ताज़ा खबर
 

महाराष्ट्र में कांग्रेस व राकांपा गठबंधन पर जल्द मुहर लगने के आसार

कांग्रेस नेताओं की मानें तो पार्टी महाराष्ट्र में स्वाभिमानी पक्ष जैसे कुछ छोटे दलों के साथ तालमेल पर विचार कर रही है।

सांकेतिक तस्वीर।

लोकसभा चुनाव में महाराष्ट्र में कांग्रेस व राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) का गठबंधन भाजपा-शिव सेना की जुगलबंदी के सामने भले नहीं टिक पाया हो, इसके बावजूद दोनों दलों ने सूबे का विधानसभा चुनाव भी मिलकर लड़ने का मन बना लिया है। दोनों दलों के नेताओं के बीच सीटों के बंटवारे को लेकर कई दौर की बातचीत हो चुकने के बाद मंगलवार को राकांपा प्रमुख शरद पवार ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से उनके निवास पर मुलाकात की। समझा जा रहा है कि दोनों दलों के शीर्ष नेताओं के बीच हुई इस मुलाकात में चुनावी गठबंधन पर सहमति बन गई है और दोनों दलों की ओर से जल्दी ही महाराष्ट्र में चुनावी गठबंधन की औपचारिक घोषणा की जाएगी।

सूत्रों ने बताया कि अभी तक कांग्रेस व राकांपा के नेताओं के बीच सीटों के तालमेल पर लेकर चर्चा हो रही थी। कौन सी पार्टी किस सीट से चुनाव लड़े, इसको लेकर मंथन चल रहा था। अब दोनों दलों के शीर्ष नेताओं की मुलाकात का मतलब यह है कि गठबंधन पर बात बन चुकी है, ज्यादातर सीटों पर तालमेल का फार्मुला भी तय कर लिया गया है और जल्दी ही दोनों दलों के नेता सूबे के विधानसभा चुनाव में मिलकर लड़ने का औपचारिक तौर पर एलान करेंगे।

महाराष्ट्र में कांग्रेस ने राकांपा के अलावा प्रकाश अंबेडकर की पार्टी के साथ भी चुनावी संभावनाओं की तलाश की थी। सूत्रों के मुताबिक दोनों दलों के नेताओं के बीच इस मुद्दे पर शुरुआती बातचीत भी हुई थी लेकिन सीटों के बंटवारे को लेकर बात बन नहीं पाई। कांग्रेस के कुछ नेता प्रकाश अंबेडकर से हाथ मिलाने की सिफारिश लोकसभा चुनाव में उनकी पार्टी द्वारा कांग्रेस को पहुंचा गए नुकसान के आधार पर कर रहे थे। कई सीटों पर कांग्रेस की पराजय की वजह उनकी वंचित बहुजन अघाड़ी रही। लेकिन बाद में सीटों पर बात नहीं बन पाई। अंबेडकर ने मंगलवार को मुंबई में कहा भी कि कांग्रेस भाजपा-शिव सेना को पराजित करना ही नहीं चाहती है। उन्होंने कांग्रेस से किसी गठबंधन से यह कहते हुए इनकार किया कि उनकी लाख कोशिशों के बावजूद कांग्रेस ने गठबंधन में रुचि नहीं दिखाई।

 

कांग्रेस नेताओं की मानें तो पार्टी महाराष्ट्र में स्वाभिमानी पक्ष जैसे कुछ छोटे दलों के साथ तालमेल पर विचार कर रही है। उन्होंने बताया कि कांग्रेस-राकांपा गठबंधन से पहले इन दलों से भी बातचीत को अंतिम रूप दिया जा रहा है। इस बीच मंगलवार को ज्योतिरादित्य सिंधिया की अगुआई में महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के लिए गठित की गई चयन समिति की बैठक दिल्ली में हुई। बैठक को लेकर पार्टी सूत्रों ने बताया कि इसमें पार्टी के संभावित उम्मीदवारों को लेकर आरंभिक बातचीत की गई। महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव अक्तूबर-नवंबर में प्रस्तावित है।
राज्य में विधानसभा की कुल 288 सीटें हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 टीवी डिबेट के दौरान भड़के पाकिस्तानी पत्रकार, बोले- क्या भारत में जो बच्चे पैदा होते हैं, उन्हें मोदी भक्त होने की कसम खिलाई जाती है?
2 IAS अधिकारी के इस्तीफे पर बोले बीजेपी नेता अनंत हेगड़े- पाकिस्तान चले जाओ
3 Ola, Uber को मंदी का कारण बताने पर ट्रोल हुईं वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण
ये पढ़ा क्या?
X