकों समेत 18 की मौत, 100 से अधिक जख्मी
3 नरेंद्र मोदी के PM रहते भारत और पाकिस्तान में नहीं हो सकता है क्रिकेट मैच- बोले शाहिद अफरीदी
यह पढ़ा क्या?
X