ताज़ा खबर
 

राहुल गांधी ने फिर शेयर किया बांग्लादेश, अफगानिस्तान का आंकड़ा, देशों का नाम लिए बिना साधा मोदी सरकार पर निशाना

अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष ने अनुमान जताया था कि बांग्लादेश की प्रति व्यक्ति जीडीपी 2020 में 4 प्रतिशत की दर से बढ़ते हुए 1,888 डॉलर के लेवल पर पहुंच सकती है। वहीं भारत में प्रति व्यक्ति जीडीपी 10.5 फीसदी की गिरावट के साथ $1,877 तक रह सकती है।

rahul gandhi, IMF, gdp of india, economic growth in indiaराहुल गांधी ने वैश्विक भूख सूचकांक में पड़ोसी देशों से पिछड़ने पर भी मोदी सरकार को निशाने पर लिया था। (फाइल फोटो)

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष की रिपोर्ट के जरिये केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधा है। राहुल ने सोमवार को एक डेटा टेबल ट्वीट किया। डेटा टेबल में साल 2020 में भारत की जीडीपी में 10.3 फीसदी की गिरावट दर्शाई गई है।

टेबल में बांग्लादेश 3.8 फीसदी की विकास दर के साथ शीर्ष पर है। इसमें चीन दूसरे, वियतनाम तीसरे, नेपाल चौथे और पाकिस्तान 5वें स्थान पर है। टेबल में भारत 11वें स्थान पर है। टेबल में कोरोना से होने वाली मौतों का आंकड़ा भी दिया गया है। इसमें भी भारत में प्रति दस लाख की आबादी पर 83 मौत हैं जो टेबल में मौजूद अन्य पड़ोसी देशों की तुलना में बहुत अधिक है। चीन में प्रति दस लाख की आबादी पर महज 3 लोगों की मौत हुई है जबकि बांग्लादेश, नेपाल और पाकिस्तान में यह आंकड़ा क्रमशः 34, 25, और 30 है।

इससे पहले राहुल गांधी ने 14 अक्टूबर को भारत, बांग्लादेश और नेपाल की अर्थव्यवस्था की ग्रोथ का तुलनात्मक ग्राफ ट्वीट किया था। आईएमएफ के हवाले से ग्राफ में प्रति व्यक्ति जीडीपी दर्शाई गई थी। राहुल ने ट्वीट में लिखा था बांग्लादेश भारत को पीछे छोड़ने को तैयार।

पिछले सप्ताह ही अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष ने अनुमान जताया था कि बांग्लादेश की प्रति व्यक्ति जीडीपी 2020 में 4 प्रतिशत की दर से बढ़ते हुए 1,888 डॉलर के लेवल पर पहुंच सकती है। वहीं भारत में प्रति व्यक्ति जीडीपी 10.5 फीसदी की गिरावट के साथ $1,877 तक रह सकती है। रिपोर्ट में कहा गया था कि बीते 4 सालों में प्रति व्यक्ति जीडीपी के मामले में यह भारत का सबसे कमजोर प्रदर्शन होगा।

दोनों देशों की संभावित जीडीपी का यह अनुमान मौजूदा आंकड़ों के आधार पर जताया गया है। यदि ऐसा होता है तो प्रति व्यक्ति जीडीपी के मामरे में भारत दक्षिण एशिया में सिर्फ पाकिस्तान और नेपाल से ही होगा। इसके अलावा बांग्लादेश, भूटान, श्रीलंका और मालदीव जैसे देश भारत से आगे होंगे। बता दें कि 5 साल पहले तक भारत की प्रति व्यक्ति जीडीपी बांग्लादेश के मुकाबले 40 प्रतिशत अधिक थी।

इस बीच बांग्लादेश की प्रति व्यक्ति जीडीपी में 9.1 पर्सेंट की कंपाउंड एन्युअल ग्रोथ देखने को मिली है, जबकि भारत की ग्रोथ 3.2 पर्सेंट ही रही है। इसके चलते प्रति व्यक्ति जीडीपी के मामले में बांग्लादेश भारत के करीब आ गया है। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने वैश्विक भूख सूचकांक में भारत के अपने कई पड़ोसी देशों से पीछ रहने को लेकर शनिवार को केंद्र सरकार पर निशाना साधा था।

राहुल ने आरोप लगाया था कि यह सरकार अपने कुछ खास मित्रों की जेबें भरने में लगी हुई है जिस कारण देश का गरीब भूखा है। उन्होंने भूख सूचकांक से संबंधित एक ग्राफ शेयर करते हुए ट्वीट किया, ‘‘ भारत का ग़रीब भूखा है क्योंकि सरकार सिर्फ़ अपने कुछ ख़ास ‘मित्रों’ की जेबें भरने में लगी है।’’

खबरों में कहा गया था कि वैश्विक भूख सूचकांक 2020 के मुताबिक, दुनिया भर में भारत का 94वां स्थान है जबकि इंडोनेशिया, पाकिस्तान, नेपाल और बंगलादेश इसकी तुलना में कहीं बेहतर पायदान पर हैं। इंडोनेशिया 70, नेपाल 73, बांग्लादेश 75 और पाकिस्तान 88वें पायदान पर है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 J&K: 43 करोड़ की हेराफेरी केस में फारूख अब्दुल्ला से ED की पूछताछ, बोले- ये ‘प्रतिशोध की राजनीति’
2 फंड लेकर डकार लेने वाले 130 NGOs को काली सूची में डालेगी सरकार, 700 संगठनों के सर्वे के बाद कार्रवाई!
3 बलिया गोलीकांडः न दें दखल- ‘बड़बोले’ MLA सुरेंद्र सिंह को BJP चीफ जेपी नड्डा ने चेताया, भिजवाएंगे शो कॉज नोटिस
ये पढ़ा क्या?
X