ताज़ा खबर
 

‘सरकार नफरत फैलाने के साथ ही लोगों को समुदाय के आधार पर बांट रही है’, CAA, NRC विपक्षी दलों की बैठक में बोली सोनिया गांधी

एनआरसी और सीएए का उल्लेख करते हुए सोनिया ने आरोप लगाया कि मोदी और अमित शाह ने गुमराह किया है। उन्होंने दावा किया, ‘‘असम में एनआरसी उल्टा पड़ गई।

Author Edited By Anil Kumar नई दिल्ली | January 13, 2020 4:51 PM
CAA, NRC, congress, sonia gandhi, PM modi, amit shah, nrc in india, india news, Hindi news, news in Hindi, latest news, today news in Hindi पार्लियामेंट एनेक्सी में हुई बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के अलावा विपक्षी दलों के कई प्रमुख नेता शामिल थे। (फोटोः एएनआई)

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने सोमवार को आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह ने संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) पर देश को गुमराह किया है। कई प्रमुख विपक्षी दलों की बैठक में सोनिया ने आरोप लगाया, ‘‘सरकार ने दमन चक्र चला रखा है, नफरत फैला रही है और लोगों को समुदाय के आधार पर बांट रही है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘देश में अप्रत्याशित अशांति है। संविधान को कमजोर किया जा रहा है और सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग किया जा रहा है। सोनिया गांधी ने कहा कि देश के हिस्सों खासकर उत्तर प्रदेश में समाज के बड़े तबकों को प्रताड़ित किया जा रहा है और उन पर हमले किए जा रहे हैं।’’ एनआरसी और सीएए का उल्लेख करते हुए सोनिया ने आरोप लगाया कि मोदी और अमित शाह ने गुमराह किया है।

उन्होंने दावा किया, ‘‘असम में एनआरसी उल्टा पड़ गई। मोदी-शाह सरकार अब एनपीआर की प्रक्रिया को करने में लगी है। यह स्पष्ट है कि एनपीआर को पूरे देश में एनआरसी लागू करने के लिए किया जा रहा है।’’ कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी द्वारा बुलाई गई इस बैठक में 20 दलों के नेता शामिल हुए। इस बैठक में सीएए के विरोध में हुए प्रदर्शनों और कई विश्वविद्यालय परिसरों में हिंसा के बाद पैदा हुए हालात, आर्थिक मंदी तथा कई अन्य मुद्दों पर चर्चा की गई।

पार्लियामेंट एनेक्सी में हुई बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, राकांपा प्रमुख शरद पवार, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल, ए के एंटनी,  माकपा के सीताराम येचुरी, भाकपा के डी राजा, झामुमो के नेता एवं झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन, राकांपा के प्रफुल्ल पटेल, राजद के मनोज झा, नेशनल कांफ्रेस के हसनैन मसूदी और रालोद के अजित सिंह मौजूद थे।

इसके साथ ही आईयूएमएल के पी के कुन्हालीकुट्टी, लोकतांत्रिक जनता दल के शरद यादव, पीडीपी के मीर मोहम्मद फैयाज, जद (एस) के डी कुपेंद्र रेड्डी, हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा के जीतन राम मांझी, रालोसपा के उपेंद्र कुशवाहा तथा कई अन्य दलों के नेता भी बैठक में शामिल हुए।

Next Stories
1 ‘कुत्तों जैसे मारा’ वाली दिलीप घोष की टिप्पणी पर बोले केंद्रीय मंत्री- BJP का इससे लेना-देना नहीं, दादा का बयान गैर-जिम्मेदाराना
2 ‘राष्ट्रव्यापी NRC गैर जरूरी, इसका कोई औचित्य नहीं’, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने विधानसभा में दिया बयान
3 महाराष्ट्र सरकार में ‘खटपट’ के बीच बोले Congress नेता-…तो CM उद्धव ठाकरे को देना पड़ जाएगा इस्तीफा
ये पढ़ा क्या?
X