ताज़ा खबर
 

प्रधानमंत्री के साथ बैठक में 370 का मुद्दा उठाएगी कांग्रेस, जानें कौन होगा शामिल

केंद्र शासित प्रदेश के भाजपा नेताओं ने भी पार्टी अध्यक्ष जे पी नड्डा के साथ बैठक कर अपनी रणनीति पर चर्चा की। पार्टी मुख्यालय में हुई इस बैठक में केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह, जम्मू एवं कश्मीर भाजपा के अध्यक्ष रवींद्र रैना, पूर्व उपमुख्यमंत्री कविंद्र गुप्ता और निर्मल सिंह शामिल हुए।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (फाइल फोटो)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ जम्मू एवं कश्मीर के मुद्दे पर गुरुवार को होने वाली सर्वदलीय बैठक से पहले  कांग्रेस की तरफ से कहा गया है कि  पार्टी इस बैठक में धारा 370 का मुद्दा उठाएगी। इस बैठक में जम्मू कश्मीर की सभी दलों को आमंत्रित किया गया है। गुपकार गठबंधन के दल भी इसमें हिस्सा लेंगे। 14 नेता इस बैठक में हिस्सा लेने वाले हैं।

प्रधानमंत्री के साथ बैठक से पहले कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद के घर पर एक बैठक हुई। इस बैठक से पहले गुलाम अहमद मीर ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री की तरफ से जो निमंत्रण आया है उसमें किसी भी तरह का कोई एजेंडा नहीं बताया गया है। साथ ही उन्होंने कहा कि बात तो एक ही कि 5 अगस्त 2019 को जो निर्णय दिल्ली से लिए गए, बिना जम्मू कश्मीर के लोगों को विश्वास में लिए। हमारे राज्य को क्यों खत्म किया गया, 370 क्यों हटाया गया। हमें उम्मीद है कि स्टेट को लेकर बात की जाएगी। हमारी पार्टी की तरफ से 370 के मुद्दे उठाए जाएंगे।

केंद्र शासित प्रदेश के भाजपा नेताओं ने भी पार्टी अध्यक्ष जे पी नड्डा के साथ बैठक कर अपनी रणनीति पर चर्चा की। पार्टी मुख्यालय में हुई इस बैठक में केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह, जम्मू एवं कश्मीर भाजपा के अध्यक्ष रवींद्र रैना, पूर्व उपमुख्यमंत्री कविंद्र गुप्ता और निर्मल सिंह शामिल हुए। सूत्रों के मुताबिक, सर्वदलीय बैठक में पार्टी की रणनीति क्या रहेगी, इस मुद्दे पर नड्डा ने भाजपा नेताओं से चर्चा की।

वर्ष 2019 में अनुच्छेद 370 निरस्त किए जाने और जम्मू कश्मीर को दो केंद्रशासित प्रदेशों में विभाजित किए जाने के बाद से यह केंद्र और जम्मू कश्मीर की मुख्यधारा के राजनीतिक नेताओं के बीच पहली बैठक है।

बताते चलें कि इस बैठक में 14 नेता हिस्सा लेंगे। गुपकार गठबंधन से जुड़े सभी 6 दल के साथ-साथ कांग्रेस पार्टी भी बैठक में हिस्सा लेगी। पैंथर्स पार्टी के चीफ भीम सिंह ने कहा है कि पीएम मोदी का यह बहुत अच्छा निर्णय है कि उन्होंने जम्मू कश्मीर के नेताओं को बुलाया है। जम्मू कश्मीर के राज्य के दर्जे पर भीम सिंह ने कहा कि पार्लियामेंट को कोई अधिकार नहीं है कि वो स्टेटहुड को खत्म करे।

Next Stories
1 सुप्रीम कोर्ट ने कहा, 31 जुलाई तक 12वीं के परिणाम घोषित करें सभी राज्यों के बोर्ड, आंध्र को दी चेतावनी
2 कोरोना: अगले साल ‘सुपर वैक्सीन’ आने की संभावना, महाराष्ट्र में फिर से बढ़े मामलों ने बढ़ायी चिंता
3 अर्नब गोस्वामी के चैनल पर पाकिस्तानी पैनलिस्ट के सामने जीडी बख्शी ने रखा गलत फैक्ट, हिलेरी क्लिंटन को बताया अमेरिका का पूर्व उपराष्ट्रपति
ये पढ़ा क्या?
X