scorecardresearch

12 राज्य, 3500 किलोमीटर और 150 दिन तक चलेगी कांग्रेस की ‘भारत जोड़ो यात्रा’; 7 सितंबर से होगी शुरू

जयराम रमेश ने कहा, “भय, कट्टरता और पूर्वाग्रह की राजनीति और आजीविका विनाश, बढ़ती बेरोजगारी और बढ़ती असमानताओं की राजनीति का विकल्प प्रदान करने के लिए एक विशाल राष्ट्रीय प्रयास भारत जोड़ो यात्रा में भाग लें और उसका हिस्सा बनें।”

12 राज्य, 3500 किलोमीटर और 150 दिन तक चलेगी कांग्रेस की ‘भारत जोड़ो यात्रा’; 7 सितंबर से होगी शुरू
मंगलवार, 9 अगस्त, 2022 को नई दिल्ली में एआईसीसी मुख्यालय में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए गौरव गोगोई के साथ कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जयराम रमेश। (पीटीआई फोटो)

कांग्रेस पार्टी “कश्मीर से कन्याकुमारी तक भारत जोड़ो यात्रा” निकालने जा रही है। यात्रा अगले 7 सितंबर से शुरू होगी और इस दौरान पार्टी खुद को जनता के बीच पहुंचाने की कोशिश करेगी। पिछले काफी समय से केंद्रीय सत्ता और अधिकतर सूबों में भी सत्ता से बाहर होने के कारण वह खुद को जनता से दूर महसूस कर रही है। आजादी के 75 साल पूरे होने पर कांग्रेस पार्टी 150 दिन में पूरे 3500 किमी की दूरी तय करेगी। खास बात यह है कि इस यात्रा में पार्टी के शीर्ष नेता और पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी भी शामिल होंगे।

अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के महासचिव और पार्टी के संचार विभाग के प्रमुख जयराम रमेश ने कहा, “कांग्रेस पार्टी यात्रा को 80 साल पहले शुरू हुए भारत छोड़ो आंदोलन के साथ कनेक्ट कर रही है। 9 अगस्त 1942 को महात्मा गांधी के नेतृत्व में ‘अंग्रेजों भारत छोड़ो आंदोलन’ शुरू किया गया था। इसके ठीक पांच साल बाद अंग्रेजों ने भारत को छोड़कर देश को आजाद कर दिया था।”

‘भारत छोड़ो आंदोलन’ के 80 साल पूरे होने के मौके पर मंगलवार को पार्टी ने ‘भारत जोड़ो आंदोलन’ शुरू करने का ऐलान किया। कांग्रेस पार्टी की यह यात्रा देश के 12 राज्यों और दो केंद्र शासित प्रदेशों से होकर गुजरेगी।

भय, कट्टरता और पूर्वाग्रह की राजनीति का विकल्प देने के लिए लोगों से आगे आने का आह्वान

उन्होंने कहा कि पार्टी सभी से अपील करती है कि “भय, कट्टरता और पूर्वाग्रह की राजनीति और आजीविका विनाश, बढ़ती बेरोजगारी और बढ़ती असमानताओं की राजनीति का विकल्प प्रदान करने के लिए एक विशाल राष्ट्रीय प्रयास भारत जोड़ो यात्रा में भाग लें और उसका हिस्सा बनें।” यात्रा का समापन 30 जनवरी को महात्मा गांधी की शहादत की वर्षगांठ के साथ होगा। लेकिन पार्टी सूत्रों ने कहा कि यह एक हफ्ते बाद भी खत्म हो सकता है।

पार्टी सूत्रों के अनुसार, यात्रा 68 संसदीय क्षेत्रों और 203 विधानसभा सीटों को कवर करेगी। जिन राज्यों को कवर किया जाएगा उनमें तमिलनाडु, केरल, कर्नाटक, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, महाराष्ट्र, राजस्थान, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, दिल्ली, पंजाब, चंडीगढ़ और जम्मू-कश्मीर शामिल हैं। मजे की बात यह है कि गुजरात और हिमाचल प्रदेश, जहां इस साल के अंत में चुनाव होने हैं, सूची में शामिल नहीं हैं।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट