ताज़ा खबर
 

UP में ‘गाय बचाओ’ यात्रा निकालने पर अड़े कांग्रेसी, तो प्रदेश अध्यक्ष समेत 150 से अधिक कार्यकर्ता अरेस्ट

लल्लू के हैंडल से इस बाबत आगे ट्वीट किया गया- जब गौ माता की पीड़ादायक तस्वीरें आ रही है तब गौशालाओं के नाम हजारों करोड़ रुपए किसके लिए मुख्यमंत्री जी? मुख्यमंत्री जी ! यह पुलिसिया लाठी,इस दमन से गौवंश की मौतों और किसान के आत्महत्याओं पर पर्दा नहीं डाल सकते। आपका चेहरा बेनकाब हो गया है। यह लड़ाई आर-पार की होगी।

Author Edited By अभिषेक गुप्ता नई दिल्ली | Updated: December 26, 2020 1:56 PM
congress, inc, tiranga yatra, gau yatra, cow protectionगाय बचाओ, किसान बचाओ यात्रा के दौरान पुलिस अफसरों के साथ यूपी कांग्रेस चीफ की बहस हुई। (फोटोः टि्वटर/@AjayLalluINC)

अपने अस्तित्व और नेतृत्व के मोर्चों पर दोहरे संकट का सामना कर रही Congress/INC पार्टी ने शनिवार को उत्तर प्रदेश के बुंदेलखंड इलाके में ‘गाय बचाओ, किसान बचाओ’ यात्रा निकाली। प्रदेश कांग्रेस इकाई के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू इस दौरान सिर पर मटके में गौमाता के अवशेष लेकर पदयात्रा में शामिल हुए। हालांकि, यात्रा अपने गंतव्य से पहले ही बीच रास्ते में रोक दी गई। दरअसल, पुलिस के हवाले से समाचार एजेंसी पीटीआई-भाषा की रिपोर्ट में बताया गया- ये यात्रा निकालने पर अड़े लल्लू को दोपहर पुलिस ने दैलवारा कस्बे से करीब डेढ़-दो सौ कार्यकर्ताओं के साथ गिरफ्तार कर लिया।

उधर, कांग्रेस नेताओं ने पुलिस पर बल प्रयोग करने का आरोप लगाते हुए कहा, ‘जिलाध्यक्ष सहित करीब दो दर्जन कार्यकर्ता चोटिल हुए हैं। सभी को पुलिस लाइन में रखा गया है।’’ लल्लू के मुताबिक, “गाय बचाओ-किसान बचाओ यात्रा से घबराई उप्र की घमंडी सरकार ने राष्ट्रीय सचिव रोहित चौधरी, पूर्व मंत्री प्रदीप जैन आदित्य समेत तमाम नेताओं को नजरबंद कर रखा है। ऐसी अलोकतांत्रिक कार्यवाही से साफ है की सरकार के नियत में खोट है। सरकार पूरी मशीनरी झोंक दें, हम पीछे नहीं हटेंगे।”

बता दें कि 26 दिसंबर से कांग्रेस की गाय बचाओ, किसान बचाओ पदयात्रा शुरू हुई। यह पदयात्रा ललितपुर से चित्रकूट तक जाएगी। यूपी कांग्रेस का दावा है कि इसे बुंदेलखंड के हर जिले से होकर निकाला जाएगा, जिसके लिए लल्लू शनिवार को ललितपुर पहुंचे।

वह गाय की अस्थियां घड़े में लेकर पदयात्रा का नेतृत्व कर रहे थे। इसी बीच, उन्हें पुलिस अफसरों ने आगे बढ़ने से रोका। इस दौरान दोनों पक्षों के बीच बहस भी हुई। बताया गया कि इसके बाद लल्लू हिरासत में ले लिए गए।

लल्लू के हैंडल से इस बाबत आगे ट्वीट किया गया- जब गौ माता की पीड़ादायक तस्वीरें आ रही है तब गौशालाओं के नाम हजारों करोड़ रुपए किसके लिए मुख्यमंत्री जी? मुख्यमंत्री जी ! यह पुलिसिया लाठी,इस दमन से गौवंश की मौतों और किसान के आत्महत्याओं पर पर्दा नहीं डाल सकते। आपका चेहरा बेनकाब हो गया है। यह लड़ाई आर-पार की होगी।

जिले के अपर पुलिस अधीक्षक (एएसपी) बृजेश कुमार सिंह ने बताया, “बिना अनुमति पदयात्रा निकालने पर अड़े प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू और जिलाध्यक्ष बलवंत सिंह राजपूत सहित 50-60 कांग्रेस कार्यकर्ताओं को दैलवारा कस्बे से आज (शनिवार) दोपहर करीब बारह बजे गिरफ्तार कर लिया गया है।’’ सिंह ने बताया कि गिरफ्तार किये गये कांग्रेस के सभी नेताओं एवं कार्यकर्ताओं को पुलिस लाइन में रखा गया है।

बीते दिनों प्रियंका गांधी ने यूपी में गौशालाओं की बदहाली को लेकर सीएम योगी को पत्र लिखा था। बीजेपी शासित यूपी सरकार को इस मुद्दे पर विपक्ष (खासकर कांग्रेस) ने घेरने के लिए इस यात्रा की योजना बनाई है। इतना ही नहीं, पार्टी इसके अलावा कुछ तिरंगा यात्राएं भी निकालेगी।

पार्टी के महासचिव (संगठन) केसी वेणुगोपाल ने राज्यों की इकाइयों को खत लिख कहा है, “तिरंगा यात्रा और ऐसे अन्य अभियान सोशल डिस्टैंसिंग प्रोटोकॉल्स के साथ कराए जाने चाहिए। पीसीसी से भी गुजारिश है कि वे किसानों की लड़ाई में एकजुटता दिखाएं, जो केंद्र के लाए तीन कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन पर अड़े हैं।”

Next Stories
1 किसानों के सवाल बड़े हैं या 2000 रुपए का सम्मान? ‘सम्मान निधि’ ट्रांसफर पर रवीश कुमार ने उठाया सवाल, पोस्ट वायरल
2 कोरोनाः 4 सूबों में वैक्सीन पर ‘मॉक ड्रिल’, डिलिवरी, कोल्ड चेन से लेकर साइड इफेक्ट्स पर रहेगा ध्यान, जानें क्या है तैयारी
3 किसान आंदोलनः इधर PM ने खातों में पहुंचाई ‘सम्मान निधि’, उधर बोले अन्नदाता- ‘नहीं हैं बिकाऊ’
ये पढ़ा क्या?
X