ताज़ा खबर
 

‘असम अब नया कश्मीर बन गया है’, नागरिकता कानून पर हिंसा और उग्र प्रदर्शन को लेकर कांग्रेस ने भाजपा पर लगाया आरोप

अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि "असम देश के लिए रणनीतिक रुप से काफी अहम है। एक तरफ कश्मीर घाटी है और दूसरी तरफ 'नया कश्मीर' असम, दोनों देश के लिए गंभीर चिंता के रुप में उभरे हैं।"

Author Edited By नितिन गौतम नई दिल्ली | Updated: December 15, 2019 8:41 PM
असम मे हिंसा के दौरान सड़क पर आगजनी (फोटो सोर्स – इंडियन एक्सप्रेस)

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अधीर रंजन चौधरी ने रविवार को अपने एक बयान में कहा कि असम अब ‘नया कश्मीर’ बन गया है। चौधरी ने असम की ‘रणनीतिक अहमियत’ की ओर इशारा करते हुए ये बात कही। बता दें कि नागरिकता संशोधन एक्ट के खिलाफ देश के कई राज्यों में खासकर उत्तर पूर्वी राज्यों में विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं।

एएनआई के साथ बातचीत में अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि “यह चिंता की बात है कि पूरा उत्तर पूर्वी क्षेत्र, खासकर असम हिंसा की चपेट में है, जो कि देश की सुरक्षा और बचाव के लिए चिंता की बात है।” लोकसभा में विपक्ष के नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि “असम देश के लिए रणनीतिक रुप से काफी अहम है। एक तरफ कश्मीर घाटी है और दूसरी तरफ ‘नया कश्मीर’ असम, दोनों देश के लिए गंभीर चिंता के रुप में उभरे हैं।”

बता दें कि नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में असम में हिंसा हुई। प्रदर्शनकारियों ने हिंसा के दौरान कई जगह आगजनी और तोड़फोड़ की। सुरक्षाबलों के साथ झड़प में 27 प्रदर्शनकारी घायल हुए, जिनमें से 5 प्रदर्शनकारियों ने दम तोड़ दिया है।

नागरिकता संशोधन कानून के तहत सरकार बांग्लादेश, अफगानिस्तान और पाकिस्तान से आने वाले हिंदू, पारसी, सिख, जैन, ईसाई और बौद्ध शरणार्थियों को नागरिकता देगी। इस कानून से मुस्लिम समुदाय के लोगों को बाहर रखा गया है, जिसके खिलाफ भी लोगों में नाराजगी है। वहीं असम और नॉर्थ ईस्ट के अन्य राज्यों में CAA के विरोध का कारण राज्यों के लोगों को अपनी सांस्कृतिक पहचान को खतरा महसूस हो रहा है। जिसकी वजह से वह इस कानून का विरोध कर रहे हैं।

हालांकि सरकार का कहना है कि राज्य के लोगों की सांस्कृतिक पहचान पहले की तरह ही सुरक्षित रहेगी। सरकार की तरफ से लोगों को हिंसा में शामिल ना होने और गुमराह करने वाले लोगों से दूर रहने की अपील की है।

असम के बाद अब पश्चिम बंगाल में भी CAA का विरोध तेज हो गया है। इसके चलते बंगाल में विरोध प्रदर्शन उग्र हो गए हैं। हिंसक प्रदर्शनों को देखते हुए बंगाल की सरकार ने रविवार को कई इलाकों में इंटरनेट सेवा बर्खास्त कर दी। कांग्रेस ने इस मुद्दे पर सरकार को घेरते हुए कहा है कि एनडीए सरकार देश को तोड़ने का प्रयास कर रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 नागरिकता कानून में संशोधन के खिलाफ दिल्ली में भड़का आक्रोश, प्रदर्शनकारियों ने फूंक दी तीन बसें
2 नागरिकता कानून के विरोध को लेकर दिल्ली में उग्र हुआ प्रदर्शन, जामिया नगर में तीन बसें फूंकी
3 झारखंड रैली के दौरान पीएम नरेंद्र मोदी ने असम के लोगों को कहा शुक्रिया, हिंसा के लिए विपक्ष को दिया दोष
ये पढ़ा क्‍या!
X