ताज़ा खबर
 

सरदार पटेल का नाम मिटा कर आरएसएस पर बैन का बदला ले रही बीजेपी- स्टेडियम नरेंद्र मोदी के नाम पर करने पर कांग्रेस का वार

कांग्रेस नेता और छत्तीसगढ़ से मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इसे नरेंद्र मोदी के भूतपूर्व पीएम हो जाने का संकेत बताया है।

Narendra Modi Stadiumमोटेरा स्थित सरदार पटेल स्टेडियम का नाम अब नरेंद्र मोदी स्टेडियम कर दिया गया है। (फाइल)

गुजरात के मोटेरा स्टेडियम का नाम बदलकर नरेंद्र मोदी स्टेडियम करने पर सियासत तेज हो गयी है। कांग्रेस पार्टी ने इसे लेकर बीजेपी पर हमला बोला है। कांग्रेस नेता हार्दिक पटेल ने कहा है कि भारतीय जनता पार्टी सरदार पटेल का नाम मिटा कर आरएसएस पर बैन का बदला ले रही है। कांग्रेस के गुजरात प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष हार्दिक पटेल ने ट्वीट किया कि भारत रत्न, लोह पुरुष सरदार पटेल ने आरएसएस पर प्रतिबंध लगाया था और उसी कारण आरएसएस के चेले सरदार पटेल का नाम मिटाने का हर संभव प्रयास कर हैं। बाहर से मित्रता पर भीतर से बैर, यह व्यवहार भाजपा का सरदार पटेल से हैं। एक बात याद रखिएगा की सरदार पटेल का अपमान नहीं सहेगा हिंदुस्तान।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी और प्रियंका गांधी ने भी स्टेडियम के नाम बदले जाने का विरोध किया है। राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा कि सच कितनी खूबी से सामने आता है। नरेंद्र मोदी स्टेडियम, अडानी एंड,रिलायंस एंड जय शाह की अध्यक्षता में!,  वहीं प्रियंका गांधी ने बिना नरेंद्र मोदी का नाम लिए अपने ट्वीट में लिखा, “इस मिट्टी में कुछ अनूठा है, जो कई बाधाओं के बावजूद हमेशा महान आत्माओं का निवास रहा है।”

मोदी के भूतपूर्व होने का संकेत: कांग्रेस नेता और छत्तीसगढ़ से मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इसे नरेंद्र मोदी के भूतपूर्व पीएम हो जाने का संकेत बताया है। इसके लिए उन्होंने पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी का उदाहरण भी दिया। बघेल ने कहा कि यह भारतीय जनता पार्टी की परंपरा रही है। जब अटल जीवित थे तो छत्तीसगढ़ में चौक का नाम अटल चौक रखा गया था। इसके कुछ दिनों बाद वो प्रधानमंत्री नहीं रहें।

गौरतलब है कि अहमदाबाद में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने बुधवार को नए सिरे से तैयार किए गए मोटेरा स्टेडियम का उद्धाटन किया जो दुनिया का सबसे बड़ा और अत्याधुनिक क्रिकेट स्टेडियम है। इस स्टेडियम में एक लाख 32 हजार दर्शक बैठ सकते हैं।

राष्ट्रपति ने गृहमंत्री अमित शाह और खेलमंत्री किरेन रीजीजू समेत कई विशिष्ट अतिथियों की मौजूदगी में स्टेडियम का उद्धाटन किया। इससे पहले मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड दुनिया का सबसे बड़ा क्रिकेट स्टेडियम था।

 

Next Stories
1 चुनाव से पहले असम में बढ़ाया गया AFSPA, जानें इस कानून से सेना को मिलती हैं कितनी शक्तियां
2 हम तो सरकार से बात करने को तैयार हैं, किसान अब लुटेगा नहीं, बोले राकेश टिकैत
3 चीन पर आर्मी चीफ ने माना, दोनों तरफ से है विश्वास की कमी, कहा- देपसांग के लिए तैयार है प्लान
ये पढ़ा क्या?
X