ताज़ा खबर
 

कांग्रेस नेता सैफुद्दीन सोज बोले- UPA सरकार AFSPA हटाने को तैयार थी पर नहीं माने रक्षा मंत्री

पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस नेता सैफुद्दीन सोज ने जम्‍मू कश्‍मीर से आर्म्‍ड फोर्सेज स्‍पेशल(पावर) एक्‍ट(आफ्स्‍पा) हटाने की मांग की है। उन्‍होंने शनिवार को कहा कि जब यूपीए सरकार थी तब रक्षामंत्री को छोड़कर बाकी सभी आफ्स्‍पा को हटाने को राजी थे।

Author Updated: April 24, 2016 5:09 AM
Saifuddin soz, AFSPA, AFSPA in jammu kashmir, jammu kashmir, congres, UPA, kashmir AFSPA, armed forces special power actकांग्रेस नेता सैफुद्दीन सोज ने जम्‍मू कश्‍मीर की आजादी पर कहा, ‘मुशर्रफ का कहना था कि कश्मीरी पाकिस्तान के साथ नहीं जाना चाहते उनकी पहली पसंद आजादी है। यह बयान तब भी सही था और अब भी सही है।

पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस नेता सैफुद्दीन सोज ने जम्‍मू कश्‍मीर से आर्म्‍ड फोर्सेज स्‍पेशल(पावर) एक्‍ट(आफ्स्‍पा) हटाने की मांग की है। उन्‍होंने शनिवार को कहा कि जब यूपीए सरकार थी तब रक्षामंत्री को छोड़कर बाकी सभी आफ्स्‍पा को हटाने को राजी थे। उनका मानना था कि इसके चलते देश की बदनामी हुई है और इसकी जरूरत नहीं है। सोज ने कहा,’हकीकत में मैंने तत्‍कालीन गृह मंत्री पी चिदम्‍बरम से इस बारे में पूरी गंभीरता से बात की थी। चिदम्‍बरम ने मान लिया था कि इस कानून की बिलकुल जरूरत नहीं है। साथ ही इसके कारण देश की बदनामी हुई है। अपने सभी साथियों को आफ्स्‍पा हटाने के लिए मनाने के बावजूद चिदम्‍बरम रक्षा मंत्रालय को राजी नहीं कर पाए। इसका उन्‍हें मलाल है।’

उन्‍होंने कहा कि वह पिछले कई सालों से आफ्स्‍पा को हटाने की पैरवी कर रहे हैं। सोज ने कहा,’आज मेरा यह मानना है कि इस कानून के कारण कश्‍मीर में अलगाव बढ़ता है और गहरा होता है। मेरी इच्‍छा है कि दिल्‍ली के राजनेता इस बात को समझे कि यह कानून आइडिया ऑफ इंडिया के खिलाफ है। इसे जल्‍द से जल्‍द खत्‍म किया जाए।’ बता दें कि दो दिन पहले ही पूर्व मुख्‍यमंत्री और नेशनल कांफ्रेंस नेता डॉ. फारूक अब्‍दुल्‍ला ने भी आफ्स्‍पा को हटाने की मांग की थी। उन्‍होंने कहा था कि समय की जरूरत है कि आफ्स्‍पा हटाया जाए।

अब्‍दुल्‍ला ने केंद्र से कहा था कि कश्‍मीर में राजनीतिक अलगाववादिता केा दूर करने के लिए गंभीरता से प्रयास किए जाए। साथ ही राज्‍य के युवाओं में अखंडता और समन्‍वयता को बढ़ाया जाए। अनंतनाग में पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए अब्‍दुल्‍ला ने कहा,’बैरभाव को शत्रुता से दूर नहीं किया जा सकता।’ उन्‍होंने केंद्र सरकार से युवाओं में कमजोर हुए विश्‍वास को फिर से बढ़ाने के लिए अतिरिक्‍त प्रयास करने की मांग की।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 वाराणसी में कचहरी परिसर में ग्रेनेड मिलने से हड़कंप
2 कांग्रेस के 9 बागी विधायकों पर नैनीताल हाईकोर्ट में आज सुनवाई
3 यूपी चुनाव: नीतीश, मोदी को जिताने वाले प्रशांत किशोर ने बाहुबलियों से निपटने के लिए दिया कांग्रेस को नया मंत्र
ये पढ़ा क्या?
X