ताज़ा खबर
 

एमपी में लाठीचार्ज पर कांग्रेस का वार- लाठी से कोरोना नहीं भागता, रैलियां छोड़ काम करे सरकार

कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने कहा कि भाजपा सरकार को इसलिए चुना गया था कि वो इस तरह की महामारी आने पर डटकर मुकाबला करेगी ना कि एक दिन में तीन-तीन रैलियां करेगी।

suprya shrinate, congress, madhyapradeshकांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने कहा कि आज देश में कोरोना पूरी तरह से बेकाबू हो चुका है, देश में वैक्सीन की कमी हो गई है। इसलिए ध्यान भटकाने के लिए आम आदमी के सिर को फोड़ा जा रहा है। (एक्सप्रेस फोटो / अनिल शर्मा)

बीते दिनों मध्यप्रदेश के खंडवा में कोरोना संक्रमित और उसके परिवार वालों पर पुलिस ने बर्बरतापूर्वक लाठियां बरसाई थी। खंडवा में हुए लाठीचार्ज का वीडियो भी खूब वायरल हुआ था। इसी मुद्दे पर एक टीवी डिबेट के दौरान कांग्रेस प्रवक्ता ने मध्यप्रदेश की भाजपा सरकार को निशाने पर लेते हुए कहा कि लाठीचार्ज करने से कोरोना नहीं भागता है। साथ ही उन्होंने कहा कि सरकार को रैलियां छोड़ कर काम पर ध्यान देना चाहिए।

न्यूज 24 पर आयोजित टीवी डिबेट शो में एंकर संदीप चौधरी ने भाजपा नेता और मध्यप्रदेश सरकार में मंत्री विश्वास सारंग से सवाल पूछा कि आखिर मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमितों पर लाठियां क्यों बरसाई जा रही है। इसके जवाब में विश्वास सारंग ने कहा कि ऐसे सवाल पूछकर लोगों को कोरोना प्रोटोकॉल का पालन ना करने के लिए उकसाया जा सकता है। साथ ही विश्वास सारंग ने कहा कि किसी एक घटना का हवाला देकर पूरी फ़ोर्स को या सभी फ्रंटलाइन वर्कर्स को हतोत्साहित नहीं किया जाना चाहिए।

इसपर संदीप चौधरी ने कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत से सवाल पूछते हुए कहा कि क्या मैं लाठीचार्ज पर सवाल पूछकर फ्रंटलाइन वर्कर्स को हतोत्साहित कर रहा हूं। एंकर के इस सवाल पर कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने कहा कि अपनी नाकामी या अपने कुप्रबंधन का ठीकरा किसी और के सिर पर फोड़ सकते हैं। लेकिन आम जनता का सिर फोड़ना बर्दाश्त के बाहर है। आगे सुप्रिया ने कहा कि अगर किसी को कोरोना हुआ है तो उसके साथ सहानुभूति दिखानी है। लाठी से कोरोना नहीं  भागता है, ना लाठी के बल पर कोरोना भागेगा।

इसके अलावा सुप्रिया श्रीनेत ने कहा कि भाजपा सरकार को इसलिए चुना गया था कि वो इस तरह की महामारी आने पर डटकर मुकाबला करेगी ना कि एक दिन में तीन-तीन रैलियां करेगी। साथ ही उन्होंने कहा कि आज देश में कोरोना पूरी तरह से बेकाबू हो चुका है। देश में वैक्सीन की कमी हो गई है। इसलिए ध्यान भटकाने के लिए आम आदमी के सिर को फोड़ा जा रहा है।

  पिछले दिनों मध्य प्रदेश के खंडवा में  पुलिस ने कोरोना मरीज और उसके परिजनों पर जमकर डंडे बरसाए थे। पुलिस ने इस दौरान महिलाओं पर भी लाठी चलाने से गुरेज नहीं किया। हालांकि पुलिस के द्वारा की जा रही मारपीट का वीडियो वायरल होने के बाद मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने शिवराज सिंह चौहान पर निशाना साधा था।

Next Stories
1 रातो-रात नहीं खत्म हो पाएगी रेमडिसिवर की किल्लत, मांग न होने से घटा उत्पादन
2 बीजेपी ने दिल्ली में कोविड अस्पताल बनाने का किया दावा- एंकर का सवाल- कहां है अस्पताल तो झांकने लगे बगलें
3 रेमडेसिविर पर बांबे HC ने केंद्र, राज्य से मांगा जवाब, उधर EX सीएम बोले- नेताओं को छोड़ कालाबाजारियों के पीछे लगाएं CBI,ED
यह पढ़ा क्या?
X