ताज़ा खबर
 

राहुल गांधी को कांग्रेस प्रवक्ता ने बताया शेर, ऐंकर संग हंसे गौरव भाटिया तो श्रीनेत ने कहा- बेवकूफों जैसी हंसी

राहुल गांधी के उत्तर और दक्षिण भारत के मतदाताओं के संदर्भ में दिए बयान पर हो रही थी टीवी डिबेट पर चर्चा।

Author Edited By कीर्तिवर्धन मिश्र नई दिल्ली | Updated: February 25, 2021 11:59 AM
TV DEBATEभाजपा प्रवक्ता गौरव भाटिया और कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत।

केरल में अपने संसदीय क्षेत्र वायनाड के दौरे पर गए कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष राहुल गांधी के एक बयान पर विवाद की स्थिति पैदा हो गई है। दरअसल, राहुल ने हाल ही में दक्षिण भारत के लोगों की राजनीतिक दिलचस्पी की तारीफ की थी और वे यहीं नहीं रुके। राहुल ने उत्तर भारत से तुलना करते हुए यह भी कहा था कि केरल के लोग दिखावे में भरोसा नहीं करते, बल्कि गहनता से मुद्दों पर विचार करते हैं। उनके इस बयान को लेकर जहां भाजपा हमलावर है तो वहीं कांग्रेस बचाव कर रही है। इस बीच एक टीवी डिबेट में भी भाजपा और कांग्रेस प्रवक्ता के बीच जबरदस्त चर्चा हुई और कांग्रेस नेता ने तो राहुल गांधी को हिंदुस्तान का शेर तक करार दे दिया।

किस बात पर हुई बहस?: भाजपा के गौरव भाटिया और कांग्रेस की सुप्रिया श्रीनेत केरल में दिए गए राहुल गांधी के भाषण पर ही बहस कर रहे थे। एक मौके पर भाटिया ने कहा कि स्मृति ईरानी शेरनी की तरह हैं। उन्होंने अमेठी में चुनाव हारने के बाद हिम्मत नहीं हारी और जीत के दिखाया और जिसने कहा था कि स्मृति कौन, वह बिल में घुस गया, जब स्मृति जी ने दहाड़ा और वह अमेठी कभी वापस नहीं जा पाया।

इस पर सुप्रिया श्रीनेत ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा, “पहले तो भाजपा, उनके सारे प्रवक्ता, उनकी भक्तमंडली, उनके मुख्यमंत्री, उनके मंत्री पहले यह फैसला कर लें कि राहुल गांधी को सीरियसली लेते हैं या नहीं लेते हैं, अगर नहीं लेते हैं तो राहुल गांधी के एक शब्द कहने पर बिलबिला क्यों जाते हैं।” सुप्रिया ने आगे कहा, “राहुल गांधी जी जैसा शेर तो पूरे हिंदुस्तान में नहीं। उनको सीरियसली लेंगे तो इनका बैंड नहीं बज जाएगा। ये सुन लीजिए, यही सुनना चाहते थे, सुन लिया आपने। हे हे हे, बेवकूफ जैसे हंस रहे हैं। इनके सब लोग पूरे उतर जाते हैं, राहुल जी के बयान पर।”

कांग्रेस के कुछ नेता भी कर चुके हैं राहुल के बयान से किनारा: कांग्रेस के ज्यादातर वरिष्‍ठ नेता राहुल गांधी के वायनाड में दिए बयान से कन्नी काटते नजर आ रहे हैं। पार्टी नेता आनंद शर्मा ने कहा है कि कांग्रेस ने कभी भी क्षेत्र, भाषा और धर्म के आधार पर लकीर नहीं खींची। इस पर राहुल गांधी ही स्पष्टीकरण दे सकते हैं। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी जी ने अपने किसी अनुभव के आधार पर टिप्पणी की है, मुझे किसी क्षेत्र के अपमान की बात मुझे नहीं दिखती। राहुल गांधी ही स्पष्टीकरण दे सकते हैं। भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने देश को एक समझा है, हमने कभी क्षेत्र, भाषा और धर्म के आधार पर लकीर नहीं खींची।’

राहुल गांधी के बयान पर कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने कहा था कि मतदाता बुद्धिमान हैं, वे जानते हैं कि किसे वोट देना है, किस उम्मीदवार को वोट देना है, किस राजनीतिक दल को वोट देना है। वे जानते हैं कि वे उन्हें क्यों वोट देते हैं। मुझे नहीं लगता कि कांग्रेस किसी भी चुनाव में किसी भी तरह का अपमान करेगी। मैं केवल यह कह सकता हूं कि हमें देश के मतदाताओं की बुद्धि का सम्मान करना चाहिए चाहे वो कहीं के रहने वाले हों। वह मतदाता ही है जो आपको वोट देता है और आपको सत्ता की कुर्सी पर बिठाता है। हमें देश के मतदाताओं का सम्‍मान करना चाहिए और उनकी बुद्धिमत्ता को नजरंदाज नहीं करना चाहिए।

Next Stories
1 51 साल पहले पुलिस ने किया फर्जी एनकाउंटर, अब सरकार देगी 50 लाख का मुआवजा
2 नाबालिग लड़की से 29 बार यौन शोषण, 44 में से 20 आरोपी गिरफ्तार
3 8 लाख नौकरियां, सबको लैपटॉप, केरल के बजट में रोजगार के लिए डिजिटल प्लैटफॉर्म बनाने की घोषणा
ये पढ़ा क्या?
X