ताज़ा खबर
 

कर्नाटक के बाद कांग्रेस का ‘मिशन टू’- दो चुनावी राज्यों में ऐसे करेगी बीजेपी की घेराबंदी, जातीय लामबंदी 

हाल के दिनों में देशभर में कई जगह दलित अत्याचार की खबरें आई हैं। मध्य प्रदेश और राजस्थान में भी ऐसी खबरें आई हैं। लिहाजा पार्टी दलितों को बीजेपी के खिलाफ लामबंद करने की योजना इन दोनों राज्यों में बना रही है ताकि उसे विधान सभा चुनाव में भुनाया जा सके।

इस साल दूसरे चुनावी मिशन पर कांग्रेस राजस्थान और मध्य प्रदेश में ‘संविधान बचाओ’ अभियान और दलितों के बीच अपनी पैठ बढ़ाने के लिये कार्यक्रम शुरू करने जा रही है। (फोटो-PTI)

कर्नाटक चुनाव के बाद कांग्रेस ने अगले पड़ाव की रणनीति बना ली है। इस साल दूसरे चुनावी मिशन पर पार्टी जल्द ही राजस्थान और मध्य प्रदेश में ‘संविधान बचाओ’ अभियान और दलितों के बीच अपनी पैठ बढ़ाने के लिये कार्यक्रम शुरू करने जा रही है। इन दोनों राज्यों में इसी साल के अंत तक विधान सभा चुनाव होने वाले हैं। कांग्रेस सूत्रों के मुताबिक कर्नाटक विधानसभा चुनावों के बाद दोनों राज्यों में यह कार्यक्रम शुरू किया जाएगा। कांग्रेस इस दौरान संविधान और दलितों पर हुये हमलों को रेखांकित करेगी। कर्नाटक में 12 मई को चुनाव होने हैं। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में 23 अप्रैल को शुरू किये गए इस अभियान का उद्देश्य भाजपा के शासन के दौरान संविधान और दलितों, अन्य पिछड़े वर्गों और अल्पसंख्यकों पर हुये कथित हमलों के मुद्दे को उठाना था।

मध्य प्रदेश में भाजपा पिछले 15 सालों से शासन में है। तेरह सालों से शिवराज सिंह चौहान मुख्यमंत्री हैं। वर्ष 2013 में हुये चुनावों में राज्य की 230 सदस्यीय विधानसभा में भाजपा को 165 सीटें हासिल हुई थीं। कांग्रेस के खाते में सिर्फ 58 सीटें आई थीं। भाजपा ने राजस्थान में वर्ष 2013 में हुये चुनावों में भारी सफलता हासिल की थी। उसे राज्य की 200 में से 163 विधानसभा सीटों पर जीत मिली थी। कांग्रेस के खाते में सिर्फ 21 सीटें आई थीं। मध्यप्रदेश में अनुसूचित जाति के लिये आरक्षित 35 सीटों में से भाजपा ने दो तिहाई पर अपना कब्जा जमाया था। कांग्रेस को ऐसी महज चार सीटें मिली थीं। वहीं राजस्थान में वर्ष 2013 में अनुसूचित जाति के लिये आरक्षित 33 सीटों में से भाजपा ने 31 सीटें जीती थीं।

HOT DEALS
  • Sony Xperia XZs G8232 64 GB (Warm Silver)
    ₹ 34999 MRP ₹ 51990 -33%
    ₹3500 Cashback
  • Honor 9 Lite 64GB Glacier Grey
    ₹ 15220 MRP ₹ 17999 -15%
    ₹2000 Cashback

सूत्रों ने कहा, ‘‘इस साल के अंत तक जब दोनों राज्यों में चुनाव होंगे तो स्थिति ऐसी नहीं रहने वाली। कांग्रेस प्रभावशाली प्रदर्शन करेगी। आरक्षित सीटों पर ध्यान होगा।’’ बता दें कि कांग्रेस ने अपने मिशन वन के तहत गुजरात में बेहतर परफॉर्मेन्स किया था। हालांकि, उसकी सरकार नहीं बन पाई लेकिन 2012 के मुकाबले कांग्रेस ने ज्यादा सीटें हासिल कीं जबकि बीजेपी दो अंकों में सिमट कर रह गई। बीजेपी को 16 सीटों का नुकसान उठाना पड़ा था। कांग्रेस गुजरात के बाद मौजूदा मिशन कर्नाटक में जुटी है। इसके बाद राजस्थान और मध्य प्रदेश में जमीनी स्तर पर अभियान चलाएगी। हाल के दिनों में देशभर में कई जगह दलित अत्याचार की खबरें आई हैं। मध्य प्रदेश और राजस्थान में भी ऐसी खबरें आई हैं। लिहाजा पार्टी दलितों को बीजेपी के खिलाफ लामबंद करने की योजना इन दोनों राज्यों में बना रही है ताकि उसे विधान सभा चुनाव में भुनाया जा सके।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App