RTI के जवाब में केंद्र सरकार ने कहा, हिंदुत्व को खतरा केवल ‘काल्पनिक’, दिग्विजय बोले- और मूर्ख बनने की जरूरत नहीं

एक RTI के जवाब में गृह मंत्रालय ने कहा है कि, हिंदुत्व को खतरा होने का कोई सबूत नहीं है, और ऐसे काल्पनिक सवालों के जवाब नहीं दिए जा सकते हैं। हम RTI के जरिए उन्हीं सवालों के जवाब दे सकते हैं जो हमारे अधिकार क्षेत्र में हैं।

Digvijaya Singh, Congress, Rahul Gandhi
कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह (फाइल फोटो)

कुछ समय पहले केंद्र सरकार से सूचना के अधिकार (RTI) के जरिए एक सवाल पूछा गया कि, देश में हिंदू धर्म के लिए खतरे को लेकर क्या सबूत है? इस सवाल के जवाब में मंत्रालय ने कहा, ‘हिंदू धर्म के लिए खतरा काल्पना मात्र है। इससे संबंधित कोई सबूत नहीं है।’ बता दें कि यह आरटीआई 31 अगस्त को नागपुर के मोहनीश जबलपुरे द्वारा दायर की गई थी। गृह मंत्रालय की तरफ से दिए गए जवाब पर कांग्रेस के दिग्गज नेता और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने ट्वीट के जरिए हिंदुवादी संगठनों को निशाने पर लिया है।

दिग्विजय सिंह ने ट्वीट में साधा निशाना : अपने ट्वीट में उन्होंने लिखा है कि, “मोदी के सभी भक्तों, आप सुन रहे हैं, अमित शाह के नेतृत्व में केंद्रीय गृह मंत्रालय क्या कह रहा है? अब और ज्यादा मूर्ख बनाना बंद करो।” दरअसल RTI के जवाब पर गृह मंत्रालय के केंद्रीय जन सूचना अधिकारी (सीपीआइओ) आंतरिक सुरक्षा वीएस राणा ने कहा है कि, ऐसे काल्पनिक सवालों के प्रति ना तो वो जागरुक हैं और ना ही इसके कोई सबूत नहीं है। उन्होंने कहा कि, RTI के जरिए हम उन्हीं सवालों के जवाब दे सकते हैं, जो हमारे पास उपलब्ध है या जो हमारे अधिकार क्षेत्र में आते हैं।

बता दें कि पिछले कुछ सालों में हिंदुवादी संगठनों द्वारा यह नैरेटिव तैयार किए जाने की कोशिश की गई कि देश में मुस्लिमों की बढ़ती आबादी के चलते हिंदू धर्म पर संकट खड़ा हो रहा है।

अक्सर चर्चा में रहते हैं दिग्विजय सिंह: माना जा रहा है कि दिग्विजय सिंह के इस नए ट्वीट से फिर से राजनीतिक माहौल गरम हो सकता है। दरअसल कांग्रेसी नेता दिग्विजय सिंह हिंदू विरोधी बयानों के चलते आए दिन हिंदुवादी संगठनों के निशाने पर बने रहते हैं। उनपर आरोप लगते रहते हैं कि वो मुस्लिम तुष्टीकरण की राजनीति के लिए हिंदू विरोधी बयान देते हैं। बाटला हाउस एनकाउंटर, हिंदू आतंकवाद, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ को लेकर उनके दिए गए बयान अक्सर उन्हें चर्चा में बनाए रखते हैं।

वैसे बीते कुछ सालों में यह भी देखा गया है कि हिंदुत्व को लेकर कांग्रेस ने सॉफ्ट हिंदुत्व की राजनीति अपनाई है। हालांकि इसके बाद भी वह भाजपा के निशाने पर बनी रहती है। अभी हाल ही में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक प्रबुद्ध सम्मेलन में कहा था कि जो एक्सिडेंटल हिंदू हैं, वही हिंदू धर्म के देवी-देवताओं पर टिप्पणी करते हैं। ऐसे लोग आपदा के समय में इटली भाग जाते हैं।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट