ताज़ा खबर
 

कांग्रेस अधिवेशन में राहुल गांधी ने सुनाई शिव मंदिर की कहानी, पुजारी ने कहा था- जा तू पीएम बनेगा

राहुल गांधी ने कहा कि कांग्रेस सच्चाई के लिए लड़ती है। उन्होंने दो शिव मंदिरों के पंडितों के बीच तुलना करते हुए कहा कि कांग्रेस सच्चाई की सिपाही है, लेकिन बीजेपी का धर्म केवल सत्ता छीनने के लिए है। इसके अलावा उन्होंने यह भी बताया कि एक मंदिर के पंडित ने उनसे कहा था कि वह पीएम बनने जा रहे हैं।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (PTI फोटो)

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पार्टी के 84वें महाधिवेशन में रविवार को बीजेपी सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने शिव मंदिर की कहानी सुनाते हुए कांग्रेस और बीजेपी की तुलना की। साथ ही यह भी कहा कि पुजारी ने उनसे यह बात बोली थी कि वह प्रधानमंत्री बनेंगे। राहुल गांधी ने दो शिव मंदिर के पंडितों के विचारों की तुलना करते हुए एक को कांग्रेस का पंडित कहा तो दूसरे को बीजेपी का पंडित।

उन्होंने कांग्रेस के महाधिवेशन में कहा, ‘मैं आपको दो मंदिरों की कहानी बताना चाहता हूं। एक कांग्रेस का पुजारी और दूसरा बीजेपी का पुजारी। पहले मंदिर में जब मैं अंदर गया… शिव का मंदिर था, पूजा हो रही थी। पंडित जी बैठे थे, पूजा खत्म हुई, अलग-अलग चीजें की, सवाल पूछने की आदत है, तो मैंने पंडित जी से पूछा- गुरुजी ये आप बताइए कि आपने किया क्या? आपने दूध डाला, पानी डाला, मंत्र पढ़े, आपने किया क्या? पंडित जी बोले- बेटा समझना चाहता है…? मैंने कहा कि हां गुरु जी। उन्होंने कहा कि सिक्योरिटी वालों को पहले दूर कर, मैं बताता हूं।’

राहुल गांधी ने आगे कहा, ‘सिक्योरिटी वालों को मैंने परे किया, फिर गुरुजी बोले कि यहां आकर खड़ा हो जा। मंदिर के पीछे जो दीवार होती है वहां खड़ा किया मुझे और माथा लगाने को कहा। मैंने माथा टेका वहां… फिर पंडित जी ने कहा कि मेरी बात अच्छे से सुन… पहली बात मैं यहां का नहीं हूं मैं कश्मीर का हूं, इन लोगों को बताना मत। अब सुन तू भगवान ढू्ंढ रहा है ना… तुझे भगवान कहीं भी मिल जाएंगे… जहां तू देखेगा वहां भगवान मिलेंगे, मंदिर में ढूंढना है मंदिर में मिलेगा… चर्च, मस्जिद, गुरुद्वारे में भगवान मिलेगा… पेड़ों में मिलेगा, आसमान में मिलेगा, जहां तू देखेगा तुझे भगवान मिलेगा। ये जो हमने किया ये हम करते हैं हमें करने दे, लेकिन अगर तू भगवान ढूंढ रहा है जहां भी तू देखेगा तुझे दिखेगा। मैंने उन्हें धन्यवाद किया और कहा बहुत अच्छी बात कही और मैं वहां से चला गया।’

कांग्रेस अध्यक्ष ने आगे कहा, ‘उसी के बाद बिल्कुल वैसी ही स्थिति, शिव का मंदिर, वही पूजा, वही सवाल… गुरु जी ये आपने क्या किया? पंडित जी बोले- बेटा ये मत पूछ। मैं अड़ गया और फिर से सवाल किया। पंडित जी कहते हैं- देख बेटा मैंने तेरे लिए पूजा कर दी है… अब तुम प्रधानमंत्री बनने जा रहे हो। फिर कहा… वो छत देख रहे हो, क्या दिख रहा है? मैंने कहा- सीमेंट है गुरु जी। फिर गुरु जी ने कहा- जब तुम पीएम बनोगे तो उस छत में सोना लगवा देना। मतलब एक व्यक्ति सच्चाई कहता है कि हमारा भगवान हर जगह है, मतलब हम सच्चाई से सिपाही हैं, लेकिन बीजेपी में उसका जो धर्म है वह केवल सत्ता को छीनने के लिए है। हम लड़ते हैं, हम खड़े होते हैं, जनता के लिए खड़े होते हैं, हम नफरत नहीं करते हैं, हम गुस्सा नहीं करते हैं, आप हमें मारोपीटो, हम आपसे नफरत नहीं कर सकते।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App