यूपी में चुनावी संग्राम, छत्तीसगढ़ के सीएम को साथ ले वाराणसी पहुंचीं प्रियंका गांधी, ‘किसान न्याय रैली’ से भरी हुंकार

वाराणसी में होने वाली यह रैली पहले 2 अक्टूबर को होने वाली थी लेकिन बाद में इसकी तारीख बदलकर 10 अक्टूबर कर दी गई। पहले इस रैली का नाम प्रतिज्ञा रैली रखा गया था जिसे अब बदलकर किसान न्याय रैली का नाम दिया गया है।

वाराणसी में होने वाली किसान न्याय रैली में शामिल होने के लिए प्रियंका गांधी रविवार को बाबतपुर हवाई अड्डे पर उतरीं। (फोटो: ट्विटर/ कांग्रेस)

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने रविवार को आगामी उत्तरप्रदेश विधानसभा चुनाव संग्राम के लिए प्रधानमंत्री मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी से चुनावी बिगुल फूंका। प्रियंका गांधी ने वाराणसी में कांग्रेस पार्टी द्वारा आयोजित किसान न्याय रैली को संबोधित किया। प्रियंका गांधी के साथ छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री व उत्तरप्रदेश के पर्यवेक्षक भूपेश बघेल और सांसद दीपेन्द्र हुड्डा भी रैली में मौजूद रहे। 

दिल्ली की सीमाओं पर चल रहे किसान आंदोलन और सुर्ख़ियों में बने लखीमपुर खीरी हिंसा के बीच प्रियंका गांधी वाराणसी में किसान न्याय रैली को संबोधित किया। इस दौरान प्रियंका गांधी ने लखीमपुर खीरी हिंसा को लेकर प्रधानमंत्री मोदी और भाजपा पर जमकर निशाना साधा. प्रियंका गांधी ने रैली को संबोधित करते हुए कहा कि यहां के मुख्यमंत्री उस गृह राज्य मंत्री का बचाव कर रहे हैं जिसका बेटा लखीमपुर खीरी की घटना में आरोपी  है। जो प्रधानमंत्री लखनऊ आ सकते थे वो उन किसानों के आंसू पोंछने के लिए दो घंटे की दूरी पर लखीमपुर नहीं जा सके।

प्रियंका गांधी ने यह भी कहा कि इस देश के गृह राज्य मंत्री के बेटे ने अपनी गाड़ी के नीचे 6 किसानों को निर्ममता से कुचल दिया और सब परिवार ये कहते हैं कि हमें मुआवजा नहीं न्याय चाहिए। लेकिन हमें न्याय दिलाने वाला इस सरकार में नहीं दिख रहा है। साथ ही उन्होंने कहा कि हमारे प्रधानमंत्री दुनिया के कोने-कोने तक घूम सकते हैं लेकिन अपने किसानों से बात करने के लिए अपने घर से मात्र 10 किलोमीटर दूर दिल्ली के बॉर्डर तक नहीं जा सकते?

वाराणसी में होने वाली यह रैली पहले 2 अक्टूबर को होने वाली थी लेकिन बाद में इसकी तारीख बदलकर 10 अक्टूबर कर दी गई। इस रैली का नाम प्रतिज्ञा रैली रखा गया था जिसे अब बदलकर किसान न्याय रैली का नाम दिया गया है। वाराणसी के रोहनिया के जगतपुर डिग्री कॉलेज के मैदान में होने वाली इस रैली के लिए शहर भर में होर्डिंग लगाई गई है जिसमें प्रियंका गांधी और राहुल गांधी नजर आ रहे हैं।

रविवार को होने वाली किसान न्याय रैली में शामिल होने के लिए प्रियंका गांधी करीब 11 बजे वाराणसी के बाबतपुर हवाई अड्डे पर उतरीं। इसके बाद उन्होंने वाराणसी के विश्वनाथ मंदिर में जाकर पूजा-अर्चना की। इसके बाद कांग्रेस महासचिव मां अन्नपूर्णा के मंदिर भी गई। प्रियंका गांधी इसके बाद दुर्गाकुंड इलाके में मां दुर्गा का दर्शन करने भी पहुंची और फिर रैली स्थल पर गईं। वाराणसी में होने वाली इस रैली में शामिल होने के लिए देशभर के दिग्गज कांग्रेसी नेता पहुंचे हैं।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट