ताज़ा खबर
 

दिग्विजय सिंह का विवादित बयान, कहा हिदुत्व कोई शब्द नहीं और न ही मैं मानता हूं

अपने बयानों के जरिए खबरों में चर्चा का विषय बने रहे वाले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने एक बार फिर विवादित बयान दिया है। उन्होंने कहा कि 'हिंदुत्व कोई शब्द नहीं है और न ही मैं हिंदुत्व को मानता हूं।'

Author नई दिल्ली | February 1, 2016 7:31 AM
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह का फाइल फोटो

अपने बयानों के जरिए खबरों में चर्चा का विषय बने रहे वाले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने एक बार फिर विवादित बयान दिया है। उन्होंने कहा कि ‘हिंदुत्व कोई शब्द नहीं है और न ही मैं हिंदुत्व को मानता हूं।’

दिग्विजय सिंह ने वाराणसी में पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि सनातन धर्म के अनुयायी के रूप में ही मैं अपना परिवार चलाता हूं लेकिन हिंदुत्व को नहीं मानता। आपको बता दें कि दिग्विजय सिंह वाराणसी स्थित विद्यामठ में शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती से मिलने पहुंचे थे। इसके बाद पत्रकारों से बातचीत के दौरान दिग्विजय ने खुद को सनातन धर्मी बताया।

इसी बीच जब पत्रकारों ने दिग्विजय से जब राम मंदिर के बारे में प्रश्न किए तो जबाव में उन्होंने कहा कि वह वाराणसी स्थित विद्यामठ में शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती से मिलने आए थे।

दिग्विजय ने राहुल गांधी का पक्ष लेते हुए कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के हैदराबाद यूनिवर्सिटी कैंपस में भूख हड़ताल पर बैठने की तारीफ की। उन्होंने कहा कि BJP और संघ ABVP के जरिए शिक्षण संस्थाओं पर कब्जा करना चाहते हैं। ये गरीब और दलित विरोधी हैं इसलिए राहुल के उपवास पर सियासत कर रहे हैं।

दिग्विजय सिंह ने महाराष्ट्र के शनि शिंगणापुर मंदिर में महिलाओं के पूजा करने पर रोक को भी गलत बताया। उन्होंने कहा कि किसी भी मंदिर में कोई रोक-टोक नहीं होनी चाहिए। महिला या पुरुष सभी मंदिर में जा सकते हैं। जिस किसी की भी आस्था धर्म में हो वह मंदिर जा सकता है।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App