scorecardresearch

अपने मंत्रियों के लिए मोदी बनाएं ट्रोल मंत्रालयः कांग्रेस प्रवक्ता ने की मांग तो बीजेपी नेता ने राहुल पर कही ये बात

कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी से निवेदन है कि आधिकारिक तौर पर एक ट्रोल मंत्रालय बना ही दिया जाए। जिस जिस के सर पर तलवार लटक रही है वह छटपटाहट में ट्रोल बन गया है।

अपने मंत्रियों के लिए मोदी बनाएं ट्रोल मंत्रालयः कांग्रेस प्रवक्ता ने की मांग तो बीजेपी नेता ने राहुल पर कही ये बात
कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने प्रधानमंत्री मोदी से ट्रोल मंत्रालय बनाने की मांग की तो भाजपा प्रवक्ता गौरव भाटिया ने कहा कि सबसे ज्यादा ट्रोल होने वाले नेता राहुल गांधी हैं। (एक्सप्रेस फोटो/ अनिल शर्मा – ट्विटर/gauravbh)

नरेंद्र मोदी कैबिनेट के विस्तार की अटकलें तेज हो गई है। केंद्रीय मंत्रिमंडल में शामिल होने वाले कई संभावित चेहरों को दिल्ली भी बुलाया गया है। इसी मुद्दे पर एक टीवी डिबेट के दौरान कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने प्रधानमंत्री मोदी से मांग करते हुए कहा कि एक ट्रोल मंत्रालय भी बनाया जाए। कांग्रेस प्रवक्ता की इस बात का का जवाब देते हुए भाजपा प्रवक्ता गौरव भाटिया ने कहा कि सबसे ज्यादा ट्रोल होने वाले नेता तो राहुल गांधी हैं।

दरअसल आजतक न्यूज चैनल पर एंकर अंजना ओम कश्यप के टीवी डिबेट शो में कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी से निवेदन है कि आधिकारिक तौर पर एक ट्रोल मंत्रालय बना ही दिया जाए। जिस जिस के सर पर तलवार लटक रही है वह छटपटाहट में ट्रोल बन गया है। इसलिए एक ट्रोल मंत्रालय आधिकारिक रूप से बनाइए  और उनको ट्रोल मंत्रालय में शिफ्ट कर दीजिए। वह भी काम धाम में लगे रहे हैं और आपका भी काम चलता रहेगा।

कांग्रेस प्रवक्ता की इस बात का जवाब देते हुए भाजपा प्रवक्ता गौरव भाटिया ने कहा कि जब जब ये कहते हैं कि नए मंत्रालय बना लो तब ट्रोल मंत्रालय की बात करते हैं। भारत में सबसे ज्यादा ट्रोल होने वाले नेता तो राहुल गांधी हैं। आगे भाजपा प्रवक्ता ने एंकर अंजना ओम कश्यप से कहा कि मंत्रालय बढ़ तो जाएं लेकिन जो मंत्रालय वर्तमान में मौजूद हैं वो भी इन्हें याद नहीं रहते हैं। मत्स्य विभाग मंत्रालय तो राहुल गांधी को याद ही नहीं रहता है। अब अगर मंत्रालय को बढ़ा दिया जाएगा तो उनको और भी दिक्कत आएगी।

बता दें कि केंद्रीय मंत्रिमंडल में शामिल होने वाले कई संभावित चेहरों को दिल्ली बुलाया गया है। इनमें सर्वानंद सोनोवाल, वरुण गांधी, पंकज चौधरी, रीता बहुगुणा जोशी, सी पी जोशी, शांतनु ठाकुर, राहुल कस्वां और ज्योतिरादित्य सिंधिया का नाम शामिल है। इसके अलावा भाजपा नेता रमाशंकर कठेरिया के भी मंत्री बनने की संभावना है। वहीं महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री नारायण राणे भी मंत्री बन सकते हैं और वे भी दिल्ली पहुंच चुके हैं।  

 

इसके अलावा इस बार होने वाले मंत्रिमंडल विस्तार में भाजपा की सहयोगी पार्टियों को भी जगह मिल सकती है। अपना दल की अनुप्रिया पटेल, लोजपा के पशुपति कुमार पारस, जदयू के ललन सिंह और आरसीपी सिंह भी मंत्री बनाए जा सकते हैं और ये नेता भी दिल्ली पहुंच चुके हैं। 

पढें अपडेट (Newsupdate News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 06-07-2021 at 10:25:23 pm
अपडेट