ताज़ा खबर
 

किसानों को कर के जड़ से साफ, पूंजीपति ‘मित्रों’ का खूब विकास- शायराना अंदाज में कृषि बिल पर राहुल का तंज; कहा- मोदी जी की नीयत ‘साफ़’

राहुल ने इससे पहले एक ट्वीट में कहा था कि मोदीजी किसानों को पूंजीपतियों का गुलाम बना रहे हैं, जिसे देश कभी सफल नहीं होने देगा।

Author Edited By कीर्तिवर्धन मिश्र नई दिल्ली | Updated: September 22, 2020 3:35 PM
Rahul Gandhi, Congress, India, China, Ladakh,राहुल गांधी ने एक बार फिर कृषि विधेयक पर ट्वीट कर केंद्र सरकार पर निशाना साधा है। (फोटो- पीटीआई)

देशभर में कृषि विधेयकों को लेकर हंगामा मचा है। जहां किसान सड़कों पर प्रदर्शन के लिए उतर चुके हैं, वहीं संसद के दोनों सदनों में भी विपक्ष की तरफ से प्रदर्शन जारी है। इस बीच कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने शायराना अंदाज में केंद्र की एनडीए सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तंज कसा है। उन्होंने ट्वीट के जरिए आरोप लगाया है कि मोदी सरकार अब तक किसानों को स्वामीनाथन कमीशन वाला न्यूनतम समर्थन मूल्य देने का वादा पूरा कर पाई है। साथ ही 2020 में उसने किसानों के खिलाफ काला कानून पास कर दिया।

क्या कहा राहुल ने ट्वीट में?: गौरतलब है कि राहुल गांधी पिछले कई दिनों से कृषि विधेयक को लेकर मोदी सरकार पर निशाना साध रहे हैं। अपने ताजा ट्वीट में उन्होंने कहा, “2014- मोदी जी का चुनावी वादा किसानों को स्वामीनाथन कमिशन वाला MSP। 2015- मोदी सरकार ने कोर्ट में कहा कि उनसे ये न हो पाएगा। 2020- काले किसान कानून (कृषि विधेयक)।” राहुल यहीं नहीं रुके, उन्होंने आगे लिखा, ” मोदी जी की नीयत ‘साफ़’, कृषि-विरोधी नया प्रयास, किसानों को करके जड़ से साफ़, पूंजीपति ‘मित्रों’ का ख़ूब विकास।”

पहले भी कर चुके हैं हमला?: राहुल गांधी इससे पहले रविवार को भी कृषि विधेयक के विरोध में ट्वीट कर चुके हैं। उन्होंने बिल के राज्यसभा में पास कराए जाने के तरीके पर सवाल उठाते हुए लिखा था, “जो किसान धरती से सोना उगाता है, मोदी सरकार का घमंड उसे ख़ून के आंसू रुलाता है। राज्यसभा में आज जिस तरह कृषि विधेयक के रूप में सरकार ने किसानों के ख़िलाफ़ मौत का फ़रमान निकाला, उससे लोकतंत्र शर्मिंदा है।” इसके अलावा उन्होंने मोदी सरकार से पूछा था कि आखिर वे MSP की गारंटी क्यों नहीं ले रही। राहुल ने इस ट्वीट में कहा था कि मोदीजी किसानों को पूंजीपतियों का गुलाम बना रहे हैं, जिसे देश कभी सफल नहीं होने देगा।

कृषि विधेयक संसद से पास, पर विपक्ष का सदन में हंगामा बरकरार: बता दें कि कृषि विधेयक के संसद में पास हो जाने के बावजूद विपक्ष इसका लगातार विरोध कर रहा है। राज्यसभा में रविवार को कृषि क्षेत्र से जुड़े दो विधेयक पास होने के दौरान भी सदन में जमकर हंगामा हुआ था। इसके बाद उपसभापति वेंकैया नायडू ने विपक्षी सांसदों पर कार्रवाई करते हुए 8 सांसदों को एक हफ्ते के लिए निलंबित कर दिया। निलंबित राज्यसभा सांसद सोमवार से ही संसद भवन परिसर में धरने पर बैठे हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 चुनावी हलफनामे पर शरद पवार और CM उद्धव ठाकरे समेत 4 को IT का नोटिस, बोले- कुछ लोगों से केंद्र को है प्यार
2 कृषि बिलः सीट से ही दोनों हाथ उठा चिल्ला रहा था- चाहते हैं मत विभाजन, पर उपसभापति ने सुना तक नहीं- MP तिरुची सिवा ने सुनाई आपबीती
3 लोकतंत्र का चीरहरण मन में छाया रहा, नहीं सो सका पूरी रात…RS में बवाल पर उपसभापति का जज्बाती खत, बेकाबू बर्ताव के खिलाफ रखेंगे उपवास
यह पढ़ा क्या?
X