पीएम नरेंद्र मोदी पर राहुल गांधी का तंज- दावोस में यह भी बताइए कि 73 फीसदी संपत्ति पर क्यों है 1 फीसदी लोगों का कब्जा? - Congress President Rahul Gandhi attacks on PM Narendra Modi- Please tell DAVOS why 1% of India’s population gets 73% of its wealth? - Jansatta
ताज़ा खबर
 

पीएम नरेंद्र मोदी पर राहुल गांधी का तंज- दावोस में यह भी बताइए कि 73 फीसदी संपत्ति पर क्यों है 1 फीसदी लोगों का कब्जा?

अंतरराष्ट्रीय राइट्स समूह ऑक्सफेम की ओर से यह सर्वेक्षण रिपोर्ट दावोस में आयोजित विश्व आर्थिक मंच (डब्ल्यूईएफ) की शिखर बैठक शुरू होने से कुछ घंटे पहले जारी किया गया था। इसमें कहा गया है कि 67 करोड़ भारतीयों की संपत्ति में सिर्फ एक प्रतिशत की वृद्धि हुई है।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। (FILE PHOTO)

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तंज कसा है और कहा है कि प्रधानमंत्री जी को पूरी दुनिया को यह बताना चाहिए कि क्यों देश की 73 फीसदी संपत्ति पर सिर्फ एक फीसदी पूंजीपतियों का कब्जा है। उन्होंने सोशल मीडिया ट्विटर पर लिखा है, “प्रिय प्रधानमंत्री जी, स्विटजरलैंड में आपका स्वागत है। कृपया दावोस को बताइए कि क्यों भारत की 73 फीसदी संपत्ति पर एक फीसदी आबादी का कब्जा है? मैं आपके अवलोकन के लिए एक रिपोर्ट भी संगल्न कर रहा हूं।” इस ट्वीट के साथ ही राहुल गांधी ने एक खबर को भी टैग किया है। बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी विश्व आर्थिक मंच के सालाना सम्मेलन में भाग लेने के लिए दावोस गए हुए हैं। दावोस में मंच को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने आतंकवाद और जलवायु परिवर्तन को पूरी दुनिया के लिए बड़ा खतरा बताया है।

हालांकि, कुछ यूजर्स ने राहुल गांधी के इस ट्वीट पर नाराजगी जाहिर की है। एक यूजर ने लिखा है, “उस 1% में आपका अपना नेहरू-गांधी परिवार भी है ! जवाब आपको भी देना होगा!!” एक अन्य यूजर ने लिखा, “क्योंकि तुम और तुम्हारी कांग्रेस ने इतना लूटा की ये अंतर आ गया अब उस खाई को भरने में समय लगेगा अपनी ही करतूतों का सवाल दूसरों से पूछ कर खुद को ही बदनाम करते हो बोफोर्स से ले कर NH जीजाजी काण्ड और भी न जाने कितने खोखला कर दिया देश अभी भी लूटने की इच्छा मरी नही तभी तो सत्ता चाहिए.”

गौरतलब है कि सोमवार (22 जनवरी) को एक सर्वेक्षण के नतीजे से खुलासा हुआ है कि देश में साल 2017 में कुल संपत्ति के सृजन का 73 फीसदी हिस्सा केवल एक फीसदी अमीर लोगों के पास है। इस सर्वेक्षण में देश में चौड़ी होती आर्थिक असमानता की खाई के बारे में भी चर्चा की गई है। अंतरराष्ट्रीय राइट्स समूह ऑक्सफेम की ओर से यह सर्वेक्षण रिपोर्ट दावोस में आयोजित विश्व आर्थिक मंच (डब्ल्यूईएफ) की शिखर बैठक शुरू होने से कुछ घंटे पहले जारी किया गया था। इसमें कहा गया है कि 67 करोड़ भारतीयों की संपत्ति में सिर्फ एक प्रतिशत की वृद्धि हुई है। वैश्विक स्तर पर यह तस्वीर और भी चिंताजनक है। पिछले साल दुनियाभर में अर्जित की गई संपत्ति का 82 प्रतिशत केवल एक प्रतिशत लोगों के पास है। वहीं, 3.7 अरब लोगों की संपत्ति में कोई इजाफा नहीं हुआ, जिसमें गरीब आबादी का आधा हिस्सा आता है।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App