ताज़ा खबर
 

एक ही बर्तन में पकाई 918 किलो खिचड़ी, भारत ने बना डाला वर्ल्‍ड रिकॉर्ड

खानसामा संजीव कपूर के नेतृत्व में 50-60 रसोइयों की टीम ने इसे तैयार किया।

Author नई दिल्ली | November 5, 2017 8:08 AM
एक स्थान पर एक ही बर्तन में इतनी बड़ी मात्रा में तैयार व्यंजन को देखने ‘गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड’ की एक टीम भी मौजूद थी।

भारतीय व्यंजन ‘खिचड़ी’ को शनिवार को विश्व खाद्य मेले में एक पौष्टिक संपूर्ण आहार के रूप में पेश किया गया। ऐतिहासिक इंडिया गेट के मैदान में आयोजित विश्व खाद्य मेला एवं सम्मेलन के दूसरे दिन आज एक बड़ी कड़ाही में 800 किलो से ज्यादा खिचड़ी तैयार की गई। इसमें खिचड़ी की ब्राडिंग भारत के संपूर्ण आहार के तौर पर गई। एक स्थान पर एक ही बर्तन में इतनी बड़ी मात्रा में तैयार व्यंजन को देखने ‘गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड’ की एक टीम भी मौजूद थी। गिनीज विश्व रिकॉर्ड के एक अधिकारी ने कहा कि भारत ने एक ही बर्तन में 918 किलो खिचड़ी पकाकर गिनीज विश्व रिकॉर्ड में नाम दर्ज कराया है।

केन्द्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल, राज्यमंत्री निरंजन ज्योति, पतंजलि योग के रामदेव और जाने-माने खानसामा संजीव कपूर ने बड़ी कड़ाही में तैयार खिचड़ी में मीडिया के समक्ष जीरे का छौंक लगाया और ‘कड़ी पत्ता’ डाला। खानसामा संजीव कपूर के नेतृत्व में 50-60 रसोइयों की टीम ने इसे तैयार किया। सवेरे से ही इसे धीमी आंच पर पकाया जा रहा था। खिचड़ी को बड़े-बड़े डिब्बों में रखकर विदेशी मेहमानों के साथ साथ राजधानी की कुछ कालोनियों में वितरित किया जाएगा।

केन्द्रीय खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय द्वारा तीन से पांच नवंबर तक आयोजित ‘विश्व खाद्य भारत-2017’ में खिचड़ी को भारत के आहार के रूप में प्रचारित किया जा रहा है। हरसिमरत कौर ने खिचड़ी को भिन्नता में एकता का प्रतीक बताया। उन्होंने कहा कि पूरे देश में किसी न किसी रूप में खिचड़ी पकाई जाती है। अमीर-गरीब, यह हर-एक का खाना है। हम इसे भारत के आहार के रूप में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पेश करेंगे। खिचड़ी की अपनी संदुरता है। आज गुरु पर्व के दिन तैयार की गई इस खिचड़ी को विदेशी मेहमानों के साथ साथ आम जनता और गरीब बच्चों को वितरित किया जायेगा।

योग गुरू रामदेव ने खिचड़ी को संपूर्ण आहार बताया। उन्होंने कहा यह भारत का आहार है, उपहार है। खिचड़ी को विश्व पटल पर पेश करने के लिए उन्होंने सरकार का आभार जताया। उन्होंने कहा, “खिचड़ी का विश्व रिकॉर्ड बनेगा, भारत के खाद्य बाजार को नया आधार मिलेगा। यह स्वदेशी का प्रतीक है, यह विदेश में धूम मचायेगी।” जाने-माने खानसामा संजीव कपूर ने कहा, ‘‘आज खिचड़ी का दिन है। यह पूरे देश का प्रतिनिधित्व करने वाली खिचड़ी है। यह चावल, मूंग दाल, ज्वार, रागी, गाजर आदि से बनी है। सूत्रों के अनुसार, खिचड़ी में एलटी फूड्स के चावल, टाटा की छिल्के वाली मूंग की दाल, मसाले और टाटा नमक तथा पतंजलि का घी, हल्दी और जीरा इस्तेमाल किया गया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App