ताज़ा खबर
 

सोनिया-राहुल और प्रियंका गांधी एक साथ बोलेंगे मोदी सरकार पर हमला, कांग्रेस करने जा रही केंद्र के खिलाफ विशाल रैली

Congress Rally Against Modi Government, Delhi: मोदी सरकार के विरोध में की जाने वाली इस रैली को कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, महासचिव प्रियंका गांधी संबोधित करेंगी।

Author दिल्ली | Published on: November 3, 2019 8:52 AM
कांग्रेस केंद्र सरकार के खिलाफ दिल्ली में करेगी बड़ी रैली फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

Congress Rally Against Modi Government, Delhi: कांग्रेस आर्थिक मंदी, बेरोजगारी, कृषि संकट और क्षेत्रीय समग्र आर्थिक साझेदारी (आरईसीपी) के मुद्दों को लेकर अगले महीने दिल्ली में नरेंद्र मोदी सरकार के खिलाफ विशाल रैली करेगी। पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने बताया कि इस रैली को कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, महासचिव प्रियंका गांधी और पार्टी के कई अन्य वरिष्ठ नेता संबोधित करेंगे। माना जा रहा है कि बीजेपी सरकार बनने के बाद यह पहली बड़ी रैली होगी जिसमें पार्टी के शीर्ष नेता एक साथ मोदी सरकार पर हमला बोलेंगे।

रैली से पहले कांग्रेस बनाएगी माहौल: सुरजेवाला ने कहा कि रैली की तारीख बाद में तय की जाएगी। लेकिन पहले से तय कार्यक्रम के मुताबिक कांग्रेस कई मुद्दों को लेकर आगामी पांच से 15 नवंबर के बीच पहले जिला स्तर और फिर प्रदेश स्तर पर विरोध प्रदर्शनों का आयोजन करेगी। जिसके बाद मोदी सरकार के खिलाफ दिल्ली में विशाल रैली करेगी।

सोनिया ने अर्थव्यवस्था के मुद्दे पर केंद्र को घेरा: कांग्रेस नेता ने सुस्ती और क्षेत्रीय समग्र आर्थिक साझेदारी समझौते (आरसीईपी) को लेकर भी मोदी सरकार पर निशाना साधा और आरोप लगाया कि सरकार आरसीईपी के माध्यम से पहले ही बुरी स्थिति का सामना कर रही भारतीय अर्थव्यवस्था को बड़ा नुकसान पहुंचाने की तैयारी में है। उन्होंने दावा किया कि अर्थव्यवस्था की खराब स्थिति को स्वीकारने और इसे ठीक करने के कदम उठाने के बजाय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ‘सुर्खियां बटोरने एवं आयोजनों के प्रबंधन’ में व्यस्त हैं।

Hindi News Today, 03 November 2019 LIVE Updates: देश-दुनिया की तमाम अहम खबरों के लिए क्लिक करें

नौकरी-बेरोजगारी पर कही यह बात: सोनिया ने शनिवार को कहा, ‘‘एक नागरिक और जिम्मेदार विपक्ष के सदस्य के तौर पर मुझे भारतीय अर्थव्यवस्था की स्थिति देखकर दुख होता है। इससे भी ज्यादा चिंता की बात यह है कि सरकार इससे मानने को तैयार नहीं है। गंभीर मंदी को स्वीकारने और समग्र समाधान तलाशने के बजाय प्रधानमंत्री मोदी सुर्खियां बटोरने और आयोजनों में व्यस्त हैं।’’ उन्होंने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री के इस रुख की लाखों भारतीय नागरिकों खासकर बेरोजगार युवाओं और किसानों को भारी कीमत चुकानी पड़ रही है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 उत्तर प्रदेश: ‘गैंगरेप’ का वीडियो वायरल, 25 वर्षीय महिला की शिकायत पर तीन गिरफ्तार
2 कारोबारी अडानी की बढ़ेंगी मुश्किलें? सुप्रीम कोर्ट जाएगी केंद्रीय जांच एजेंसी! जानें क्या है मामला
3 बैंक लोन न चुकाने पर महिला की जमकर पिटाई, ‘अपमानित’ करने के लिए सिर मूंडा! 3 गिरफ्तार