ताज़ा खबर
 

कांग्रेस का आरोप, मोदी सरकार चला रही पेट्रोल-डीज़ल-गैस में लूट का खेल, चुपचाप बढ़ा दी कीमतें

सुरजेवाला ने दावा किया कि 73 सालों में पेट्रोल और डीजल अब तक के सबसे महंगे स्तर पर पहुंच गया है।

तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीकात्मक तौर पर किया गया है।

कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने पेट्रोल और डीजल की कीमत को लेकर मोदी सरकार पर करारा हमला बोला है। सुरजेवाला ने दावा किया कि 73 सालों में पेट्रोल और डीजल अब तक के सबसे महंगे स्तर पर पहुंच गया है। उन्होंने ट्वीट किया, ”73 साल में पेट्रोल-डीज़ल सबसे उच्चतम स्तर पर! आम जनता का बजट बिगड़ा,किसान-मज़दूर पर बोझ बढ़ा, खाने पीने की चीजें होंगी और महँगी, क्या यही हैं मोदी सरकार के “अच्छे दिन”? मोदी जी, देशवासियों की जेब लूटना बंद करें, पेट्रोल-डीज़ल की क़ीमत कम करें।’

एक अन्य ट्वीट में सुरजेवाला ने लिखा, ”मोदी जी न केवल पेट्रोल-डीज़ल की क़ीमत 73 साल में उच्चतम स्तर पर हैं। साथ ही साढ़े छ साल में आप पेट्रोल-डीज़ल पर टैक्स लगा ₹19,00,000 करोड़ देशवासियों की जेब से लूट चुके हैं। मई 2014 के बाद मोदी सरकार डीज़ल पर एक्साईज 820% व पेट्रोल पर 258% बढ़ा चुकी है।”

सुरजेवाला ने कहा कि आज कच्चे तेल का अंतर्राष्ट्रीय भाव 50.96 USD/बैरल है, जो डॉलर-रुपए भाव के अनुसार ₹ 3725.92 प्रति बैरल बनता है। 1 बैरल=159 लीटर। इसलिए कच्चे तेल का प्रति लीटर भाव 23.43 रु. बनता है। लेकिन लूट देखें-पेट्रोल का भाव ₹84.20 और डीज़ल ₹74.38 लीटर हो गया है।

उन्होंने कहा कि 26 मई 2014 को मोदी जी ने सत्ता संभाली। तब कच्चा तेल $108/बैरल यानी डॉलर-रुपया के भाव पर ₹6,330/बैरल था। जो अब $50.96/बैरल यानी ₹3,725.92/बैरल है। उस समय पेट्रोल-डीजल की क़ीमत ₹71.41 व ₹55.49/ लीटर थी। वहीं आज ₹84.20 व ₹74.38/लीटर है। ये है लूट का खेल !

सुरजेवाला ने ट्वीट किया कि मोदी सरकार मई 2014 में सत्ता में आई। तब पेट्रोल और डीजल पर उत्पाद शुल्क केवल ₹9.20/लीटर और ₹3.46/लीटर था। इसमें मोदी सरकार ने पेट्रोल पर ₹23.78/लीटर (258%) और डीजल पर ₹28.37/लीटर (820%) की बढ़ोतरी की। जनता की जेब से लूटे ₹19,00,000 करोड़। ये है लूट का खेल।

सरकार को घेरते हुए कांग्रेस नेता ने कहा कि सस्ता पेट्रोल-डीजल के वादे कर सत्ता पर काबिज हुई मोदी सरकार यदि पिछले 6.5 वर्षों के दौरान खुद के द्वारा बढ़ाए ‘उत्पाद शुल्क’ को ही वापस ले ले तो जनता का कल्याण हो जाएगा। तब पेट्रोल ₹60.42/लीटर व डीजल ₹46.01/लीटर हो सकते हैं। पर करेंगे नही। ये है लूट का खेल !

कांग्रेस नेता ने कहा कि मोदी सरकार मई 2014 में सत्ता में आई। तब सब्सिडी वाला सिलेंडर ₹412 का था, जिसे मोदी सरकार ने ₹694 कर दिया है यानी ₹ 282 प्रति सिलेंडर की वृद्धि ! कमाल की बात है मोदी सरकार ने इस भारी वृद्धि को गुपचुप लागू कर दिया। ये है पेट्रोल-डीज़ल-गैस की क़ीमतों में लूट का खेल।

Next Stories
1 किसान कर रहे ट्रैक्टर रैली का रिहर्सल, सुप्रीम कोर्ट ने सरकार से कहा- तबलीगी ज़मात के मरकज़ वाला हाल नहीं होना चाहिए
2 83 की उम्र में भी रतन टाटा को है कार चलाने, प्लेन उड़ाने और पढ़ने का शौक, बताया- पियानो बजाने में क्या आई मुश्किल…
3 गोहत्या से आता है भूकंप! कामधेनु आयोग की क्लास में बताई जा रही आइंस्टीन पेन वेव्स की थ्योरी
ये पढ़ा क्या?
X