ताज़ा खबर
 

मोदी सरकार का ‘रिपोर्ट कार्ड’ दिखा बोले राहुल गांधी, भारत कोरोना मृत्यु दर में सबसे आगे, GDP दर में सबसे पीछे

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार देश में एक दिन में कोविड-19 के 45,576 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमण के मामले बढ़कर 89,58,483 हो गए।

Author नई दिल्ली | Updated: November 19, 2020 8:19 PM
कांग्रेस नेता राहुल गांधी।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुरुवार को दावा किया कि नरेंद्र मोदी सरकार का रिपोर्ट कार्ड यह है कि भारत कोरोना वायरस संक्रमण से संबंधित मृत्यु दर के मामले में कई एशियाई देशों से आगे है और विकास दर में पीछे है। उन्होंने जानेमाने अर्थशास्त्री कौशिक बसु द्वारा संग्रहित आंकड़े साझा करते हुए ट्वीट किया, ‘मोदी सरकार का रिपोर्ट कार्ड: कोरोना मृत्यु दर में सबसे आगे, जीडीपी दर में सबसे पीछे।’

कांग्रेस नेता ने जो आंकड़े साझा किए उसके मुताबिक, चीन, बांग्लादेश, इंडोनेशिया, पाकिस्तान और कई अन्य एशियाई देशों के मुकाबले भारत में कोरोना वायरस के कारण प्रति 10 लाख आबादी पर मरने वालों की संख्या ज्यादा है। इन आंकड़ों में यह भी दर्शाया गया है कि जीडीपी वृद्धि दर के मामले में भारत इन देशों से पीछे है।

उल्लेखनीय है कि देश में एक दिन में कोविड-19 के 45,576 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमण के मामले बढ़कर 89.58 लाख हो गए। वहीं 83.83 लाख से अधिक लोगों के संक्रमण मुक्त होने के साथ ही देश में मरीजों के ठीक होने की दर बढ़कर 93.58 प्रतिशत हो गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों में यह जानकारी दी गयी है।

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार देश में एक दिन में कोविड-19 के 45,576 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमण के मामले बढ़कर 89,58,483 हो गए। वहीं 585 और लोगों की मौत के बाद मृतकों की संख्या बढ़कर 1,31,578 हो गई। इसके अनुसार देश में लगातार नौवें दिन उपचाराधीन लोगों की संख्या पांच लाख से कम है।

आंकड़ों के अनुसार देश में अभी 4,43,303 लोगों का कोरोना वायरस का इलाज चल रहा है, जो कुल मामलों का 4.95 प्रतिशत है। देश में कुल 83,83,602 लोगों के संक्रमण मुक्त होने के साथ ही मरीजों के ठीक होने की दर 93.58 प्रतिशत हो गई। वहीं कोविड-19 से मृत्यु दर 1.47 प्रतिशत है। भारत में सात अगस्त को संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त को 30 लाख और पांच सितम्बर को 40 लाख के पार चली गई थी।

वहीं, कुल मामले 16 सितम्बर को 50 लाख, 28 सितम्बर को 60 लाख, 11 अक्टूबर को 70 लाख और 29 अक्टूबर को 80 लाख के पार चले गए थे। भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के अनुसार 18 नवम्बर तक कुल 12,85,08,389 नमूनों की कोविड-19 संबंधी जांच की गई, जिनमें से 10,28,203 नमूनों का परीक्षण बुधवार को ही किया गया।

आंकड़ों के अनुसार पिछले 24 घंटे में जिन 585 लोगों की मौत हुई, उनमें से दिल्ली के 131 लोग, महाराष्ट्र के 100, पश्चिम बंगाल के 54, पंजाब के 31, हरियाणा के 30, उत्तर प्रदेश के 29, केरल के 28, छत्तीसगढ़ के 23 और कर्नाटक के 21 लोग थे। मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार देश में वायरस से अभी तक कुल 1,31,578 लोगों की मौत हुई है। इनमें से महाराष्ट्र के 46,202 , कर्नाटक के 11,578 , तमिलनाडु के 11,531, दिल्ली के 7,943, पश्चिम बंगाल के 7,820, उत्तर प्रदेश के 7,441, आंध्र प्रदेश के 6,899, पंजाब के 4,541 और गुजरात के 3,823 लोग थे।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि जिन लोगों की मौत हुई , उनमें से 70 प्रतिशत से ज्यादा मामलों में मरीजों को अन्य बीमारियां भी थीं। मंत्रालय ने अपनी वेबसाइट पर बताया कि उसके आंकड़ों का आईसीएमआर के आंकड़ों के साथ मिलान किया जा रहा है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 आप देशभक्‍त हैं तो मेरी बात सुन‍िए- ड‍िबेट में संब‍ित पात्रा और राजदीप सरदेसाई में नोकझोक
2 जब कोविड केस बढ़ रहे थे तो ‘क्यों नहीं जागे’, लापरवाही पर दिल्ली सरकार को अदालत ने लगाई कड़ी फटकार
3 क्यों पाकिस्तान और फारूक अब्दुल्ला को देते हैं सफाई का मौका?, संबित तो पूछा सवाल तो राजदीप ने दिया यह जवाब
यह पढ़ा क्या?
X