ताज़ा खबर
 

अमित शाह की मुलाकात के बाद कांग्रेस ने लिखी माधुरी और रतन टाटा को चिट्ठी, जान‍िए क्या कहा

मुलाकात के एक दिन बाद यानी गुरुवार (7 जून) को कांग्रेस नेता संजय निरुपम ने माधुरी दीक्षित और रतन टाटा को पत्र लिखे हैं। पत्र में उन्होंने भाजपा के चार साल के शासनकाल की खामियों से अवगत करवाया है। निरुपम ने अमित शाह की बातों और उनके दावों को झूठ का पुलिंदा करार दिया है।

मुंबई में जनसभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस नेता संजय निरुपम। Express Photo by Prashant Nadkar

मशहूर उद्योग​पति रतन टाटा और फिल्म अभिनेत्री माधुरी दीक्षित से भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने बुधवार (6 जून) को मुलाकात की थी। इन दोनों हस्तियों के साथ मुलाकात के वक्त महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस भी उनके साथ थे। मुलाकात के एक दिन बाद यानी गुरुवार (7 जून) को कांग्रेस नेता संजय निरुपम ने माधुरी दीक्षित और रतन टाटा को पत्र लिखे हैं। पत्र में उन्होंने भाजपा के चार साल के शासनकाल की खामियों से अवगत करवाया है।

कांग्रेस नेता संजय निरुपम ने अपने पत्र में लिखा है,”भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस के साथ आपसे मुलाकात की है। उन्होंने आपको पुस्तिका भेंट की है और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार की चार साल की खूबियों के बारे में जानकारी दी है। उनका आपसे मिलने जाना 2019 में होने जा रहे लोकसभा चुनावों से पहले चलाए गए कैंपेन ‘सहयोग के लिए संपर्क’ का हिस्सा है। इस संबंध में, मैं आपको अवगत करवाना चाहता हूं कि ये किताब झूठ के पुलिंदे के अलावा और कुछ भी नहीं है।” भाजपा की विफलताओं का उल्लेख करते हुए कांग्रेस नेता संजय निरुपम ने उपचुनावों में लगातार उनकी हार का भी जिक्र किया है। उन्होंने इन पत्रों की प्रतियों को अपने ट्विटर हैंडल पर भी साझा किया है।

बता दें कि इससे पहले बुधवार (6 जून) को निरुपम ने आरोप लगाया था कि अमित शाह के मुंबई दौरे से पहले पुलिस ने उन्हें उनके घर में नजरबंद कर दिया है। अपने ‘संपर्क फॉर समर्थन’ अभियान के लिए भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने बुधवार (6 जून) को उद्योगपति रतन टाटा और ​अभिनेत्री माधुरी दीक्षित और उनके पति डॉ. श्रीराम माधव नेने से मुलाकात की थी। ये अभियान मई 2018 में शुरू किया गया था। ‘संपर्क फॉर समर्थन’ नाम का ये अभियान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार के चार सालों के काम के प्रति जागरुकता लाने के लिए शुरू किया गया था।

2019 के लोकसभा चुनाव शुरू होने से पहले राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह देश के प्रभावशाली 50 लोगों से व्यक्तिगत मुलाकात करेंगे। शाह उन्हें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के चार साल के कामों और उपलब्धियों की जानकारी देंगे। जबकि हर भाजपा कार्यकर्ता को कम से कम 10 लोगों से मुलाकात करने की बात कही गई है। इसके अलावा नमो एप पर भी ‘संपर्क फॉर समर्थन’ का विशेष सत्र आयोजित किया जाएगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App