ताज़ा खबर
 

कोरोनाः ‘जितने जिले, उतनी चुनौतियां’, DMs को PM मोदी का संदेश- गांवों में संक्रमण फैलने से रोकना है

नरेंद्र मोदी ने कहा कि हमारे देश में जितने जिले हैं, उतनी ही अलग अलग चुनौतियां भी हैं। आप अपने जिले की चुनौतियों को अच्छे से समझते हैं। इसलिए जब आपका जिला जीतता है, तो देश जीतता है। आपका जिला कोरोना को हराता है, तो देश कोरोना को हराता है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि पीएम केयर्स के माध्यम से देश के हर जिले के अस्पतालों में ऑक्सीजन प्लांट्स लगाने पर तेजी से काम किया जा रहा है (फोटो -ANI)

देश में बढ़ते कोरोना संकट के बीच 9 राज्यों के 46 जिलाधिकारियों के साथ पीएम नरेंद्र मोदी ने ऑनलाइन संवाद किया है। प्रधानमंत्री ने अधिकारियों को टेस्टिंग, ट्रैकिंग और ट्रीटमेंट के मंत्र को याद दिलाया। नरेंद्र मोदी ने कहा कि हमारे देश में जितने जिले हैं, उतनी ही अलग अलग चुनौतियां भी हैं। आप अपने जिले की चुनौतियों को अच्छे से समझते हैं। इसलिए जब आपका जिला जीतता है, तो देश जीतता है। आपका जिला कोरोना को हराता है, तो देश कोरोना को हराता है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि कोरोना की इस दूसरी वेव में अभी ग्रामीण और दुर्गम क्षेत्रों में हमें बहुत ध्यान देना है। इसमें फील्ड में बिताया आपका अनुभव और आपकी कुशलता बहुत काम आने वाली है। हमें गांव-गांव में जागरूता भी बढ़ानी और उन्हें बेहतर इलाज की सुविधाओं से भी जोड़ना है। हमारी जिम्मेदारी संक्रमण को रोकने से फैलने की भी है। ये तभी संभव है जब हमें संक्रमण के स्केल की सही जानकारी होगी।पीएम ने अधिकारियों से कहा कि कालाबाजारी पर लगाम होनी चाहिए, ऐसा करने वालों पर सख्त कार्रवाई होनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि हॉस्पिटल में कितने बेड उपलब्ध हैं, कहां उपलब्ध हैं? ये जानकारी आसानी से उपलब्ध होने पर लोगों की सहूलियत बढ़ती है। प्रधानमंत्री ने कहा कि इस वायरस के खिलाफ हमारे हथियार क्या हैं? हमारे हथियार हैं- लोकल कन्टेनमेंट जोन, एग्रेसिव टेस्टिंग और लोगों तक सही और पूरी जानकारी।

पीएम ने कहा कि जिलों में मेडिकल के साथ ही हर चीज की सप्लाई पर्याप्त हो, ये सुनिश्चित करना भी जरूरी है। आपको अपनी जरूरतों को तेजी से रेखांकित करके, उनका प्रबंध करना है। चुनौती जरूर बड़ी है, लेकिन हमारा हौसला उससे भी बड़ा है। प्रधानमंत्री ने कहा कि टीकाकरण कोविड से लड़ाई का एक सशक्त माध्यम है, इसलिए इससे जुड़े हर भ्रम को हमें मिलकर दूर करना है। कोरोना के टीके की सप्लाई को बहुत बड़े स्तर पर बढ़ाने के निरंतर प्रयास किए जा रहे हैं।

पीएम केयर्स के माध्यम से देश के हर जिले के अस्पतालों में ऑक्सीजन प्लांट्स लगाने पर तेजी से काम किया जा रहा है। कई अस्पतालों में ये प्लांट काम करना शुरु भी कर चुके हैं। जिन जिलों को ये प्लांट आवंटित होने वाले हैं, वहां जरूरी तैयारी पहले से पूरी हों, ताकि ये प्लांट जल्द लग सके।

Next Stories
1 108 MP कैमरा और 12GB रैम वाला सैमसंग का ये 5G फोन सिर्फ 26,000 रुपये में खरीदने का मौका, जानें कैसे
2 ट्विटर वॉरः क्या नीतीश दरभंगा गए हैं?- अस्पताल के जर्जर हाल पर चिदंबरम का सवाल; मंत्री का जवाब- CM आपकी तरह विरासत में कुर्सी नहीं पाए हैं
3 कोरोनाः 90% है हमारा रिकवरी रेट- यूपी CM का दावा, पर क्या है जमीनी हकीकत?
ये  पढ़ा क्या?
X