ताज़ा खबर
 

BJP की नाकामी को जिम्मेदार ठहराते कांग्रेस ने सरकार को घेर कर किया वाकआउट

राजस्थान में बढ़ती गैंगवार की घटनाओं पर विधानसभा में भारी हंगामा हुआ। कांग्रेस ने इस मसले पर भाजपा सरकार की नाकामी को जिम्मेदार ठहराते हुए विरोध में विधानसभा से वाकआउट किया।
राजस्थान विधानसभा

राजस्थान में बढ़ती गैंगवार की घटनाओं पर विधानसभा में भारी हंगामा हुआ। कांग्रेस ने इस मसले पर भाजपा सरकार की नाकामी को जिम्मेदार ठहराते हुए विरोध में विधानसभा से वाकआउट किया। शेखावाटी इलाके के दो अपराधी गिरोहों के बीच वर्चस्व की जंग से पुलिस की परेशानियां बढ़ गई हैं।

पुलिस हिरासत से फरार हुए गैंगस्टर आनंदपाल सिंह के विरोधी गिरोह राजू ठेठ गिरोह ने सोमवार देर रात नागौर जिले में पुलिस पर एके 47 से गोलिया बरसा दी थीं इससे एक जवान की मौत भी हो गई थी। इसी मसले पर मंगलवार को विधानसभा में दोनों पक्षों के बीच तीखी नोंकझोंक भी हुई।

राज्य विधानसभा में मंगलवार को प्रदेश में बढ़ते अपराधी गिरोहों के बीच मुठभेड़ का मामला गरमाया रहा। गृह मंत्री गुलाब चंद कटारिया ने बताया कि जयपुर में सोमवार को जिस लग्जरी कार से बदमाश फरार हुए वो प्रतिपक्ष के नेता रामेश्वर डूडी के चाचा की थी। इसी गाड़ी में सवार एक शार्प शूटर को पुलिस ने धर दबोचा था और उसकी सूचना पर ही फरार अपराधियों को पकड़ने के लिए प्रदेश भर में पुलिस ने तगड़ी नाकाबंदी की थी।

प्रतिपक्ष के नेता डूडी ने भी सदन में बताया कि बीकानेर के पास 27 फरवरी को बदमाशों ने उनके चाचा की कनपटी पर बंदूक तानकर गाड़ी लूट ली थी। इसकी सूचना पुलिस को भी दे दी गई थी। इसके बावजूद पुलिस ने कोई कारगर कार्रवाई नहीं। विधानसभा में दोनों पक्षों के बीच प्रदेश में बढ़ती गैंगवार की घटनाओं को लेकर आरोप प्रत्यारोप के दौर भी चले। गृह मंत्री के बयान से नाखुश प्रतिपक्षी दल कांग्रेस ने सदन से वाकआउट भी किया।

कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक प्रद्युमन सिंह और गोविंद सिंह डोटासरा का कहना था कि अपराधियों के पास अत्याधुनिक हथियार होना चिंता की बात है। सरकार को भी पुलिस को हथियार मुहैया कराने चाहिए। प्रतिपक्ष के नेता डूडी का कहना था कि सूचनाओं के बावजूद अपराधियों पर अंकुश नहीं लगना पुलिस की असफलता दर्शाता है।

उन्होंने प्रदेश में बढ़ती अपराधी गिरोहों की गतिविधियों पर लगाम लगाने में भाजपा सरकार की असफलता को जमकर कोसा। उनका कहना था कि सरकार की जानकारी और कड़ी नाकाबंदी के बावजूद अपराधी जयपुर से नागौर तक पहुंचने में कामयाब हो गए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.