ताज़ा खबर
 

नेहरु-सोनिया पर विवादित लेख पर नपे संजय निरूपम, कांग्रेस ने थमाया नोटिस

कांग्रेस ने अपने मुखपत्र ‘कांग्रेस दर्शन’ में पिछले दिनों प्रकाशित विवादित आलेखों से हुई किरकिरी के बाद बुधवार को इस पत्रिका के संपादक और मुंबई कांग्रेस के प्रमुख संजय निरूपम को कारण बताओ नोटिस जारी कर उनसे जवाब तलब किया।
Author नई दिल्ली | January 13, 2016 23:32 pm
आलेखों में देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू की कश्मीरी नीति पर सवाल उठाए गए थे और पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी के पिता को ‘‘फासीवादी सैनिक’’ करार दिया गया था। (फाइल फोटो)

कांग्रेस ने अपने मुखपत्र ‘कांग्रेस दर्शन’ में पिछले दिनों प्रकाशित विवादित आलेखों से हुई किरकिरी के बाद बुधवार को इस पत्रिका के संपादक और मुंबई कांग्रेस के प्रमुख संजय निरूपम को कारण बताओ नोटिस जारी कर उनसे जवाब तलब किया। विवादित आलेखों में देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू की कश्मीरी नीति पर सवाल उठाए गए थे और पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी के पिता को ‘‘फासीवादी सैनिक’’ करार दिया गया था।

पूर्व रक्षा मंत्री ए के एंटनी की अध्यक्षता वाली अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की ताकतवर अनुशासनात्मक कार्रवाई समिति ने दो दिन पहले मुंबई से पूर्व लोकसभा सांसद निरूपम को नोटिस जारी किया। निरूपम महाराष्ट्र कांग्रेस में हिंदी पट्टी के बड़े चेहरे माने जाते हैं। कांग्रेस में शामिल होने से पहले शिवसेना में रह चुके निरूपम को नोटिस का जवाब देने के लिए ‘‘कुछ दिनों’’ का वक्त दिया गया है।

बीते 28 दिसंबर को कांग्रेस को उस वक्त शर्मिंदा होना पड़ा था जब वह अपना 131वां स्थापना दिवस मना रही थी। ‘कांग्रेस दर्शन’ में प्रकाशित एक आलेख में ‘‘कश्मीर, चीन और तिब्बत के हालात के लिए’’ नेहरू को जिम्मेदार बताया गया था। ‘कांग्रेस दर्शन’ के एक अन्य आलेख में पार्टी अध्यक्ष सोनिया के पिता स्टीफेनो मायनो को पूर्व ‘‘फासीवादी सैनिक’’ बताया गया था।

इस मामले में निरूपम की ओर से माफी मांग लिए जाने के बाद भी उन्हें नोटिस जारी किया गया है। उस वक्त कांग्रेस ने भी ‘‘निष्क्रिय’’ हो चुके अपने मुखपत्र से पल्ला झाड़ लिया था। पत्रिका के संपादकीय विषय-वस्तु के प्रभारी सुधीर जोशी को आलेखों के सार्वजनिक हो जाने के बाद बर्खास्त कर दिया गया था।

कांग्रेस ने पहले यह भी कहा था कि पार्टी ने निरूपम को मुंबई कांग्रेस का प्रमुख नियुक्त किया था, न कि किसी पत्रिका का संपादक। हाल ही में अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के महासचिव गुरूदास कामत सहित मुंबई कांग्रेस के कुछ नेताओं ने सोनिया से मुलाकात कर मामले की शिकायत की थी।

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के 15 और 16 जनवरी को होने वाले मुंबई दौरे से कुछ दिनों पहले निरूपम को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। रविवार को यूरोप यात्रा से वापस आए राहुल अपने दो दिन के दौरे के दौरान मुंबई कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं के साथ बैठक करने वाले हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.