ताज़ा खबर
 

कांग्रेस नेता संदीप दीक्षित ने सर्जिकल स्‍ट्राइक को बताया ‘नाटकीय प्रदर्शन’, बोले- इस सरकार के बस में नहीं सेना को सुरक्षित रखना

कांग्रेस नेता संदीप दीक्षित ने सर्जिकल स्‍ट्राइक को लेकर मोदी सरकार की कड़ी आलोचना की है।

Author नई दिल्‍ली | January 1, 2018 14:08 pm
कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता संदीप दीक्षित ने एक बार फिर से विवादास्‍पद बयान दिया है। (फोटो- ANI)

नेताओं की ओर से विवादास्‍पद बयान देने का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। केंद्रीय मंत्रियों और बीजेपी नेताओं के बाद अब विपक्षी दल कांग्रेस के नेता के विवादित बोल सामने आए हैं। कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता संदीप दीक्षित ने सर्जिकल स्‍ट्राइक को ‘नाटकीय प्रदर्शन’ बताया है। उन्‍होंने मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि सेनाओं को सुरक्षित रखना इस सरकार के बस की बात नहीं है। संदीप दीक्षित इससे पहले भी सेना से जुड़े विवादास्‍पद बयान दे चुके हैं, जिससे उनकी खुद की पार्टी ने किनारा कर लिया था।

संदीप दीक्षित ने अपने ताजा बयान में केंद्र सरकार पर निशाना साधा है। कांग्रेस नेता ने कहा, ‘एक बात तो साबित हो गई है कि सरकार की नीति खासकर सर्जिकल स्‍ट्राइक पर इनके जो नाटकीय प्रदर्शन रहे हैं, उसका कोई असर नहीं हो पाया है। हमें दूसरे तरीके से सोचना पड़ेगा। मुझे नहीं लगता कि सेनाओं को सुरक्षित रख पाना सरकार के बस की बात है।’ कांग्रेस नेता का यह बयान ऐसे समय आया है जब पुलवामा में आतंकियों ने सीआरपीएफ को निशाना बनाया है। इस हमले में पांच जवान शहीद हो गए हैं। घाटी में सुरक्षाबलों पर लगातार हमले हो रहे हैं। घाटी में सक्रिय आतंकियों को निष्क्रिय करने के लिए विशेष अभियान चलाया हुआ है। इसमें दर्जनों आतंकियों का सफाया किया जा चुका है।

संदीप दीक्षित ने इससे पहले जून 2017 में सेनाध्‍यक्ष की तुलना ‘गली के गुंडों’ से कर डाली थी। इसको लेकर काफी विवाद हो गया था। यहां तक कि कांग्रेस ने भी संदीप के बयान से किनारा कर लिया था। मालूम हो कि उड़ी में सैन्‍य अड्डे पर आतंकी हमले के बाद भारतीय जांबाजों ने पाकिस्‍तान में घुसकर आतंकियों के लांचिंग पैड को तबाह कर दिया था। इसमें गुलाम कश्‍मीर में सक्रिय आतंकियों को काफी नुकसान पहुंचाया गया था। कुछ दिनों पहले भारतीय जवान पाकिस्‍तान में घुसकर पाकिस्‍तानी जवानों पर हमला किया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App