ताज़ा खबर
 

दिलीप घोष ने केंद्रीय बलों का किया बचाव तो बोले टीएमसी प्रवक्ता- बॉलीवुड की फिल्मों में भी ऐसा एनकाउंटर नहीं देखा, गर्दन पर मारी गोलियां

पश्चिम बंगाल भाजपा के अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा कि उपद्रवी लोगों को उकसा कर कुव्यवस्था का निर्माण करना ही ममता बनर्जी की कुंजी है।

coochbehar incident, BJP, TMCटीवी डिबेट में पश्चिम बंगाल भाजपा के अध्यक्ष दिलीप घोष ने केंद्रीय बलों का बचाव किया तो तृणमूल प्रवक्ता मानव जायसवाल ने कहा कि हमने बॉलीवुड फिल्मों में भी ऐसा एनकाउंटर नहीं देखा है। (एक्सप्रेस फोटो/पार्थ पॉल- ट्विटर/Manavj01)

चौथे चरण के मतदान के दौरान कूचबिहार में सीआईएसएफ के द्वारा की गई फायरिंग में चार लोग के मारे जाने पर टीवी डिबेट में पश्चिम बंगाल भाजपा के अध्यक्ष दिलीप घोष ने केंद्रीय बलों का बचाव किया। दिलीप घोष ने कहा कि सीआईएसएफ ने अपने बचाव में ऐसा कदम उठाया। इसपर जवाब देते हुए टीएमसी प्रवक्ता ने कहा कि हमने बॉलीवुड फिल्मों में भी ऐसा एनकाउंटर नहीं देखा है। इस एनकाउंटर में लोगों के गर्दन पर गोली मारी गई।

जी टीवी पर आयोजित डिबेट शो में पश्चिम बंगाल के भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि कूचबिहार में हुई घटना ममता बनर्जी के उकसाने के कारण हुई है। दिलीप घोष ने कहा कि कूचबिहार के उस इलाके में जैसी घटना केंद्रीय बलों के साथ हुई वैसी ही घटना पिछले दिनों मेरे साथ ही हुई थी। कूचबिहार के उस इलाके में मेरे ऊपर भी कुछ लोगों ने हमला किया था। मेरी गाड़ियों पर भी बम मारा गया था और मुझे भी चोटें आई थी। साथ ही उन्होंने कहा कि उपद्रवी लोगों को उकसा कर कुव्यवस्था का निर्माण करना ही ममता बनर्जी की कुंजी है।

आगे दिलीप घोष ने कहा कि ममता बनर्जी पिछले कुछ दिनों से केंद्रीय बलों के खिलाफ लोगों को उकसा रही थी। चुनाव के दौरान कुछ लोगों ने कूचबिहार में बूथ लूटने का प्रयास किया। इस दौरान जब केंद्रीय बलों ने उपद्रवी लोगों को रोकने की कोशिश की तो उनमें से कुछ लोगों ने सीआईएसएफ जवानों के हथियार को लूटने का प्रयास किया। जिसके बाद अपने बचाव में सीआईएसएफ जवानों में जवाबी कार्रवाई की तो उसमें चार लोग मारे गए।

दिलीप घोष के इन बातों का जवाब देते हुए डिबेट में मौजूद तृणमूल प्रवक्ता मानव जायसवाल ने कहा कि कूचबिहार में मारे गए युवकों के पैर और कमर में गोली नहीं मारी गई बल्कि उनके गर्दन और पीठ में गोली मारी गई। हमने बहुत सारी बॉलीवुड फ़िल्में देखी है लेकिन उन फिल्मों में भी हमने ऐसा एनकाउंटर नहीं देखा है। आगे तृणमूल प्रवक्ता ने सवाल पूछते हुए कहा कि आखिर क्यों कूचबिहार में भीड़ को रोकने के लिए आंसू गैस और लाठीचार्ज के बजाय गोली चलाई गई। इसके अलावा मानव जायसवाल ने यह भी कहा कि कई मतदान केंद्रों पर सीआईएसएफ के जवान लोगों को वोट देने से भी रोक रहे हैं।  

बता दें कि पश्चिम बंगाल में चौथे चरण के मतदान के दौरान भाजपा और टीएमसी कार्यकर्ता आपस में उलझ गए, जिसके बाद पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा। इस दौरान कूचबिहार के सीतल्कूची में उपद्रवियों ने फायरिंग की। सीआईएसएफ ने अपने ऊपर हमले के बाद जवाबी कार्रवाई करते हुए कथित तौर पर गोलियां चलाई, जिसमें चार लोग मारे गए।

Next Stories
1 CAA पर एंकर ने पूछा सवाल तो जावेद अख्तर से मिली हिदायत, बोले- जर्नलिस्ट को रहना चाहिए न्यूट्रल, देखिए जवाब
2 कैमरे पर छलका दर्दः लीलावती अस्पताल के डॉक्टर बोले- जान बचाने के लिए चोरी करके वैक्सीन, रेमडेसिवीर का कर रहे जुगाड़
3 वायरल वीडियोः शिवराज की पुलिस ने कैसे भांजी निहत्थे ग्रामीणों पर लाठियां, देखें
यह पढ़ा क्या?
X