ताज़ा खबर
 

मोदी सरकार की आंखों का पानी मर गया, ऑक्सीजन पर बोले राजस्थान के मंत्री तो भड़के भाजपा नेता

टीवी डिबेट में एंकर ने पूछा- अगर राज्यों के आंकड़ों से केंद्र अपनी बात सदन के पटल पर रख रही है, तो राहुल गांधी को वो सरकार झूठी क्यों नजर आती है? तो राजस्थान सरकार में मंत्री ने भाजपा को घेरा।

Edited By कीर्तिवर्धन मिश्र नई दिल्ली | Updated: July 22, 2021 3:59 PM
टीवी डिबेट के दौरान ऑक्सीजन की कमी से हुई मौतों के मुद्दे पर उलझे राजस्थान कांग्रेस के मंत्री प्रताप खचरियावास और मध्य प्रदेश भाजपा नेता विश्वास सारंग।

केंद्रीय स्वास्थ्य राज्यमंत्री भारती पवार की ओर से राज्यसभा में ऑक्सीजन की कमी से हुई मौतों पर दिए गए बयान को लेकर विवाद जारी है। दरअसल, मंत्री ने कहा था कि राज्यों-UT की तरफ से इस बारे में कोई विशेष डेटा नहीं भेजा गया, इसलिए केंद्र के पास इसके आंकड़े मौजूद नहीं हैं। इसी को लेकर जहां राज्यों ने ऐसा डेटा जुटाने से या तो इनकार किया है या ऑक्सीजन की कमी से किसी मौत से ही इनकार कर दिया। इसी मुद्दे पर जब एक टीवी डिबेट में एंकर ने कांग्रेस नेता से सवाल पूछा तो उन्होंने भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि मोदी सरकार की आंखों का पानी मर गया है।

क्या था एंकर का सवाल?: जब एंकर ने राजस्थान सरकार के मंत्री प्रताप खचरियावास से पूछा कि आपके राज्य के स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा जी कहते हैं कि हमारे अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी से लोगों की मौतें नहीं हुईं। तो अगर राजस्थान में मौतें नहीं हुईं, छत्तीसगढ़ में मौतें नहीं हुईं। तो अगर इन्हीं राज्यों के आंकड़ों से अगर केंद्र अपनी बात सदन के पटल पर रख रही है, तो राहुल गांधी को वो सरकार झूठी क्यों नजर आती है?

क्या बोले कांग्रेस नेता?: इस पर प्रताप खचरियावास ने कहा, “राहुल गांधी ने बिल्कुल सही कहा। संवेदनशीलता और सत्य की कमी थी केंद्र सरकार की आंखों में। केंद्र की आंखों का पानी मर गया। पूरा देश देख रहा है। लोगों की आंखों के आंसू नहीं दिखाई दे रहे है इन्हें। राजस्थान भाजपा ने खुद कहा था कि ऑक्सीजन नहीं आ रही अस्पतालों में, हमारे अस्पताल बंद हो रहे हैं। सारे अस्पताल भर गए थे। आपने कहां रिपोर्ट मांगी अस्पतालों से लिखित में कि आपके यहां ऑक्सीजन की कमी थी, उससे कितनी मौतें हुईं। ये आंकड़ा तो इन्होंने ही घुमा-फिरा के पेश किया।”

इसके बाद खचरियावास ने कहा कि राजस्थान को ऑक्सीजन कम मिल रही थी, ये बात भाजपा के नेता भी कह रहे थे। पूरा देश देख रहा था कि ऑक्सीजन की कमी से देश में मौतें हुईं। इसके लिए भाजपा नेता जिम्मेदार हैं। लोकसभा में जो बयान दिया है भाजपा नेता ने, वो ये समझ लें कि वो देश का स्वास्थ्य मंत्री है। वो लोगों के प्रतिनिधि के तौर पर जवाब दे रहे हैं। उनको शर्म आनी चाहिए, पूरी बहस को भाजपा-कांग्रेस में बांट दिया उन्होंने।

भाजपा नेता बोले- राज्य अपनी जिम्मेदारी से मुंह नहीं फेर सकते: इस पर मध्य प्रदेश सरकार में मंत्री विश्वास सारंग भड़क गए। उन्होंने कहा कि मेरा निवेदन है कि राजस्थान और दिल्ली की सरकार बता दें कि ऑक्सीजन स्टोर करने के लिए इनका क्या प्लान रहा था। इन्होंने ऑक्सीजन मुहैया कराने के लिए क्या किया? निश्चित तौर पर इन्हें मानना पड़ेगा कि स्वास्थ्य राज्य का सब्जेक्ट है। अपनी जिम्मेदारी से हम इस तरह मुंह नहीं मोड़ सकते।

विश्वास सारंग ने आगे कहा, “इस महामारी के समय अगर किसी ने सबसे ज्यादा डर पैदा किया, तो वह अरविंद केजरीवाल और आम आदमी पार्टी की दिल्ली सरकार ने किया। झूठ और फरेब फैलाते हैं। ये दुर्भाग्यपूर्ण है कि इस महामारी के समय जब हमें मिलकर देश के लोगों की जान बचानी चाहिए, तो कांग्रेस और विपक्ष की जो सरकारें हैं, उन्होंने सिर्फ केंद्र सरकार पर ठीकरा फोड़ने का काम किया।”

Next Stories
1 भोपाल में दैनिक भास्कर के मालिक के घर पर इनकम टैक्स का छापा, सोशल मीडिया पर उबाल
2 दैनिक भास्कर, भारत समाचार चैनल पर छापेमारी को लेकर बरसा विपक्ष, कहा- इतना ही डरते हो तो कुर्सी पर क्यों…?
3 जब धीरूभाई को पड़ा था दिल का दौरा, कहानी बताते हुए भावुक हो गए थे मुकेश अंबानी
ये पढ़ा क्या?
X