उपचुनाव के परिणामों पर पी चिदंबरम बोले- 2022 में किस तरफ बहेगी हवा? पेश किए आंकड़े

मंगलवार को आए उपचुनाव परिणाम को लेकर कांग्रेस ने पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए उनसे अहंकार छोड़ने, तीन कृषि कानूनों को निरस्त करने और पेट्रोल और डीजल की “लूट” को रोकने के लिए कहा था।

P Chidambaram, Congress
कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम (फोटो सोर्स: फाइल/PTI)।

देश के पांच राज्यों में अगले साल विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। उससे पहले तीन लोकसभा और 29 विधानसभा सीटों के लिए हुए उपचुनाव के नतीजे 2 नवंबर को आ गए हैं। 29 विधानसभा सीटों में से एनडीए को 15 सीटों पर जीत मिली है। ऐसे में कांग्रेस की दिग्गज नेता पी चिदंबरम ने बुधवार को अपने ट्वीट में पूछा कि 2022 में हवा किस तरफ बहेगी?

उपचुनाव परिणामों पर चिदंबरम ने अपने ट्वीट में लिखा, “30 सीटों के लिए हुए विधानसभा उपचुनावों के परिणामों का एक विचारोत्तेजक विश्लेषण दिया गया है। बीजेपी ने 7 सीटें जीतीं और उसके घोषित सहयोगियों ने 8 सीटें जीतीं। कांग्रेस ने 8 सीटें जीतीं।”

उन्होंने लिखा, “गैर-बीजेपी पार्टियों ने 7 सीटें जीतीं, जिनमें से केवल 1 सीट बीजेपी के एक क्रिप्टो सहयोगी, वाईएसआर कांग्रेस ने जीती, अन्य 6 सीटों पर भाजपा के विरोध में पार्टियों ने जीत हासिल की।” उन्होंने सवाल किया कि, सम्मान आज भी हैं…2022 में हवा किस तरफ बहेगी?

बता दें कि इस उपचुनाव में टीएमसी को पश्चिम बंगाल की सभी 4 सीटों पर जीत मिली है। आंध्र प्रदेश की एक सीट पर वाईएसआर कांग्रेस और हरियाणा की एक सीट पर इनेलो को जीत हासिल हुई है।

दरअसल उपचुनाव को अगले साल होने वाले पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव का सेमीफाइनल कहा जा रहा है। बता दें कि मंगलवार को कांग्रेस ने उपचुनाव परिणामों का हवाला देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए उनसे अहंकार छोड़ने, तीन कृषि कानूनों को निरस्त करने और पेट्रोल और डीजल की “लूट” को रोकने के लिए कहा था।

वहीं नतीजों को लेकर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि यह जीत उसके कार्यकर्ताओं की जीत है और उन्हें बिना किसी डर के नफरत से लड़ते रहना होगा। बता दें कि गोवा, मणिपुर, पंजाब और उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश और हिमाचल प्रदेश में अगले साल मतदान होना है। ऐसे में उपचुनाव के नतीजों से कांग्रेस उत्साहित नजर आ रही है।

30 अक्टूबर को हुए इन उपचुनावों में अलग-अलग राज्यों में 29 विधानसभा सीटों पर चुनाव हुए थे। जिनमें असम की पांच, बंगाल की चार, मध्य प्रदेश, हिमाचल व मेघालय की तीन-तीन, बिहार, राजस्थान व कर्नाटक की दो-दो और आंध्र प्रदेश, हरियाणा, महाराष्ट्र, मिजोरम व तेलंगाना की एक-एक सीट शामिल हैं।

भाजपा VS कांग्रेस: बीजेपी गठबंधन को असम की 5, मेघालय की 3, बिहार की 2, मध्य प्रदेश की 2 और तेलंगाना, कर्नाटक, मिजोरम व मेघालय की 1-1 सीट जीत मिली है। वहीं कांग्रेस को हिमाचल की 3, राजस्थान की 2 और महाराष्ट्र, कर्नाटक व मध्य प्रदेश की 1-1 सीट पर जीत प्राप्त हुई है।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट