ताज़ा खबर
 

महाराष्ट्र गठबंधन में नई रारः कांग्रेस-एनसीपी नेताओं ने किया उद्धव के कार्यक्रम का बहिष्कार, जानें क्यों मचा बवाल

रकार संचालन के लिए महाविकास अघाड़ी नाम की एक समिति का गठन किया गया है, ताकि समन्वय बना रहे। लेकिन इसके बावजूद स्थिति नियंत्रण से बाहर दिख रही है। ताजा विवाद भूमिपूजन-लोकार्पण कार्यक्रम की निमंत्रण पत्रिका और विज्ञापन में नेताओं के नाम नहीं होने को लेकर हुआ है।

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे, बेटे आदित्य ठाकरे। (एक्सप्रेस फोटो)

महाराष्ट्र में विरोधी विचारधाराओं के मेल से बनी गठबंधन सरकार में हर दिन तकरार के मामले सामने आ रहे हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक अब कांग्रेस और एनसीपी के नेताओं ने शिवसेना प्रमुख और मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के कार्यक्रम का बहिष्कार करने का फैसला लिया है। तीनों दलों के बीच तालमेल में कमी की बात लगातार सामने आ रही है। उद्धव को बीएमसी के कुछ निर्माण कार्यों का शुभारंभ करना था।

विज्ञापन में नाम से शुरू हुआ बवालः सरकार संचालन के लिए महाविकास अघाड़ी नाम की एक समिति का गठन किया गया है, ताकि समन्वय बना रहे। लेकिन इसके बावजूद स्थिति नियंत्रण से बाहर दिख रही है। ताजा विवाद भूमिपूजन-लोकार्पण कार्यक्रम की निमंत्रण पत्रिका और विज्ञापन में नेताओं के नाम नहीं होने को लेकर हुआ है। इसमें बीएमसी की कई समितियों के अध्यक्षों के नाम नहीं हैं। इससे नाराज होकर बीएमसी में कांग्रेस के नेता विपक्ष रवि राजा, समाजवादी पार्टी के रईस शेख और एनसीपी की राखी जाधव ने उद्धव ठाकरे के कार्यक्रम का बहिष्कार करने का फैसला किया है। नाराज नेताओं ने महापौर किशोरी पेडणेकर को इस संबंध में पत्र भी लिखा है।

Hindi News Live Hindi Samachar 26 January 2020: देस-दुनिया की तमाम बड़ी खबर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करे

इन कार्यक्रमों का हुआ बहिष्कारः उद्धव ठाकरे को रविवार (26 जनवरी) को मुंबई महानगर पालिका के महालक्ष्मी इलाके में स्थित दो ओवर ब्रिज, लोअर परेल के एक ओवर ब्रिज, फ्री बर्ड कॉरिडोर आदि का शुभारंभ करना है। मुंबई में 64 स्थानों पर मियावाकी पद्धति से पौधे लगाए जाएंगे। इन्हीं कार्यक्रम के पोस्टर को लेकर कांग्रेस-एनसीपी के नेता उनसे नाराज हो गए।

लगातार जारी है तकरारः गौरतलब है कि बीते दिनों शिवसेना नेता संजय राउत के बयानों के चलते भी कांग्रेस ने नाराजगी जाहिर की थी। राउत ने पहले पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को लेकर विवादित बयान दिया था, जिस पर कांग्रेस भड़क गई थी। इसके बाद तीखी प्रतिक्रियाओं का दौर थमा भी नहीं था कि राउत ने सावरकर को लेकर बयान दे डाला।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 खूंखार बाघिन की शिकार बनी जंगल से लकड़ी लेने गई महिला, दो हफ्तों में भी नहीं पकड़ पाई वन विभाग की टीम
2 Shaheen Bagh में फहराया गया तिरंगा, गणतंत्र दिवस पर प्रदर्शनकारियों ने CAA-NRC के खिलाफ बुलंद की आवाज; देखें VIDEO
3 पोलियो की दवा पिलाने गई थी टीम, लोगों ने NRC वाले समझ बंधक बनाया और धुन डाला
ये पढ़ा क्या?
X