ताज़ा खबर
 

कोरोना: पीएम मोदी ने किया ऑक्सिजन पर मंथन, अमरिंदर बोले- हमारे यहां टीका कम

देश में तीसरी लहर की आशंका को लेकर प्रधानमंत्री मोदी ने शुक्रवार को समीक्षा बैठक की । उन्होंने कहा कि 1500 ऑक्सीजन प्लांट बनाने के काम पर तेजी लाई जानी चाहिए।

नवी मुंबई के एक वैक्सिनेशन सेंटर की तस्वीर। एक्सप्रेस आर्काइव

कोरोना के केस कम हुए तो बाजारों और पर्यटन स्थल पर भीड़ दिखने लगी। ऐसे में सरकार ने लोगों को चेतावनी दी है कि अभी खतरा टला नहीं है। प्रधानमंत्री मोदी ने भी आज ऑक्सीजन को लेकर उच्चस्तरीय बैठक की। कोरोना की तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए उन्होंने देशभर में 1500 से ज्यादा पीएसए ऑक्सीजन संयंत्र लगाने का आदेश दिया है। उन्होंने कहा कि इन संयंत्रों पर काम चल रहा है लेकिन और तेजी की जरूरत है।

पीएमओ के मुताबिक इन ऑक्सीजन प्लांट्स से चार लाख से ज्यादा बेड तक ऑक्सीजन की आपूर्ति की जा सकेगी। प्रधानमंत्री ने यह भी कहा कि राज्य सरकारें मिलकर काम करें ताकि जल्दी से इन प्लांट्स का संचालन शुरू कर दिया जाए। इसके अलावा अस्पताल के कर्मचारियों के ठीक तरीके से प्रशिक्षण भी दिया जाए। बता दें कि कोरोना की दूसरी लहर के दौरान सबसे बड़ा संकट ऑक्सीजन का ही पैदा हुआ था। इससे सरकार की काफी फजीहत भी हुई थी।

अमरिंदर बोले, वैक्सीन खत्म
कई राज्य लगातार कह रहे हैं कि उनके पास पर्याप्त वैक्सीन का स्टॉक नहीं है। पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने भी केंद्र सरकार से गुहार लगाई है। उन्होंने कहा कि अब राज्य के पास केवल एक दिन का स्टॉक है। वहीं पंजाब सरकार ने शुक्रवार से अब नाइट कर्फ्यू और वीकेंड कर्फ्यू भी हटा लिया है। वहीं अमरिंदर सरकार ने सिनेमा, कॉलेज, हॉल, मॉल, रेस्तरां भी खुलने की इजाजत दे दी गई है।

आधे से अधिक केस दो राज्यों से
स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक कोरोना के आधे से ज्यादा केस केवल दो राज्यों से सामने आ रहे हैं। इसमें महाराष्ट्र और केरल शामिल हैं। इन राज्यों से लगभग 53 फीसदी केस मिल रहे हैं। पिछले 24 घंटे में सबसे ज्यादा केरल से 13772 औऱ दूसरे नंबर पर महाराष्ट्र से 9083 नए केस मिले। वहीं 80 फीसदी मामले 90 जिलों से आ रहे हैं।

सामने आ रही लापरवाही
कई देशों में कोरोना के मामले दोबारा बढ़ रहे हैं। वहीं भारत में अभी केस लगातार कम हो रहे हैं। हालांकि लोगों ने लापरवाही बरतनी भी शुरू कर दी है। सरकार ने लोगों कि हिदायत दी है कि इस समय सावधानी बेहद जरूरी है। बाजारों और पर्यटन स्थलों पर भी भीड़ देखने को मिल रही है। मसूरी के केम्प्टी फॉल की तस्वीर वायरल होने के बाद यहां नियम लागू कर दिया गया है कि एक बार में केवल 50 लोग ही जा सकते हैं।

Next Stories
1 परिसीमन आयोग का फैसला, जम्मू-कश्मीर में बढ़ जाएंगी विधानसभा की 7 सीटें
2 1000 रुपये से कम में आते हैं माइक्रोमैक्स, लावा और आईटेल जैसी कंपनी के ये 4 फोन, जानें खूबियां
ये पढ़ा क्या?
X