ताज़ा खबर
 

Delhi Assembly Polls 2020: प्रकाश जावडेकर का आरोप, शाहीन बाग आंदोलन के पीछे कांग्रेस और आप का हाथ

Delhi Assembly Polls 2020: जावडेकर ने कहा कि उस समय हमने कहा था कि ये हिंसा कांग्रेस और आम आदमी पार्टी ने की है।

Author नई दिल्ली | Updated: January 25, 2020 4:36 AM
दिल्ली की जनता को इनसे सवाल पूछना चाहिए कि हिंसा करने वालों ने किसकी संपत्ति जलाई है।

Delhi Assembly Polls 2020: भाजपा नेता व केंद्रीय पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावडेकर ने शुक्रवार को कहा कि गुरुवार को आप नेता अरविंद केजरीवाल व मनीष सिसोदिया ने जो बयान दिया है। उससे साफ हो गया है कि शाहीन बाग आंदोलन के पीछे आम आदमी पार्टी व कांग्रेस का हाथ है। उन्होंने कहा कि इस आंदोलन को एक माह हो गया है और पूरे माह दिल्ली में हिंसा हुई है। उन्होंने कहा कि अब जनता को इनसे पूछना चाहिए कि हिंसा में हुए नुकसान की भरपाई कौन करेगा।

जावडेकर ने कहा कि उस समय हमने कहा था कि ये हिंसा कांग्रेस और आम आदमी पार्टी ने की है। जामिया, सरिता विहार और जसोला की सड़कें बंद हैं। इन इलाकों में रहने वाले लोगों को खासी परेशानी है। दिल्ली की जनता को इनसे सवाल पूछना चाहिए कि हिंसा करने वालों ने किसकी संपत्ति जलाई है। उन्होंने आरोप लगाया कि हिंसा को भड़काने वाले को आम आदमी पार्टी ने टिकट दे दिया है। कांग्रेस के नेता वहां पहुंच कर गालियां दे रहे थे और उनके साथ नारे लगाए जा रहे हैं कि हमें जिन्ना वाली आजादी चाहिए।

अब दिल्ली की जनता को तय करना है कि उनको कौन सी आजादी चाहिए। उन्होंने कहा कि अब इन लोगों की वजह से बच्चों में नफरत भर रही है। हाल ही में एक वीडियो वायरल हो रहा है। जिसमें बच्चा कह रहा है कि वो मोदी और अमित शाह को मार देगा। उन्होंने कहा कि नया कानून पड़ोसी राज्यों से आए लोगों को नागरिकता देगा। वे पिछले 15 से 20 साल से हमारे देश मे आकर रह रहे हंै। उनको हम अधिकार दे रहे हंै, लेकिन कुछ लोग हैं जो ये कह रहे हैं कि बाहर से आने वाले लोगों को नौकरियां कैसे मिलेंगी।

’हरि नगर में शाहीन बाग नहीं बनने दूंगा’

भाजपा प्रत्याशी तजेंदरपाल सिंह बग्गा ने कहा कि आम आदमी पार्टी के नेता कह रहे हैं कि पूरी दिल्ली को शाहीन बाग बनाएंगे। मैं कहता हूं कि जब तक मैं हरि नगर विधानसभा क्षेत्र में हूं तब तक किसी की ताकत नहीं कि हरि नगर विधानसभा में कहीं पर भी शाहीन बाग बताया जा सके।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
ये पढ़ा क्या?
X