कोरोनाः बैठक में केजरीवाल ने तोड़ा प्रोटोकॉल, टोककर बोले PM मोदी- ये अनुचित; हाथ जोड़ बोले CM- सर, माफी चाहता हूं

पीएम-सीएम मीट में केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में अगर ऑक्सीजन की फ्रैक्ट्री नहीं है तो क्या दिल्ली के 2 करोड़ लोगों को ऑक्सीजन नहीं मिलेगी? अगर दिल्ली में फैक्ट्री नहीं है तो क्या जिस राज्य में है वो नहीं देंगे।

Corona, Arvind Kejriwal, BJPप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना संकट को लेकर आज बैठक की (फोटो- ANI)

कोरोना संकट को लेकर प्रधानमंत्री और राज्यों के मुख्यमंत्रियों के बीच हुई बैठक में जमकर राजनीति देखने को मिली। सरकारी सूत्रों के अनुसार पीएम के साथ हुई बातचीत के दौरान प्रोटोकॉल तोड़ते हुए केजरीवाल ने संवाद का हिस्सा प्रसारित कर दिया जिससे केंद्र सरकार उनसे खफा है। प्रधानमंत्री ने उन्हें इसके लिए टोका जिसके बाद केजरीवाल ने हाथ जोड़ कर कहा कि सर मैं इस बात का आगे से ध्यान रखूंगा।

सूत्रों के अनुसार अरविंद केजरीवाल ने पहली बार मुख्यमंत्रियों के साथ हुए प्रधानमंत्री की बैठक को सार्वजनिक कर दिया। केंद्र का आरोप है कि केजरीवाल का पूरा भाषण किसी समाधान के लिए नहीं था। बल्कि राजनीति करने और जिम्मेदारी से बचने के लिए था। सूत्रों के अनुसार केजरीवाल ने ऑक्सीजन की सप्लाई और एयरलिफ्ट करने के मुद्दे को उठाया था लेकिन ये सब काम केंद्र सरकार की तरफ से पहले से ही किए जा रहे हैं। प्रधानमंत्री ने केजरीवाल को रोकते हुए उनसे कहा कि ये प्रसारण करना हमारे परंपरा और प्रोटोकॉल के खिलाफ है। जिसके बाद केजरीवाल ने हाथ जोड़कर कहा कि मैं इस बात का ध्यान रखूंगा।

इधर केंद्र की तरफ से लगाए गए आरोप पर दिल्ली सरकार की तरफ से जवाब दिया गया है। सीएमओ की तरफ से कहा गया है कि सीएम का संबोधन लाइव साझा किया गया क्योंकि केंद्रीय सरकार की ओर से कभी कोई निर्देश, लिखित या मौखिक नहीं आया है कि उक्त बातचीत को लाइव साझा नहीं किया जा सकता है।

अरविंद केजरीवाल ने पीएम से ऑक्सीजन एक्सप्रेस चलाने की मांग की। लेकिन समचार एजेंसी एएनआई ने सरकारी सूत्र के हवाले से बताया है कि मुख्यमंत्री केजरीवाल ने इस बाबत इंडियन रेलवे से बात ही नहीं की है। बताते चलें कि कई राज्यों में ऑक्सीजन ट्रेनों के माध्यम से चलाया जा रहा है।

पीएम-सीएम मीट में केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में अगर ऑक्सीजन की फ्रैक्ट्री नहीं है तो क्या दिल्ली के 2 करोड़ लोगों को ऑक्सीजन नहीं मिलेगी? अगर दिल्ली में फैक्ट्री नहीं है तो क्या जिस राज्य में है वो नहीं देंगे।

अगर कोई राज्य दिल्ली कोटे की ऑक्सीजन रोक लें तो मैं केंद्र में किससे बात करूंगा? सीएम केजरीवाल ने कहा कि प्रधानमंत्री ने सही समय में बैठक बुलाई है। हम दिल्ली के लोगों की तरफ से हाथ जोड़कर अपील कर रहे हैं कि कठोर कदम नहीं उठाया गया तो बड़ी त्रासदी हो सकती है।

Next Stories
1 कोरोनाः 1 मिस्ड कॉल पर BJP सदस्यता मिल सकती है, पर 1 हजार कॉल्स पर 1 सिलेंडर व बेड नहीं मिल पाता- आचार्य का ट्वीट, लोग करने ऐसे कमेंट्स
2 लालू ने बगैर देखे ही राबड़ी को कर दिया था ‘पास’, शादी के बाद फैल गई थी मौत की फर्जी खबर, तब पत्नी को आकर दिए थे ‘गुप्त दर्शन’
3 कोरोना केस में SC केंद्र जवाब देने को नहीं था तैयार, सुनवाई टली; हरीश साल्वे ने खुद को मामले से अलग कर लिया
आज का राशिफल
X