ताज़ा खबर
 

मतदाताओं के व‍िवेक का तो सम्‍मान करो…केरल में राहुल गांधी के बयान पर कप‍िल स‍िब्‍बल की ट‍िप्‍पणी

कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने राहुल गांधी को सलाह दी है कि उन्हें वोटरो का सम्मान करना चाहिए। कांग्रेस नेता ने ये सलाह ऐसे समय में दी है जब राहुल गांधी ने उत्तर भारत को लेकर टिप्पणी की थी।

congress,Rahul Gandhiकांग्रेस नेता कपिल सिब्बल (Indian Express)।

कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने राहुल गांधी को सलाह दी है कि उन्हें वोटरो का सम्मान करना चाहिए। कांग्रेस नेता ने ये सलाह ऐसे समय में दी है जब राहुल गांधी ने उत्तर भारत को लेकर टिप्पणी की थी। केरल के वायनाड से सांसद राहुल गांधी के बयान को लेकर सियासी गलियारों में हंगामा मच गया है। राहुल गांधी ने उत्तर भारत को लेकर एक टिप्पणी की है। मामले में कपिल सिब्बल ने कहा कि देश के हर हिस्से के लोगों को मालूम होता है कि उन्हें अपने लिए क्या चुनना है। देश के हर हिस्से के लोग समझदार हैं।

कपिल सिब्बल ने कहा, ”बंटवारे की राजनीति तो भाजपा करती है। मतदाता चाहे उत्तर भारत का हो या फिर दक्षिण भारत का सभी मतदाताओं को वोट देने की समझ है। मैं कोई व्यक्तिगत टिप्पणी नहीं करना चाहता हूं। मतदाता कहीं का भी हो उसे इज्जत देनी चाहिए।” सिब्बल ने कहा कि सभी वोटरों का एक समान सम्मान किया जाना चाहिए। इससे पहले पार्टी के नेता आनंद शर्मा ने कहा था कि राहुल गांधी को अपने बयान को लेकर सफाई देने चाहिए। क्योंकि इससे लोगों के बीच भ्रम पैदा हो सकता है। मालूम हो कि सिब्बल और आनंद शर्मा उन नेताओं में शामिल हैं जिन्होंने पार्टी की कार्यशैली को लेकर सवाल किए थे और CWC में चुनाव करवाए जाने की मांग रखी थी।

इस बीच आनंद शर्मा और हरियाणा के पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा को पूर्व राज्यसभा सांसद गुलाम नबी आजाद के आवास से बाहर निकलते हुए देखा गया। सूत्रों के अनुसार, ये नेता राहुल गांधी की टिप्पणी से खुश नहीं हैं। सूत्रों ने कहा कि आनंद शर्मा ने पार्टी कैडर पर वायनाड सांसद की टिप्पणी और कांग्रेस की छवि को नुकसान पहुंचाने पर चर्चा की।

बता दें कि तिरुवनंतपुरम में अपनी जनसभा के दौरान राहुल गांधी ने अमेठी और वायनाड के अपने अनुभव की तुलना की। उन्होंने टिप्पणी की, “पहले 15 वर्षों के लिए, मैं अमेठी से सांसद था। मुझे एक अलग प्रकार की राजनीति की आदत हो गई थी। मेरे लिए, केरल आना बहुत रिफ्रेशिंग है क्योंकि मैंने पाया कि यहां के लोग मुद्दों में रुचि रखते हैं । मुद्दों के बारे में विस्तार से जानना चाहते हैं। ”

इस टिप्पणी के बाद भाजपा नेताओं और केंद्रीय मंत्रियों ने राहुल गांधी की कड़ी आलोचना की। केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने राहुल के बयान को “द्वेषपूर्ण” और “घृणित” बताया। उन्होंने कहा कि राहुल उत्तर और दक्षिण भारत के बीच विभाजन पैदा करना चाहते हैं। ईरानी ने कहा, “उनकी राजनीति यह है कि वह उत्तर भारत के लोगों का तिरस्कार करते हैं। उनकी राजनीति यह है कि वह गुजरात का तिरस्कार करते हैं और वह भारतीय सेना पर सवाल उठाएंगे और सबूत मांगेंगे?” कांग्रेस पार्टी देश के लोगों के खिलाफ नफरत और बदले की राजनीति करती है।

Next Stories
1 दीदी से छिटक सकता है मुस्लिम मतदाता, अब बंगाल के बड़े मुस्लिम नेता ने दिया ओवैसी को खुला समर्थन
2 UP: एंटी ‘लव जिहाद’ विधेयक पारित, विधानसभा ने ध्वनि मत से दी मंजूरी
3 किसानों की भलाई कर रही है मोदी सरकार, बोले अनुराग ठाकुर तो लोगों ने कर दिया ट्रोल
ये पढ़ा क्या?
X