ताज़ा खबर
 

PM की बदनामी को कांग्रेस ने बनाई ‘टूलकिट’- BJP के पात्रा का आरोप; Congress ने फर्जी बता कहा- दर्ज कराएंगे केस

उधर, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि मोदी सरकार नींद में है और उसे जागना जरूरी है।

बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस पर कांग्रेस पर महामारी के काल में भी सियासत करने का आरोप लगाया। (फाइल फोटोः पीटीआई)

भारतीय जनता पार्टी (BJP) की ओर से मंगलवार को कोरोना संकट को लेकर कांग्रेस (INC) पर निशाना साधा गया। पार्टी प्रवक्ता संबित पात्रा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कांग्रेस को गिद्ध करार दिया। साथ ही आरोप लगाया कि वह इस संकट काल में भी राजनीति करने से बाज नहीं आ रही है। कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की छवि को बदनाम करने के लिए टूलकिट बनाई है। हालांकि, कांग्रेस की तरफ से इस टूलकिट को फर्जी बताया गया। पार्टी के राजीव गौड़ा की ओर से कहा गया कि पार्टी जेपी नड्डा और संबित पात्रा के खिलाफ शिकायत दर्ज कराएगी।

पात्रा ने दावा किया कि कांग्रेस ने महामारी के समय ऐसे ही ‘‘टूलकिट’’ के जरिए सरकार के घेरने के लिए विभिन्न माध्यमों से देश में भ्रम की स्थिति पैदा कर राजनीतिक लाभ लेने की कोशिश की। उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘राहुल गांधी (पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष) ने महामारी को प्रधानमंत्री मोदी की छवि धूमिल करने के मौके के रूप में इस्तेमाल किया। कांग्रेस कार्यकर्ताओं को कोरोना के नये स्ट्रेन को मोदी स्ट्रेन का नाम देने का निर्देश दिया। विदेश पत्रकारों की मदद से भारत को बदनाम करने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ी गई।’’

पात्रा ने कहा कि कोरोना का जो नया स्ट्रेन आया है और उसे विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भी भारतीय स्ट्रेन कहने से मना कर दिया है लेकिन कांग्रेस इसे ‘‘इंडियन स्ट्रेन’’ और उससे भी आगे बढ़कर ‘‘मोदी स्ट्रेन’’ के नाम से प्रसारित करने में लगी है। उन्होंने कहा, ‘‘यह बहुत ही दुखद है। कहीं न कहीं देश को पूरे विश्व में अपमानित और बदनाम करने के लिए एक वायरस को भारत के नाम, प्रधानमंत्री के नाम पर प्रतिपादित करने की चेष्टा है। मुझे लगता है यह कांग्रेस पार्टी के असली चेहरे को दर्शाता है।’’

भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि आज वह दस्तावेज उनके हाथ आया है जिसके सहारे राहुल गांधी रोज सुबह उठकर रोज ट्वीट करते थे। उन्होंने दावा किया, ‘‘इस टूलकिट में कहा गया है कि प्रधानमंत्री मोदी को बार बार पत्र लिखें। आपने देखा होगा, कभी सोनिया जी चिट्ठी लिख रही हैं कभी कोई और लिख रहा है। ये सब ऐसे ही नहीं हो रहा है। सब कुछ एक डिजायन के तहत हो रहा है, जिसका ब्योरा इस टूलकिट में है।’’

पात्रा ने दावा किया कि इस टूलकिट के जरिए पीएम केयर्स के वेटिलेटर्स पर सवाल उठाने और सेंट्रल विस्टा परियोजना को ‘‘मोदी के निजी घर और महल’’ के रूप में प्रचारित करने का जिक्र किया गया है। उन्होंने कहा, ‘‘यहां तक कि कुंभ को सुप्रर स्प्रेडर के रूप में प्रचारित करने की बात की गई है। ईद और कुंभ की तुलना कर धर्म को बदनाम करने की कोशिश कांग्रेस ने की है। आप कुंभ को बदनाम करिए और ईद के विषय में कुछ मत कहिए। इस प्रकार की सोच भी हो सकती है क्या किसी की।’’

उन्होंने कहा कि राहुल गांधी जो ट्वीट करते हैं, आज उसका स्रोत सामने आया है। उन्होंने कहा, ‘‘वेंटिलेटर्स, टीकों कोविड प्रबंधन को लेकर जो नकारात्मक राजनीति आप फैलाते हैं, आज उसका स्रोत हमारे पास है। बहुत दुख के साथ हमें यह कहना पड़ रहा है कि यह जो कांग्रेस की गिद्धों की राजनीति है आज वह संपूर्ण रूप से उजागर हो गई है। हमें सोनिया जी से और राहुल जी से जवाब चाहिए।’’

वहीं, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने कहा कि मोदी सरकार नींद में है और उसे जागना जरूरी है। उन्होंने ट्वीट किया, “आने वाले समय में बच्चों को कोरोना से सुरक्षित करना होगा। पीडियाट्रिक स्वास्थ्य सुविधाएँ व वैक्सीन-इलाज के प्रोटोकॉल अभी से तैयार होने चाहिए। देश के भविष्य के लिए वर्तमान मोदी ‘सिस्टम’ को नींद से जगाना ज़रूरी है।”

क्या होती है है टूलकिट?: ‘‘टूलकिट’’ एक प्रकार का दस्तावेज होता है जिसमें अपने अभियान को आगे बढ़ाने के लिए बिंदुवार मुद्दे होते हैं। अपने अभियान को धार देने के लिए इन्हीं मुद्दों पर विरोधियों को घेरने के लिए प्रचार-प्रसार किया जाता है। हाल ही में किसान आंदोलन के दौरान भी एक टूलकिट सामने आया था जिसकी काफी चर्चा भी हुई थी।

Next Stories
1 कोरोना काल में मरीजों के मसीहा बने पद्मश्री डॉ.केके अग्रवाल का देहांत; IMA बोला- दूसरी लहर में 270 चिकित्सकों की जा चुकी है जान
2 काशी के कोविड कमांड सेंटर पर रहती है PMO की निगाह, कहीं आती है अड़चन तो मोदी का दफ्तर बनाता है दबाव
3 कोरोना काल में NREGA के तहत बढ़ी काम की मांग, पर वक्त पर दिहाड़ी न मिलने से मजदूर परेशान, बोले- और दिन ऐसे न चल सकेगा काम
ये पढ़ा क्या?
X