ताज़ा खबर
 

भारत बुलाने से पहले हमने गरीबी छिपाई, पर हवा न छिपा सके…ट्रंप देशद्रोही हैं- बोले कांग्रेसी विजेंद्र सिंह, हुए ट्रोल

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की ओर से विकसित 'समीर' ऐप के अनुसार दिल्ली में 10 निगरानी केंद्रों में वायु गुणवत्ता सूचकांक ‘गंभीर’ श्रेणी में दर्ज किया गया है।

donald trump, vijender singhट्विटर पर कई यूजर्स ने ट्रोल करना शुरू कर दिया।

दिल्ली की प्रदूषित हवा को अमेरिका के राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप ने हाल ही में गंदा बता दिया है। US Presidential Debate के दौरान ट्रंप ने जलवायु परिवर्तन को लेकर कहा, “चीन को देखिए। कितना गंदा है। रूस को देखें। भारत को देखें। कितने गंदे हैं। वहां की हवा बहुत गंदी है।” अमेरिका के राष्ट्रपति के इस बयान के बाद अब देश में कई प्रतिक्रियाएं सामने आई हैं। ट्रंप के बयान को लेकर कांग्रेस नेता विजेंदर सिंह ने मोदी सरकार पर तंज कसा है। विजेंदर सिंह ने कहा कि ‘हमने आपको भारत बुलाने से पहले गरीबी छुपाई लंबी लंबी दीवारें बनवाई पर क्या करें हवा नहीं छिपा सके ट्रंप देशद्रोही है।’

लेकिन चुटीले अंदाज में सरकार पर तंज कसने वाले कांग्रेस नेता विजेंदर अपने इस बात को लेकर ट्विटर पर खुद ही ट्रोल हो गए। जगदीश नाम के एक ट्विटर यूजर ने लिखा कि ‘बिना दीमाग वाला ट्वीट, ट्रंप को कोई आइडिया नहीं है कि वो क्या बोल रहे हैं…चुनाव हारने के डर से वो घबरा गए हैं…सिर्फ आप जैसे लोग ऐसी बातों को उठाते हैं। एक अन्य यूजर ने लिखा कि ‘ट्रंप बाब के प्रिय मित्र ने हवा से पानी निकाल लिया ये उसी का गुस्सा निकाल रहे हैं।’

 

एन एस चौधरी नाम के एक ट्विटर यूजर ने लिखा कि ‘अबकी बार ट्रंप आएं तो विंड टर्बाइन से ऑक्सीजन निकालकर फेंकी जाए। आशुतोष शर्मा ने लिखा कि ‘सब कांग्रेस की ही देन है सोचो जरा’

आपको बता दें कि राष्ट्रीय राजधानी में कई क्षेत्रों में प्रदूषण का स्तर ‘गंभीर’ श्रेणी में पहुंचने के बाद शुक्रवार को वायु की गुणवत्ता में और भी गिरावट दर्ज की गई। शुक्रवार को वायु गुणवत्ता सूचकांक 374 दर्ज किया गया जो कि एक दिन पहले 302 था।

पृथ्वी विज्ञान की वायु गुणवत्ता निगरानी प्रणाली ‘सफर’ के मुताबिक दिल्ली में वायु गुणवत्ता सूचकांक ‘बेहद खराब’ श्रेणी में है। उल्लेखनीय है कि 0 और 50 के बीच एक्यूआई को ‘अच्छा’, 51 और 100 के बीच ‘संतोषजनक’, 101 और 200 के बीच ‘मध्यम’, 201 और 300 के बीच ‘खराब’, 301 और 400 के बीच ‘बेहद खराब’ और 401 और 500 ‘गंभीर’ माना जाता है।

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की ओर से विकसित ‘समीर’ ऐप के अनुसार दिल्ली में 10 निगरानी केंद्रों में वायु गुणवत्ता सूचकांक ‘गंभीर’ श्रेणी में दर्ज किया गया है। अलीपुर में यह सूचकांक 447, शादीपुर में 441, मुंडका में 419, वजीरपुर में 432, आनंद विहार में 405, बवाना में 413, विवेक विहार में 422, रोहिणी में 401, जहांगीरपुरी में 418 और पटपड़गंज में 405 दर्ज किया गया।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Coronavirus मरीज के फेफड़े बना देता है बेहद कठोर? ऑटोप्सी में बुजुर्ग के फेफड़े मिले लेदर की गेंद जितने सख्त
2 कभी घर से ही बिस्कुट बना बेचती थीं, आज हैं बड़ी MD, अब कंपनी ला रही 550 करोड़ का IPO; जानें रजनी बेक्टर्स की सक्सेस स्टोरी
3 डेटा प्रोटेक्शन बिलः Amazon ने संसदीय समिति के सामने पेश होने से किया इन्कार, FB की अंखी दास से दो घंटे तक पूछताछ- सूत्र
ये पढ़ा क्या?
X