ताज़ा खबर
 

बांग्लादेश कभी खुद था गरीब, अब भारत-PAK को छोड़ दिया पीछे! कांग्रेसी दिग्विजय बोले- मोदी जी, पड़ोसी से कुछ शिक्षा लो…

भारत 17 सतत विकास लक्ष्यों पर दो पायदान फिसलकर 117 वें रैंक पर पहुंचा। दिग्विजय सिंह ने ट्वीट करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है और उन्हें बांग्लादेश से सीख लेने की नसीहत दी है।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह (express file photo)

संयुक्त राष्ट्र के 193 सदस्य देशों की ओर से 2015 में 2030 एजेंडा के रूप में अपनाए गए 17 सतत विकास लक्ष्यों (एसडीजी) पर पिछले साल की तुलना में दो पायदान फिसलकर भारत 117 वे स्थान पर आ गया है। इसको लेकर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने एक ट्वीट किया है।

दिग्विजय सिंह ने ट्वीट करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है और उन्हें बांग्लादेश से सीख लेने की नसीहत दी है। कांग्रेस नेता ने लिखा “India and Pakistan Are Now Poorer Than Bangladesh – Bloomberg मोदी जी अपने पड़ोसी से कुछ शिक्षा लो। फ़िज़ूलख़र्ची बंद करो मज़दूरों को काम दो और सोशल सेक्टरों (सोशल मीडिया नहीं) शिक्षा व स्वास्थ्य सेवाओं पर अधिक खर्च करो।”

उनके इस ट्वीट पर यूजर्स ने उन्हें ट्रोल किया है। एक यूजर ने लिखा “आदरणीय राजा साहब मध्य प्रदेश के स्कूल अतिथि शिक्षकों का भविष्य सुरक्षित करवाने की कृपा करें धन्यवाद।” एक अन्य यूजर ने लिखा “बिल्कुल सही हिंदुस्तान पाकिस्तान के हालात कुछ ऐसे बदले नीति और नियत ऐसी बदली दोनों देश बहुत पीछे चले गए जब आगे बढ़ने का लक्ष्य ना हो सोच ही प्रतिगामी हो तरक्की कैसे होगी।”

एक यूजर ने लिखा “शिक्षा और समझदारी तो वह प्राप्त करते हैं जिनके पास बुद्धि और सोचने समझने की शक्ति हो। अनपढ़ ढोंगी और झूठ बोलने वालों के पास तो सिर्फ नफरत षड्यंत्र दगाबाजी ही मिलती है।” प्रकाश नाम के एक यूजर ने लिखा “आप को बांग्लादेश इतना पसंद है तो वहीं चले जाइए ना। वैसे भी यहा आप का कोई काम नहीं है।”

बता दें भारत में पर्यावरण की स्थिति रिपोर्ट 2021’ में सामने आया कि पिछले साल भारत का स्थान 115 था और अब वह दो स्थान और नीचे चला गया है। ऐसा मुख्यत: इसलिए हुआ है कि भुखमरी समाप्त करने और खाद्य सुरक्षा हासिल करने (एसडीजी2), लैंगिक समानता हासिल करने (एसडीजी पांच) और लचीली अवसंरचना का निर्माण, समावेशी एवं सतत औद्योगिकीकरण तथा नवोन्मेष को बढ़ावा देना (एसडीजी नौ) जैसी बड़ी चुनौतियां अब भी देश के सामने हैं।

इसमें बताया गया कि भारत का स्थान चार दक्षिण एशियाई देशों – भूटान, नेपाल, श्रीलंका और बांग्लादेश से नीचे है। भारत का कुल एसडीजी स्कोर 100 में से 61.9 है। राज्यवार तैयारियों के बारे में विस्तार से बताते हुए समाचार रिपोर्ट में कहा गया कि झारखंड और बिहार 2030 तक सतत विकास लक्ष्यों को पूरा करने के लिए सबसे कम तैयार हैं। झारखंड पांच लक्ष्यों में पीछे है जबकि बिहार सात में। इसमें कहा गया कि जो राज्य एवं केंद्रशासित प्रदेश अच्छे स्कोर के साथ इन लक्ष्यों को पाने की दिशा में आगे बढ़ रहे हैं वे हैं- केरल, हिमाचल प्रदेश और चंडीगढ़।

 

Next Stories
1 ‘हार से भी सीखिए’, चुनाव के मद्देनजर BJP नेताओं से बोले PM मोदी; मंथन के दौरान दिए ये सुझाव
2 कोरोनाः ‘जनसंहारी दौर’ का जिक्र कर बोले रवीश कुमार- लोग वहीं घूम-फिर कर पहुंच गए, कितने मरे किसी को पता नहीं
3 टीकों के अध्ययन में हुआ खुलासा, कोवैक्सीन की तुलना में कोविशील्ड टीके से बनती है ज्यादा एंटीबॉडी
ये पढ़ा क्या?
X