ताज़ा खबर
 

तीन राज्यों में बीजेपी को हराने के लिए कांग्रेस ने बनाया प्लान- चलाएगी विकास की खोज अभियान

छत्‍तीसगढ़ में अभी तक विभिन्‍न श‍िकायतों से जुड़े लगभग 50 हजार पोस्‍ट कार्ड इकट्ठा किए जा चुके हैं। इनमें प्राइमरी टीचर्स की कमी, पेयजल की किल्‍लत जैसी शिकायतें हैं जो पोस्‍ट कार्ड के रूप में सीएम रमन सिंह को भेजी गई हैं।

कांग्रेस मुख्‍यालय में आयोजित प्रेस कॉन्‍फ्रेंस के दौरान पार्टी प्रवक्‍ता रणदीप सिंह सुरजेवाला और प्रियंका चतुर्वेदी। (Photo: PTI)

तीन चुनावी राज्‍यों- मध्‍य प्रदेश, राजस्‍थान और छत्‍तीसगढ़ में प्रचार के लिए कांग्रेस योजना तैयार कर रही है। पार्टी का जोर विश्‍वविद्यालयों और पहली बार के वोटर्स पर हैं। इकॉनमिक टाइम्‍स की रिपोर्ट के अनुसार, ‘विकास की खोज’ अभियान के तहत कांग्रेस लोगों से बीजेपी शासित राज्‍यों के मुख्‍य‍मंत्रियों को पोस्‍टकार्ड लिखकर बताने को कह रही है कि विकास कहां गायब हो गया है। छत्‍तीसगढ़ में कांग्रेस की छात्र इकाई एनएसयूआई ने बूथ लेवल तक जाकर ‘गायब’ विकास को ढूंढना शुरू कर दिया है।

छत्‍तीसगढ़ में अभी तक विभिन्‍न श‍िकायतों से जुड़े लगभग 50 हजार पोस्‍ट कार्ड इकट्ठा किए जा चुके हैं। इनमें प्राइमरी टीचर्स की कमी, पेयजल की किल्‍लत जैसी शिकायतें हैं जो पोस्‍ट कार्ड के रूप में सीएम रमन सिंह को भेजी गई हैं। सिंह ने मई में ‘विकास यात्रा’ निकाली थी। इसी के जवाब में, कांग्रेस ने एक जर्जर बस खरीदी और सिंह के रूट पर पड़ने वाली विधानसभाओं में ‘विकास को ढूंढ़ना’ शुरू किया।

एनएसयूआई की ज्‍वाइन सेक्रेट्री इंचार्ज रुचि गुप्‍ता ने अखबार से कहा कि पार्टी युवाओं की समस्‍याएं दूर करने की दिशा में भी काम कर रही है। उन्‍होंने कहा, ”भारत के किसी भी युवा के लिए तीन सबसे जरूरी चीजें हैं शिक्षा, रोजगार और न्‍याय का भाव। युवाओं की दिक्‍कतें दूर करने के लिए पार्टी इन अभियानों को सीधे तौर पर उठाएगी।”

राजस्‍थान में एनएसयूआई ने ब्‍लॉक लेवल पर 800 कोऑर्डिनेटर तैनत किए हैं जिन्‍हें मुद्दे पहचानने और पार्टी का संदेश फैलाने की ट्रेनिंग दी गई है। एक वरिष्‍ठ पार्टी नेता के अनुसार, ”राजस्‍थान में दो लाख सरकारी नौकरियां खाली पड़ी हैं। लगभग 17,000 स्‍कूल बंद हो चुके हैं। वह विकास कहां है जिसका वादा किया गया था?” रुचि के मुताबिक, मध्‍य प्रदेश में पार्टी ने युवाओं से ढाई लॉख जॉब एप्लिकेशंस जमा किए हैं। पार्टी ने हर विधानसभा में हेल्‍प डेस्‍क लगाई हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App